1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. jamshedpur
  5. drda director will investigate the flaw in the appointment in tb department

टीबी विभाग में नियुक्ति में गड़बड़ी की जांच करेंगी डीआरडीए निदेशक

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
प्रतीकात्मक तस्वीर

जमशेदपुर : जिला के टीबी विभाग में 16 पदों पर की गयी नियुक्ति व पोस्टिंग के मामले में पूर्व सिविल सर्जन डॉ महेश्वर प्रसाद पर जांच का घेरा कसने लगा है. वर्तमान सिविल सर्जन राजेंद्र नाथ झा और स्वास्थ्य मंत्री बन्ना गुप्ता ने भी नियुक्ति प्रक्रिया से जुड़े कागजातों की जांच के बाद यह माना है कि प्रथम दृष्टया गड़बड़ी हुई है, जिसकी उच्च स्तरीय जांच जरूरी है.

प्रभारी सिविल सर्जन राजेंद्र नाथ झा ने मंत्री को दिये अपने मंतव्य में स्पष्ट किया है कि बहाली प्रक्रिया के दौरान ही आवेदन व अन्य दस्तावेजों से छेड़छाड़ की गयी है. इधर, जिला प्रशासन ने भी मिली शिकायतों के बाद जांच के आदेश दिये हैं. उपायुक्त के निर्देश पर डीआरडीए निदेशक इसकी जांच करेंगी. उन्होंने गुरुवार को बहाली के दस्तावेजों के साथ सिविल सर्जन को तलब किया है.

अब तक जांच में यह बात सामने आयी है कि नियुक्ति प्रक्रिया में शामिल जिला स्वास्थ्य समिति के सदस्यों को भी कई तथ्यों से गुमराह किया और बिना उन्हें विश्वास में लिये आवेदन व जमा किये गये दस्तावेजों से छेड़छाड़ की गयी.

यही नहीं बहाली प्रक्रिया में बार-बार गड़बड़ी सामने लाये जाने के बावजूद पूर्व सिविल सर्जन डॉ महेश्वर प्रसाद ने कोई कार्रवाई नहीं की, अलबत्ता रिटायरमेंट के अंतिम दिनों में जिला स्वास्थ्य समिति के अध्यक्ष के आदेश का हवाला देकर विवादास्पद नियुक्ति को अंतिम रूप दिया और आनन-फानन में सबकी 16 लोगों की पोस्टिंग कर दी. दिलचस्प है कि टीबी विभाग के स्थायी लिपिक संजय तिवारी को बहाली प्रक्रिया में पूरी तरह अलग रखकर यह जिम्मेदारी अनुबंधकर्मी आजाद प्रसाद को दी गयी थी, जो हेल्थ विजिटर हैं.

कोर्ट जाने का विकल्प खुला, जिम्मेदार पदाधिकारी से हो खर्च की वसूली. टीबी विभाग की नियुक्ति में गड़बड़ी की शिकायत करने वाले सामाजिक कार्यकर्ता डॉ अनिल कुमार व मनीष कुमार ने कहा कि उन्होंने मुख्यमंत्री, स्वास्थ्य मंत्री, प्रधान सचिव, उपायुक्त व सिविल सर्जन से शिकायत कर सच को सामने लाने का प्रयास किया है. मंत्री ने जांच कराने की बात कही है, जो अच्छी बात है, लेकिन उनके पास कोर्ट जाने का विकल्प खुला है. हम दस्तावेज तैयार कर रहे हैं. मनीष कुमार ने कहा कि जांच में गड़बड़ी सामने आने पर पूरा खर्च जिम्मेदार पदाधिकारी से वसूल किये जाये.

काेराेना का बढ़ रहा कहर, सात दिन बंद रखें प्रतिष्ठान - भालाेटिया : जमशेदपुर. सिंहभूम चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री के अध्यक्ष अशाेक भालाेटिया ने जमशेदपुर में काेराेना के संक्रमण काे देखते हुए सप्ताह भर तक सभी प्रतिष्ठान बंद करने का आग्रह किया है. जमशेदपुर में कोरोना के बढ़ते संक्रमण से पूरा शहर चिंतित है. स्थिति बता रही है कि यह विकराल रूप धारण करेगा.

इस संक्रमण को रोकने के लिये सिंहभूम चेंबर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री का जमशेदपुर के सभी व्यापारी बंधुओं से निवेदन है कि वह जमशेदपुर की स्वास्थ्य सुरक्षा के मद्देनजर आवश्यक वस्तुओं को छोड़कर अगले सात दिनों तक अपने प्रतिष्ठान बंद कर प्रशासन के साथ सहयोग करें, ताकि हम सभी सुरक्षित रह सकें.

बारीडीह, बागुनहातु

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें