1. home Home
  2. state
  3. jharkhand
  4. giridih
  5. jharkhand crime news giridih police arrested two other criminals in keswari bank robbery case this administrative officers son is the mastermind srn

गिरिडीह के केसवारी बैंक लूट मामले में दो अन्य अपराधी भी गिरफ्तार, इस प्रशासनिक अधिकारी का बेटा है मास्टरमाइंड

गिरिडीह के सरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत यूको बैंक में हुई लूटपाट मामले में फरार चल रहे हैं दो अन्य अपराधियों पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. दोनों की गिरफ्तारी कल शाम को हुई है. पुलिस को इन दोनों के पास से 30 हजार रुपये और 1 चाकू बरामद हुआ है.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date

jharkhand naxali arrested in ghaziabad
jharkhand naxali arrested in ghaziabad
file

Giridih Crime News ( मृणाल/लक्ष्मीनारायण ) गिरिडीह/ सरिया : सरिया थाना क्षेत्र अंतर्गत नगर के सवारी स्थित यूको बैंक में हुई लूटपाट के मामले में फरार चल रहे हैं दो अन्य अपराधियों को गिरिडीह पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. गिरफ्तार अपराधियों में कोडरमा जिले के रूम डोमचांच का रहने वाला सुरेश पासवान और सरिया थाना क्षेत्र के पावापुरी का रहने वाला मीतलाल यादव शामिल है. इन दोनों की गिरफ्तारी मंगलवार की देर शाम को सरिया थाना इलाके से की गई है.

दोनों सरिया के इलाके में एक स्थान पर शराब पीने के लिए पहुंचा था. इसी दौरान पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर लिया गया. पुलिस ने उनलोगों के पास से लूट के 30 हजार रुपये और एक चाकू बरामद किया है.

बताया जाता है कि लूटपाट की घटना को अंजाम देने की योजना पिछले कई माह से अपराधियों के द्वारा बनाई जा रही थी. लूटपाट का मास्टरमाइंड में एक ऐसे युवक का नाम सामने आ रहा है जो एक रिटायर्ड पुलिसकर्मी का पुत्र है. बताया जाता है कि यह पुलिसकर्मी हजारीबाग के कोर्रा इलाके में फिलहाल रह रहा है और इस पुलिस पदाधिकारी के पुत्र ने ही इस पूरे लूटपाट की योजना पिछले दिनों कोर्रा के इलाके में एक सब्जी की दुकान पर बनाई थी.

लूटपाट की योजना को अंजाम देने के लिए बिहार से अपराधियों को बुलाया गया था और इसी इलाके में पूरी रणनीति तैयार की गई थी. वहीं पुलिस के सूत्रों की माने तो कोडरमा के डोमचांच के रहने वाले सुरेश पासवान और सरिया के पावापुरी के रहने वाले मितलाल यादव की दोस्ती पिछले चार-पांच महीने पूर्व ही हुई थी. दोनों की दोस्ती एक व्यक्ति की हत्या करने को लेकर हुई. इसी बीच दोनों के बीच लगाव इस कदर बढ़ गया की दोनों आपस में घुल मिल गए और मिलना-जुलना शुरू कर दिया.

दीपावली के दिन सुरेश पासवान ने मीतलाल यादव को नई अपाची बाइक खरीदने के लिए रुपए दिए इसके बाद मीतलाल यादव ने सरिया स्थित टीवीएस के शोरूम से एक लाल रंग की नई अपाची बाइक खरीदी. इसी बाइक से लूट की घटना को अंजाम दिया गया. यह अपाची बाइक फिलहाल रिटायर्ड पुलिस पदाधिकारी के बेटे के पास है. इसके अलावा एक अन्य अपराधी भी इस घटना में शामिल है जो फिलहाल फरार चल रहा है.

सूत्रों की माने तो इन अपराधियों ने मिलकर छठ महापर्व के नहाए- खाय के दिन पारसनाथ रेलवे स्टेशन के समीप स्थित एक जेवर दुकान में डकैती की घटना को अंजाम देने की योजना बनाई थी. अपराधियों के पास यह जानकारी थी कि जेवर दुकानदार हर दिन दुकान बंद करके झोला में जेवर लेकर निकलता है. अपराधियों का पहला टारगेट यह दुकानदार था. लेकिन किसी कारणवश यहां घटना को अंजाम नहीं दिया जा सका.

जिसके बाद सभी ने मिलकर सरिया नगर केसवारी  स्थित यूको बैंक में डकैती की योजना बनाई. डकैती की घटना के बाद अपराधियों की किस्मत साथ नहीं दिया और पुलिस की सक्रियता के जल्द ही गिरफ्तार हो गए. हालांकि फिलहाल अभी भी इस डकैती कांड का मास्टरमाइंड और एक अन्य अपराधी फरार चल रहा है जिसके पास लूट की कुछ रकम अभी भी मौजूद है. इन दोनों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस की टीम लगातार छापेमारी कर रही है.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें