1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. palamu
  5. world tourism day 2021 good news for tourists betla national park of jharkhand will open again after 176 days this is the preparation grj

World Tourism Day 2021: झारखंड पर्यटकों के लिए खुशखबरी, 176 दिनों बाद फिर खुल रहा बेतला नेशनल पार्क

पलामू टाइगर, बेतला नेशनल पार्क सहित पलामू टाइगर रिजर्व के सभी पर्यटन स्थलों का भ्रमण कराने के लिए पलामू टाइगर पीटीआर प्रबंधन के द्वारा सफारी वाहन उपलब्ध कराया जाएगा. वर्तमान में दो सफारी वाहन उपलब्ध हैं. सरकार को 10 से 12 सफारी वाहन उपलब्ध कराने का प्रस्ताव भेजा गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
World Tourism Day 2021: एक बार फिर खुल रहा बेतला नेशनल पार्क
World Tourism Day 2021: एक बार फिर खुल रहा बेतला नेशनल पार्क
प्रभात खबर

World Tourism Day 2021, पलामू न्यूज झारखंड : पर्यटकों के लिए खुशखबरी है. अब आप बेतला नेशनल पार्क सहित पलामू टाइगर रिजर्व (पीटीआर)के विभिन्न पर्यटन स्थलों पर जाकर सैर-सपाटा कर सकेंगे. कोरोना के कम होते असर और वैक्सीनेशन के बाद सरकार के पर्यटन स्थलों को खोलने के आदेश के बावजूद बरसात में वन्य जीवों के प्रजनन काल को देखते हुए पार्क को नहीं खोला गया था. एक बार फिर 176 दिनों बाद एक अक्टूबर से पीटीआर पर्यटन को पूरी तरह से खोल दिया जाएगा.

झारखंड के पर्यटन विभाग की ओर से पर्यटन स्थलों को खोलने को लेकर तैयारियां शुरू कर दी गयी हैं. आंकड़ों की बात करें तो प्रत्येक वर्ष बेतला नेशनल पार्क सहित पलामू टाइगर रिजर्व के विभिन्न पर्यटन स्थलों पर दो लाख से अधिक पर्यटक आते हैं. पूरे भारत में एक बड़े उद्योग के रूप में माना जाने वाला पर्यटन का पीटीआर में भी खास महत्व है. पुरातात्विक विरासत और एक से बढ़कर एक खूबसूरत नजारों से लवरेज पीटीआर को राजस्व प्रप्ति का स्रोत माना जाता है. इन पर्यटन क्षेत्रों से कई लोगों की रोजी-रोटी भी जुड़ी होती है. इन पर्यटन स्थलों में बेतला नेशनल पार्क व नेतरहाट सर्वाधिक महत्वपूर्ण हैं.

पर्यटन स्थलों को विकसित करने में पर्यावरण, वन और जलवायु परिवर्तन मंत्रालय, पर्यटन मंत्रालय और जिला प्रशासन जुटा है. केचकी औरंगा-कोयल संगम से लेकर मंडल डैम, सुग्गा बांध, मिरचइया फॉल, लोध फॉल सहित अन्य पर्यटन स्थलों को विकसित करने के लिए पीटीआर प्रबंधन के द्वारा सरकार को प्रस्ताव भेजा गया है. इन पर्यटन स्थलों पर वुडेन हट बनाने का प्रस्ताव है. पर्यटन मंत्रालय के द्वारा बेतला स्थित वन विहार होटल को सुसज्जित व आधुनिक सुविधाओं से लैस किया जा रहा है. लातेहार जिला प्रशासन के द्वारा बेतला नेशनल पार्क में चिल्ड्रन पार्क बनाये जाने का प्रस्ताव है, वहीं पलामू किला के जीर्णोद्धार के लिए पुरातात्विक विभाग से सर्वे कराकर सरकार को प्रस्ताव भेजा गया है. वहीं अधिक से अधिक सैलानियों के ठहराव के लिए बेतला नेशनल पार्क में वन विश्रामागार बनाये गये हैं.

बोतला नेशनल पार्क
बोतला नेशनल पार्क
प्रभात खबर

पलामू टाइगर, बेतला नेशनल पार्क सहित पलामू टाइगर रिजर्व के सभी पर्यटन स्थलों का भ्रमण कराने के लिए पलामू टाइगर पीटीआर प्रबंधन के द्वारा सफारी वाहन उपलब्ध कराया जाएगा. पलामू टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर कुमार आशुतोष ने बताया कि वर्तमान समय में दो सफारी वाहन उपलब्ध हैं. सरकार को 10 से 12 सफारी वाहन उपलब्ध कराने का प्रस्ताव भेजा गया है. खुले सफारी वाहन में पर्यटक, पर्यटन स्थलों का भ्रमण कर अपने मित्रों व रिश्तेदारों के साथ भरपूर मनोरंजन कर सकेंगे. पहले पैकेज के अनुसार बेतला ,पलामू किला, केचकी संगम ,मंडल डैम, ततहा झरना एवं दूसरे पैकेज में इन पर्यटन स्थलों के साथ मिरचइया फॉल ,सुग्गा बांध, तीसरे पैकेज में लोध फॉल घूमाया जाएगा, जबकि चौथे पैकेज में नेतरहाट तक के पर्यटन स्थलों का भ्रमण कराया जाएगा. इस तरह से प्रमंडलीय मुख्यालय मेदिनीनगर से नेतरहाट तक का पर्यटन स्थलों का भ्रमण करना आसान हो जाएगा.

कोरोना काल में भले ही पर्यटन स्थलों को बंद करा दिया हो लेकिन इसका सकारात्मक असर जंगली जानवरों में हुए इजाफा को बताया जा रहा है. बेतला नेशनल पार्क में चीतल की संख्या में अप्रत्याशित वृद्धि हो गयी है. जगह-जगह पर हाथियों के झुंड को देखा जा रहा है. बेतला नेशनल पार्क में तेंदुआ भी दिख रहा है. पीटीआर में दर्जनों तेंदुआ होने के प्रमाण मिल रहे हैं. विभागीय पदाधिकारियों के द्वारा कई दुर्लभ वन्य जीवों के भी मिलने की दावा किया जा रहा है.

बेतला नेशनल पार्क सहित आसपास के पर्यटन स्थलों का भ्रमण करने के लिए देश- विदेश के वैसे तो सालों भर पर्यटक आते हैं लेकिन अक्तूबर से जनवरी महीने तक इसका विशेष महत्व होता है. पर्यटकों से यह इलाका खचाखच भरा होता है. दुर्गा पूजा की छुट्टियां मनाने के लिए बड़ी संख्या में कोलकाता से पर्यटक आते हैं. बेतला नेशनल पार्क सहित आसपास के सभी कई विश्रामागार रिजर्व करवा लिया गया है. ऑनलाइन रिजर्वेशन की सुविधा होने से पर्यटकों को काफी सुविधा मिल रही है.

वैश्विक महामारी कोरोना को देखते हुए 18 मार्च 2020 से बेतला नेशनल पार्क को बंद कर दिया गया था. 348 दिनों के बाद इस वर्ष एक मार्च को पार्क खोला गया था, लेकिन कोरोना की दूसरी लहर के कारण सिर्फ 37 दिन पार्क खुलने के बाद फिर सात अप्रैल से बंद कर दिया गया था. अब फिर 176 दिनों के बाद बेतला नेशनल पार्क खोला जायेगा.

पलामू टाइगर रिजर्व के फील्ड डायरेक्टर कुमार आशुतोष ने बताया कि कोरोना को लेकर पर्यटन स्थलों के लिए सरकार के द्वारा जो गाइडलाइन जारी की गयी है, उसी के मुताबिक पलामू टाइगर रिजर्व के बेतला नेशनल पार्क सहित अन्य पर्यटन स्थलों को खोला जाएगा. पर्यटकों को सभी सुविधाएं उपलब्ध कराने के लिए पीटीआर पूरी तरह से तैयार है.

Posted By : Guru Swarup Mishra

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें