1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. ramgarh
  5. jharkhand lockdown chief minister gives orders for investigation in the case of harassment by calling corona infected officials reached murudih village of gola

Jharkhand Lockdown : कोरोना संक्रमित कह कर प्रताड़ित मामले में मुख्यमंत्री ने दिये जांच के आदेश, गोला के मुरुडीह गांव पहुंचे अधिकारी

By Panchayatnama
Updated Date
जांच-पड़ताल करने गोला के मुरुडीह गांव पहुंचे प्रखंड विकास पदाधिकारी व अन्य.
जांच-पड़ताल करने गोला के मुरुडीह गांव पहुंचे प्रखंड विकास पदाधिकारी व अन्य.

गोला (रामगढ़) : रामगढ़ जिला अंतर्गत गोला प्रखंड के मुरुडीह गांव में ग्रामीणों द्वारा एक परिवार पर कोरोना संक्रमित होने का आरोप लगा कर प्रताड़ित किया जा रहा था. इसकी जानकारी मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को ट्विटर के माध्यम से दी गयी. जहां बच्चों को खाना नहीं मिलने पर इनका रोते हुए वीडियो सीएम को ट्वीट किया गया था. सीएम ने इस मामले को संज्ञान में लेते हुए उपायुक्त को जांच करने और परिवार को सहायता पहुंचाने का निर्देश दिया. मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का निर्देश मिलते ही उपायुक्त के निर्देश पर गोला प्रखंड विकास पदाधिकारी (BDO) कुलदीप कुमार व थाना प्रभारी धनंजय प्रसाद मुरुडीह गांव पहुंचे और मामले की जांच-पड़ताल की. अधिकारियों ने पीड़ित परिवार से पूछताछ की.

प्रखंड विकास पदाधिकारी ने बताया कि गीता देवी के एक रिश्तेदार बाहर से काम करके वापस लौटा था, जिससे मिलने के लिए वह गयी हुई थी. वहां से लौटने के बाद गांव वालों ने उसके परिवार को स्वास्थ्य जांच कराने की सलाह दी थी. साथ ही लोग इस परिवार से दूरी बना कर रह रहे थे. इसे चापाकल से पानी लेने से भी मना किया गया. महिला ने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र गोला में जांच करायी. इसके बाद पूरे परिवार को होम क्वारेंटाइन किया गया है, लेकिन अब गांव वालों को समझा दिया गया है कि अब से कोई भी व्यक्ति उस परिवार को परेशान नहीं करेगा, जबकि थाना प्रभारी ने बताया कि मामले की जांच की जा रही है. उच्चाधिकारियों का निर्देश मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जायेगी.

क्या है मामला मुरुडीह गांव निवासी गीता देवी दूसरे प्रदेश से काम कर लौटे अपने भाई से मिलने के लिए गोला प्रखंड के ही महलीडीह गांव गयी थी. वहां से लौटने के बाद महिला एवं उसके पूरे परिवार को घर से बाहर निकलने और किसी से मिलने पर पाबंदी लगा दी गयी. इससे इस परिवार को खाने-पीने में भी दिक्कत हो रही थी. इसके बाद महिला अपने पति ईश्वर कुमार महतो और दोनों बच्चों के साथ 20 अप्रैल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र जाकर जांच करायी, जहां चारों को होम कवारेंटाइन में रहने का निर्देश दिया गया था. इसी कारण आस-पास के लोग इस परिवार से दूरी बना कर रह रहे थे.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें