1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. women of bargidad village co and police hostage for furious after not leaving tractor confiscated with sand bags smj

बालू लदे जब्त ट्रैक्टर को नहीं छोड़ने पर उग्र हुई बरगीडाड़ गांव की महिलाएं, सीओ और पुलिस को घंटों बनाया बंधक

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : बरगीडाड़ की महिलाओं को समझाती पुलिस. महिलाओं ने सीओ और रायडीह पुलिस के अधिकारियों को घंटों बनाया था बंधक.
Jharkhand news : बरगीडाड़ की महिलाओं को समझाती पुलिस. महिलाओं ने सीओ और रायडीह पुलिस के अधिकारियों को घंटों बनाया था बंधक.
प्रभात खबर.

Jharkhand news, Gumla news : गुमला (दुर्जय पासवान/खुर्शीद) : गुमला जिला अंतर्गत रायडीह अंचल के सीओ नरेश कुमार मुंडा एवं रायडीह थाना की पुलिस को बरगीडाड़ गांव की महिलाओं ने 7 घंटे तक घेरा रखा. सीओ जाने की अनुमति मांगते रहे, लेकिन महिलाएं सीओ को गांव से निकलने नहीं दिया. काफी समझाने के बाद गांव की महिलाएं मानी. इसके बाद सीओ एवं पुलिस को छोड़ा.

क्या है मामला

सीओ नरेश मुंडा ने बरगीडाड़ गांव से बहने वाली शंख नदी से बालू उठाकर जा रहे 2 ट्रैक्टर को जब्त किये, जबकि एक ट्रैक्टर को छोड़ दिये. इससे गांव की महिलाएं उग्र हो गयी. महिलाओं ने सीओ पर पैसा लेनदेन करने का आरोप लगाया. सीओ पर पैसा लेनदेन कर एक ट्रैक्टर छोड़ने एवं 2 ट्रैक्टर को पकड़ने से गुस्साये महिलाओं ने सुबह 7 बजे से सीओ को घेरे रखा. इसके बाद सीओ ने रायडीह पुलिस को सूचना देकर गांव बुलाया. पुलिस पहुंची तो ग्रामीणों ने पुलिस को भी घेर लिया.

सीओ ने बताया कि मंगलवार की सुबह मेरे द्वारा बालू घाट आने के क्रम में रास्ते में बालू लदे एक ट्रैक्टर गाड़ी को देखा गया था. जल्दबाजी एवं अकेला रहने के कारण उसे नहीं पकड़ा, लेकिन उक्त गाड़ी को चिह्नित कर लिया गया. इसके बाद बुधवार को जब मैं दोबारा बालू घाट पहुंचा, तो 2 ट्रैक्टर में बालू लोड था, जिसे मैं जब्त कर थाना ले जा रहा था. तभी महिलाएं गाड़ी को ले जाने से रोक दिया. इसकी सूचना सीनीयर ऑफिसर और पुलिस को दी गयी. काफी समझाने के बाद महिलाओं ने जब्त 2 ट्रैक्टर को थाना ले जाने दिया. उन्होंने लेनदेन की बात से इनकार किया है.

वहीं, महिलाओं ने बताया कि सीओ द्वारा बालू लोड करके जा रहे एक प्रतिष्ठित व्यक्ति के गाड़ी को मिलमिली नदी के समीप बालू अनलोड करा कर भेज दिया, जिसे उनलोगों द्वारा रोका गया है. महिलाओं ने कहा कि सीओ एक आंख में काजल व एक आंख में शूरमा वाली कहावत की तर्ज पर बालू लदे गाड़ी को जब्त किये हैं. इसलिए सीओ एवं पुलिस को गांव में रोका था.

सीओ ने पुलिस को बुलाया

महिलाओं द्वारा घेरे जाने के बाद श्री मुंडा के द्वारा रायडीह थाना पुलिस को फोन का बुलाया. जिसपर एसआई रामलखन सिंह के नेतृत्व में पीएसआई सत्यम कुमार गुप्ता, एएसआई प्रसिद्ध तिवारी, हलीम खान, कृष्णा चौधरी सशस्त्र बल के साथ घटना स्थल पर पहुंचे. जिन्हें महिलाएं गांव में घेरे रखे.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें