26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

आपके वोट से जेल का ताला टूटेगा, हेमंत सोरेन छूटेगा : कल्पना सोरेन

गांधीग्राम स्थित सिदो-कान्हू खेल मैदान में इंडिया गठबंधन प्रत्याशी प्रदीप यादव के पक्ष में झामुमो नेत्री कल्पना सोरेन ने जनसभा को संबोधित किया.

पथरगामा. पथरगामा के गांधीग्राम स्थित सिदो-कान्हू खेल मैदान में इंडिया गठबंधन प्रत्याशी प्रदीप यादव के पक्ष में झामुमो नेत्री कल्पना सोरेन ने जनसभा को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि यह चुनाव भाजपा बनान जनता के बीच की है. यह चुनाव आपके तकदीर को बदलेगा. इंडिया गठबंधन की ओर से जनता चुनाव लड़ रही है. 15 वर्षों से केंद्र की भाजपा सरकार ने जनता को कुछ नहीं दिया. केंद्र से भाजपा को मिलने वाली हिस्से की राशि को काटकर वैसे राज्यों को भेजा गया, जहां भाजपा की सरकार थी. भाजपा गरीब विरोधी है. भाजपा सरकार ने राज्य के 7500 स्कूलों को बंद करने का काम किया. ऐसे स्कूलों में गरीबों के बच्चे पढ़ते थे. झामुमो सरकार ने लोगों के लिए कई कल्याणकारी कार्यों को करने का काम किया. कहा कि जनता की सबसे बड़ी ताकत वोट की है. आपके वोट से वोट से जेल में बंद हेमंत सोरेन बाहर निकलेगा. कहा कि जेल का ताला टूटेगा. हेमंत सोरेन छूटेगा. श्रीमती सोरेन ने कहा कि देश में इंडिया गठबंधन की सरकार बनेगी. प्रदीप यादव ने कहा कि दलित, पिछड़ों व आदिवासियों के लिए पार्टी ने लड़ाई लड़ी. सेवा के लिए कांग्रेस का समर्थन करें. सभी समस्या का समाधान किया जायेगा. कार्यक्रम के दौरान पूर्व मंत्री हेमलाल मुर्मू, पूर्व विधायक संजय प्रसाद यादव, झामुमो जिलाध्यक्ष बासुदेव सोरेन, पूर्व जिला अध्यक्ष प्रेमनंदन मंडल, कांग्रेस जिला अध्यक्ष दिनेश यादव ने भी बातों को रखा. मौके पर जिला परिषद के पूर्व अध्यक्ष कल्पना देवी, जिप सदस्य पूनम देवी, पूर्व जिप सदस्य फूलकुमारी, एहतेशामुल हक, अरशद बहाव आदि मौजूद थे. हेलीकॉप्टर उतरना था सिदो कान्हू मैदान में, उतारा मुंदरकोठी में पथरगामा. कल्पना सोरेन का हेलीकॉप्टर गांधी ग्राम के सिदो कान्हू मैदान के पास ही हेलीकॉटर उतरना था, मगर सभा स्थल से करीब ढाई किमी दूर बारकोप के मुंदरकोठी मैदान में हेलीकॉटर उतारा गया. सड़क मार्ग से श्रीमती सोरेन सभास्थल पहुंची. बताया गया कि पूर्व से तय अस्थायी हेलीपैड को छोड़ कर दूसरे स्थान पर हेलीकाॅप्टर के उतारे जाने की वजह से प्रशासन के बीच अफरातफरी मच गयी. सभास्थल व मंच से कुछ ही दूरी पर हेलीपैड बनाया गया था. पूरी व्यवस्था कर ली गयी थी. मगर हेलीकाॅप्टर के पायलट के द्वारा चिह्नित स्थल के पास आकर पुन: मुंदरकोठी नामक स्थान पर उड़नखटोला को उतार दिया गया. वजह बिजली का पोल व पेड़ रहने की बात कही.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें