25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बाइक चोरी कर बंधक रखने वाले गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार,9 Bike और 3 scotty बरामद

बाइक चोरी कर बंधक रखने वाले गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार, चोरी की 12 बाइक बरामद

– एसएसपी ने बर्मामाइंस थाना में संवाददाता सम्मेलन कर दी जानकारी,फरार लोगों की गिरफ्तारी के लिए हो रही छापेमारी
– अलग अलग थाना क्षेत्रों से गिरोह ने की बाइक- स्कूटी चोरी,सात लवारिस बाइक बरामद

Jamshedpur bike thief gang : अलग अलग क्षेत्रों से बाइक की चोरी कर उसे बंधक रख कर रुपये कमाने वाले बाइक चोरी गिरोह के दो सदस्याें को बर्मामाइंस पुलिस ने Arrest की है. गिरफ्तार होने वालों में कैलाश नगर बर्मामाइंस निवासी सतपाल सिंह और जुगसलाई गर्ल स्कूल रोड निवासी अंकित सोनकर उर्फ छोटू शामिल है. पुलिस ने उनके निशानदेही पर छापेमारी कर 9 Bike और 3 scotty बरामद की है. पुलिस ने उनके पास से गाड़ियों की फर्जी आरसी और Master key भी बरामद किया है. उक्त जानकारी एसएसपी किशोर कौशल ने बर्मामाइंस थाना में संवाददाता सम्मेलन के दौरान दिये. रविवार को बर्मामाइंस थाना में जानकारी देते हुए SSP किशोर कौशल ने बताया कि पिछले दो- तीन माह में अलग अलग जगहों से चोरी हुई बाइक भी इनमें शामिल है. पिछले दिनों बर्मामाइंस में बाइक चोरी की घटना बढ़ गई थी. जिसे गंभीरता से लेते हुए सिटी एसपी के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया थ. इस टीम में डीएसपी सिटी और डीएसपी हेड क्वार्टर -1 को भी शामिल किया गया थ. पुलिस टीम ने चोरी के एक मामले में पहले सतपाल सिंह को गिरफ्तार किया. सतपाल मास्टर चाभी से बाइक चोरी करता था. उसके बाद वह उस गाड़ी का फर्जी आरसी बनवा कर उसे अपने साथी अंकित सोनकर की मदद से बंधक रख देता था. संवाददाता सम्मेलन में ग्रामीण एसपी ऋषव गर्ग,डीएसपी सिटी सुधीर कुमार समेत बर्मामाइंस थाना के पुलिस पदाधिकारी शामिल थे.
कई वाहनों के नंबर प्लेट बदलकर रखा mortgage :
एसएसपी ने बताया कि गिरोह के लोगों ने मिल कर कई वाहनों का नंबर प्लेट बदल दिया. उसके बाद मनमर्जी नंबर डाल कर उसका आरसी बनाये. फिर नंबर बदल कर उसे mortgage रख देते थे. बंधक की रकम गाड़ी की स्थिति देख कर तय करते थे. उसके बाद उस रकम को सभी आपस में बांट लेते थे. एसएसपी ने बताया कि सतपाल बर्मामाइंस में कंपनियों के बाहर खड़ी बाइक को मास्टर चाबी की मदद से चुराता था. उसके बाद वह उस गाड़ी को अंकित के पास लेकर जाता था. अंकित उस वाहन का नंबर प्लेट बदल कर उसका फर्जी आरसी बनाने का काम करता था. इसके बाद पैसे की तंगी का बहाना बनाकर बाइक को 15-20 हजार में बंधक रख देता था. जो रुपये मिलते थे उसे दोनों आपस में बांट लेते थे. जितनी भी बाइक बरामद की गई है उसमें से कई बाइक के नंबर प्लेट बदल दिए गए हैं ताकि किसी को शक ना हो.

A
बर्मामाइंस थाना में बरामद चोरी हुई बाइक व पुलिस पदाधिकारी

7 लवारिस बाइक बरामद :
छापेमारी के दौरान पुलिस ने 7 लावरिस बाइक भी बरामद किया है. पुलिस ने उन सभी बाइक को बर्मामाइंस थाना में रखी है. इनमें से कई बाइक एचएसएम गेट,डायमंड रेस्टेरेंट और बर्मामाइंस पार्किंग के पास बरामद किया गया है. पुलिस ने शक जाहिर किया है कि बाइक चोर बाइक को चुराने के बाद छुपाने की नियत से इसे जहां तहां कुछ दिनों के लिए खड़ी कर देते है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें