1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. gumla
  5. jharkhand crime news kailash oraon leader of 22 parha of sisai block murdered nephew leg amputated smj

Jharkhand Crime News : सिसई ब्लॉक के 22 पड़हा के अगुवा कैलाश उरांव की हत्या, भतीजा का पैर टांगी से काटा

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
सिसई ब्लॉक में 22 पड़हा के अगुवा कैलाश उरांव की हत्या की जानकारी देती मृतक की पत्नी.
सिसई ब्लॉक में 22 पड़हा के अगुवा कैलाश उरांव की हत्या की जानकारी देती मृतक की पत्नी.
प्रभात खबर.

Jharkhand Crime News, Gumla news, गुमला (दुर्जय पासवान) : गुमला जिला अंतर्गत सिसई थाना क्षेत्र के छारदा पतरा गांव के समीप रविवार की रात 8.30 बजे अपराधियों ने सैंदा टुकूटोली गांव के समाजसेवी सह 22 पड़हा के अगुवा कैलाश उरांव (65 वर्ष) की टांगी से काटकर बेरहमी से हत्या कर दी, जबकि मृतक के भतीजा सोमा उरांव के पैर को टांगी से काट डाला. अपराधियों ने सोमा को मरा हुआ समझ कर छोड़ दिया था. टांगी से हमले के बाद सोमा मरा हुआ एक्टिंग करते हुए सो गया था. बाद में परिजन पहुंचे तो सोमा को सिसई के एक निजी अस्पताल पहुंचाया. जहां से उसे रांची रेफर कर दिया गया.

सिसई थाना क्षेत्र के भुरसो बेरीटोली गांव से अपने गांव सैंदा टुकूटोली लौट रहे 22 पड़हा के अगुवा कैलाश उरांव की अपराधियों ने हत्या कर दिया, वहीं उसके भतीजा सोमा उरांव को टांगी से पैर काट डाला. इस दौरान सोमा को मृत समझ अपराधियों ने उसे छोड़ दिया. गंभीर रूप से घायल सोमा को सिसई के एक प्राइवेट हॉस्पिटल में इलाज कराया गया, फिर वहां से उसे रांची के रिम्स रेफर कर दिया. परिजनों के अनुसार, जमीन विवाद को लेकर कैलाश की हत्या की गयी है. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर सोमवार की सुबह को गुमला सदर अस्पताल में पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को परिजनों को सौंप दिया.

4 हमलावरों ने किया हमला : सोमा उरांव

घटना के संबंध में घायल सोमा उरांव ने फोन पर बताया कि घटना रविवार रात 8.30 बजे की है. रविवार रात शादी समारोह से एक साथ 3 बाईक से घर के लिए निकले थे. साेमा ने बताया कि कैलाश के साथ खुद सोमा एक बाईक पर थे. इस बीच साथ चल रहे अन्य 2 बाईक हमसे आगे निकल गये. तभी छारदा पतरा के समीप एक बाईक से 4 लोगों ने रोका. 2 व्यक्ति पिस्तौल और एक व्यक्ति टांगी पकड़ा हुआ था. शुरू में हमलावरों ने पैसे की मांग की. फिर अचानक कैलाश के सिर पर टांगी से वार कर दिया. जिससे कैलाश गिर गया. इसके बाद भी हमलावर टांगी से लगातार वार करते रहे. जिससे कैलाश की मौत हो गयी. कैलाश पर हमला के बाद सोमा भागने की कोशिश किया. जिसके बाद हमलावरों ने सोमा को पकड़ लिया और टांगी से बांये घुटने पर वार कर दिया. जिससे बायां पैर टूट गया और सड़क के किनारे गड्ढे में गिर गया. हमलावर सोमा को मृत समझकर वहां से फरार हो गये.

सोमा ने कहा कि हमलोगों के पास मोबाइल, पैसा और बाईक होने के बावजूद हमसे किसी प्रकार की छिनतई नहीं की गयी. हमलावरों की मंशा हत्या करने की थी. करीब आधा घंटे बाद कैलाश के बेटे विजेंद्र उरांव को फोन सोमा के मोबाइल नंबर पर आया. तब घटना की जानकारी परिवार को दी गयी. जिसके बाद गांव के 10 से 15 ग्रामीणों के साथ घटनास्थल पर पहुंचे और पुलिस को सूचित किया गया.

2.9 एकड़ जमीन का है विवाद

सोमा ने बताया कि पिछले कुछ वर्षों से दो एकड़ 9 डिसमिल जमीन का विवाद खानदान के ही जुब्बी उरांव, जुएल और पुनई के साथ चल रहा है. इसको लेकर गांव में पंचायती और एक माह पूर्व सिसई थाना में सोमा और कैलाश द्वारा प्राथमिकी दर्ज करायी गयी थी. जिसके बाद जमीन पर धारा 107 और 144 लगाया गया है.

मृतक की पत्नी गांदी उराईन ने बताया कि हमारा जमीन का विवाद खानदान के अन्य हिस्सेदारों से पहले चल रहा है. उन लोगों के द्वारा ही घटना को अंजाम देने की आशंका जतायी गयी है. घायल के दोस्त मटकू उरांव और भाई गजेंद्र उरांव ने बताया कि मृतक कैलाश उरांव सामाजिक कार्यकर्ता थे. हर किसी के काम के लिए हमेशा तत्पर रहते थे. कैलाश 22 पड़हा समाज के अगुवा थे. उनकी निर्मम हत्या से हम सभी काफी दुःखी हैं. घटना की सूचना मिलने पर सीओ सुमंत तिर्की, मुखिया फ्लोरेंस देवी, भाजपा मंडल अध्यक्ष लक्ष्मी नारायण यादव, कांग्रेस प्रखंड अध्यक्ष बैबुल अंसारी, कैप्टन लोहरा उरांव, रतनी देवी सहित काफी संख्या में ग्रामीण सिसई थाना पहुंचे.

जमीन विवाद में हत्या हुई : SDPO

SDPO मनीषचंद्र लाल ने बताया कि प्राथमिक अनुसंधान में हत्या का कारण जमीन विवाद लग रहा है. पुलिस सभी पहलुओं पर जांच कर रही है. पूछताछ के लिए 10 लोगों को हिरासत में रखा गया है.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें