26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

रंजीत सरदार हत्याकांड में फरार गणेश सिंह के घर पुलिस ने चस्पाया इश्तेहार

रंजीत सरदार हत्याकांड में फरार गणेश सिंह के घर पुलिस ने चस्पाया इश्तेहार

ढोल-नगाड़े के साथ तीन थाना और क्यूआरटी की टीम पहुंची गणेश सिंह के घर

31 जुलाई की सुबह 11 बजे से पूर्व गणेश सिंह को करना है सरेंडर, नहीं तो होगी कुर्की

मानगो निरंजन सिंह कॉम्प्लेक्स में रहता है गणेश सिंह

जमशेदपुर :

मानगो के अमरनाथ सिंह गिरोह के सदस्य गोलमुरी नामदा बस्ती निवासी रंजीत सिंह सरदार की हत्या मामले में फरार चल रहे गणेश सिंह के घर टेल्को थाना की पुलिस ने इश्तेहार चस्पा किया है. टेल्को, गोविंदपुर और उलीडीह थाना के अलावा क्यूआटी टीम के साथ पुलिस मानगो के निरंजन सिंह कॉम्प्लेक्स स्थित गणेश सिंह के फ्लैट में पहुंची. पुलिस टीम मेन रोड से ही ढोल बजाते हुए गणेश सिंह के फ्लैट तक गयी. इस दौरान पुलिस ने अनाउसमेंट कर लोगों को बताया कि गणेश सिंह रंजीत सिंह सरदार हत्याकांड में फरार है. आगामी 31 जुलाई की सुबह 11 बजे तक उसे कोर्ट में सरेंडर करना है. अन्यथा कुर्की की कार्रवाई की जायेगी.

ढोल-नगाड़े के साथ पहुंची थी पुलिस

ढोल-नगाड़े के साथ पुलिस की टीम गणेश सिंह के घर पहुंची थी. अनाउसमेंट सुनकर कॉलोनी के लोग बाहर आ गये. इस बीच गणेश सिंह के कुछ समर्थक अपार्टमेंट में खड़े थे. एक युवक मोबाइल से वीडियो बना रहा था. इसी बीच गोविंदपुर थाना प्रभारी प्रकाश रजक की नजर उसपर पड़ी, तो उन्होंने मोबाइल छीन लिया. युवक द्वारा माफी मांगे जाने पर पुलिस ने मोबाइल लौटा दिया. रविवार की दोपहर करीब साढ़े बारह बजे पुलिस टीम गणेश सिंह के फ्लैट में पहुंची थी.

3 अक्तूबर 2022 को गोली मारकर कर दी गई थी रंजीत सरदार की हत्या

पुलिस के अनुसार 3 अक्तूबर 2022 को टेल्को सबुज कल्याण संघ के पास रंजीत सरदार की गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. उक्त हत्याकांड में गणेश सिंह की संलिप्तता सामने आयी थी. वारदात के बाद से गणेश सिंह फरार है. उसके खिलाफ कोर्ट से वारंट भी जारी है. गणेश सिंह की गिरफ्तारी के लिये कई बार छापेमारी की गयी. लेकिन वह नहीं पकड़ाया.

गणेश सिंह पर दर्ज है कई मामले

गणेश सिंह के खिलाफ कई केस दर्ज है. टेल्को में रंजीत सिंह सरदार की हत्या के अलावा रंजीत सिंह गिरोह के सरगना अमरनाथ सिंह की बासुकीनाथ में गोली मारकर हत्या करने के मामले में भी गणेश सिंह के खिलाफ नामजद प्राथमिकी दर्ज है. इसके अलावा पार्किंग ठेकेदार नीरज दूबे पर फायरिंग में भी गणेश सिंह की संलिप्तता सामने आयी थी. वहीं, मानगो में मो. सज्जाद उर्फ टांडा की हत्या में भी गणेश सिंह की संलिप्तता पायी गयी थी. गणेश सिंह की अमरनाथ सिंह के साथ दुश्मनी थी. दोनों गिरोह के बीच कई बार फायरिंग की घटना घट चुकी है.

बताया जा रहा है कि गणेश सिंह की पुलिस अधिकारी व राजनेताओं के साथ अच्छे संबंध हैं. गणेश सिंह पूर्व में करनी सेना का अध्यक्ष भी था.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें