24.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

महुलिया उवि : भवन व शिक्षक नहीं होने से इंटर में दाखिला से कतरा रहे बच्चे, विधायक बोले- अभिभावक बच्चों का दाखिला कराएं, सभी सुविधाएं मिलेंगी

विधायक रामदास सोरेन ने विद्यालय प्रबंधन संग की बैठक, नामांकन लेने को किया आह्वान, कहा: विद्यार्थी और अभिभावक परेशान ना हो, आचार संहिता समाप्त होते इंटर की सभी आर्हताएं पूरी होंगी

गालूडीह. घाटशिला प्रखंड के महुलिया उच्च विद्यालय को हाल में प्लस टू का दर्जा मिला है. स्कूल में इंटर का भवन व शिक्षक नहीं होने के कारण बच्चे दाखिला लेने से कतरा रहे हैं. वहीं, बच्चों के नामांकन नहीं लेने पर प्लस टू का दर्जा छिन जाने के डर से स्कूल प्रबंधन टीसी देने में आनाकानी कर रहा है. इसे लेकर विधायक रामदास गुरुवार को स्कूल पहुंचे. प्रभारी एचएम संजीव पाल, शिक्षकों ल स्कूल प्रबंध समिति के सदस्यों से मिलकर जानकारी ली. विधायक ने अभिभावकों और विद्यार्थियों से कहा कि काफी मशक्कत के बाद प्लस टू का दर्जा मिला है. इसे बचायें. बच्चों का यहां इंटर में नामांकन कराएं. मैं भरोसा दिलाता हूं कि आचार संहिता समाप्त होते ही इंटर का भवन बनेगा. सभी आर्हताएं पूरी होंगी. शिक्षक भी देंगे.

हॉस्टल में रहने वाले बच्चों को सरकार देगी नि:शुल्क भोजन

विधायक ने कहा कि किसी तरह की कोई कमी नहीं होने देंगे. इस बार से हॉस्टल में जो बच्चे रहेंगे, उन्हें सरकार भोजन नि:शुल्क देगी. इंटर के लिए बेंच-डेस्क आ गया है. मौके पर जगदीश भकत, खुदीराम महतो, दुलाल हांसदा, मानस दास, श्रवण अग्रवाल, मंटू महतो, दुर्गा मुर्मू, रतन महतो, देवलाल महतो, अवनी महतो, नीलकांत महतो, शेख बदरूद्दीन, बादल, मंगल सिंह, दुलाराम, सिद्धो राम मुर्मू आदि शिक्षक उपस्थित थे.

इंटर में नामांकन आज से

शुक्रवार से स्कूल में इंटर में नामांकन शुरू हो जायेगा. इसके साथ अभिभावकों, शिक्षकों और प्रबंधन समिति के साथ बैठक होगी. इस वर्ष स्कूल से 156 बच्चे मैट्रिक पास किए, जिसमें से 25 ने टीसी ली है. बाकी बच्चे यहां पढ़ने को इच्छुक हैं.

– संजीव पाल, प्रभारी एचएम

शिक्षा में राजनीति ना हो, गरीब बच्चे आगे बढ़ेंगे

शिक्षा में राजनीति नहीं होनी चाहिए. बड़ी मुश्किल से प्लस टू का दर्जा मिला है. नामांकन होने से पढ़ाई शुरू होगी, सभी जरूरतें धीरे-धीरे पूरी होंगी. प्रथम वर्ष है. ऊपर से चुनाव चल रहा. कुछ समस्याएं आयेंगी. समय के साथ सभी समस्या दूर हो जायेंगी. सरकार की मंशा है शिक्षा को मॉडल बनाना. सीबीएसइ बोर्ड का हर प्रखंड में एक स्कूल ऑफ एक्सीलेंस खुलेगा.

-रामदास सोरेन, विधायक, घाटशिला

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें