38.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

क्या है साइबर एक्सटॉर्सन? धनबाद के कई लोग हो चुके हैं इसके शिकार, गंवा चुके हैं अपनी जमा पूंजी

धनबाद के इस शख्स ने वीडियो कॉल उठाया तो सामने एक कम उम्र की युवती थी और वीडियो कॉल पर आते ही अपने कपड़े खोलने लगी. जब तक वह कुछ समझ पाते, तब तक सामने वाली युवती पूरी तरह से नग्न हो गयी.

ऑफिस से घर जाने के बाद शाम को मोबाइल लेकर घर पर बैठे हुए थे. अचानक व्हाट्सएप पर वीडियो कॉल आया, तो उन्हें लगा कि अभी बेटी का मोबाइल खराब है, तो हो सकता है कि उसकी कोई फ्रैंड वीडियो कॉल कर रही होगी. धनबाद के इस शख्स ने वीडियो कॉल उठाया तो सामने एक कम उम्र की युवती थी और वीडियो कॉल पर आते ही अपने कपड़े खोलने लगी. जब तक वह कुछ समझ पाते, तब तक सामने वाली युवती पूरी तरह से नग्न हो गयी. इस बीच वह सारा मामला समझ गये और तुरंत कॉल काट दिया.

गनीमत रही कि उस दौरान तक सामने वाली युवती उस वीडियो कॉल को रिकॉर्ड नहीं कर पायी और वह व्यक्ति बच गया, लेकिन हर कोई इस तरह की घटनाओं से नहीं बच पाता है और पूरी रिकॉर्डिंग के बाद धमकाने और पैसे मांगने का सिलसिला शुरू होता है. साइबर अपराधी लोगों से कभी हजारों तो कभी लाखों रुपये ठग लेते हैं. इसमें धनबाद के कई बुजुर्ग से लेकर युवा तक फंस रहे हैं और इस चक्कर में अपनी जमा पूंजी को गंवा रहे हैं.

Also Read : धनबाद : पुलिस ने दौड़ा कर साइबर क्राइम में संलिप्त होमगार्ड को किया गिरफ्तार

क्या है साइबर एक्सटॉर्सन : चैट, वीडियो कॉल और ठगी

साइबर अपराधी ठगी के नये-नये तरीके अपना रहे हैं. व्हाट्सऐप कॉल पर कपड़े उतारकर लोगों को ब्लैकमेल करने का जरिया बन गया है. धनबाद में भी इस तरह के कई मामले सामने आये हैं. धनबाद साइबर थाना में इसकी लिखित शिकायत भी की गयी. कई मामले भी दर्ज किये गये हैं. इसमें देखा गया है कि पहले फेसबुक व वाह्टसएप के जरिये पहले दोस्ती और उसके बाद चैट शुरू होता है.

सबसे पहले महिला साइबर अपराधी करती है दोस्ती

महिला साइबर अपराधी दोस्ती करती है और फिर अश्लील बातें शुरू हो जाती है. सामने वाला फंस जाता है तो उसके बाद वीडियो कॉल पर आते हैं और फिर उस व्यक्ति के साथ न्यूड वीडियो दिखाकर उसे रिकॉर्ड कर लिया जाता है. लाज-शर्म के चक्कर में कई मामले थाना तक भी नहीं पहुंचते हैं. साइबर अपराधियों की चंगुल में फंसे लोग अपनी जमा पूंजी गंवा देते हैं.

Sextortion Cases In Dhanbad
क्या है साइबर एक्सटॉर्सन? धनबाद के कई लोग हो चुके हैं इसके शिकार, गंवा चुके हैं अपनी जमा पूंजी 3

कई लोग बन चुके हैं शिकार

  • 24 फरवरी : सरायढेला में रहने वाले व्यक्ति को न्यूड वीडियो कॉल कर फंसाने का प्रयास किया गया
  • 8 जनवरी : कतरास थाना क्षेत्र में रहने वाले व्यवसायी वीडियो कॉल के चक्कर में 80 हजार रुपये गंवा चुके
  • 3 जनवरी : तोपचांची के प्राइवेट शिक्षक इसके शिकार बने और थाना में लिखित शिकायत की
  • 2023 : गोविंदपुर के रिटायर्ड शिक्षक इसके शिकार बने और लगभग 12 लाख रुपये गंवा दिये
  • 2023 : धनबाद में क्रिकेटर इसके शिकार बने और 35 से 40 हजार रुपये गंवा दिये.

Also Read : झारखंड : दिल्ली पुलिस ने धनबाद से चार साइबर अपराधियों को किया गिरफ्तार

साइबर अपराधियों के निशाने पर धनबाद के बिजली उपभोक्ता

धनबाद के बिजली उपभोक्ता साइबर अपराधियों के निशाने पर हैं. इस बार बिजली का मीटर बदलने के लिए आवेदन करने वालों को टार्गेट किया गया है. जिन लोगों ने झारखंड बिजली वितरण निगम लिमिटेड (जेबीवीएनएल) के कार्यालयों में खराब मीटर बदलने का आवेदन दिया है, साइबर अपराधी उन्हें 8758948688 नंबर से कॉल कर ठगी की कोशिश कर रहे हैं.

शक के आधार पर की जेबीवीएनएल से शिकायत

इस बात का खुलासा उस समय हुआ, जब गांधी नगर के एक उपभोक्ता को फोन आया. साइबर अपराधी उपभोक्ता को एप डाउनलोड कर नए सिरे से आवेदन करने व अपना सारा डिटेल दर्ज करने के लिए कहता है. जबकि मीटर बदलने की शिकायत दर्ज कराने के लिए जेबीवीएनएल की ओर से अब तक कोई एप बनाया ही नहीं गया है. उपभोक्ता को शक हुआ, जिसके बाद उन्होंने इसकी शिकायत जेबीवीएनएल के अधिकारियों से की है.

साइबर अपराधी ने बता दी आवेदन में लिखी सारी जानकारी

साइबर अपराधी ने गांधी नगर के जिस उपभोक्ता को कॉल किया और उसे अपने विश्वास में लेने के लिए उपभोक्ता के आवेदन में लिखी सारी जानकारी बता दी. कहा कि बिजली का मीटर बदलने के लिए हर हाल में आपको एक एप डाउनलोड करना होगा. इसके बिना आपके घर में लगा खराब मीटर नहीं बदल पायेगा.

Also Read : धनबाद : अपराधी को पकड़ने बराकर नदी में कूदा धनबाद साइबर पुलिस का चालक लापता

फेक कॉल के बाद उठ रहे कई सवाल

साइबर अपराधी द्वारा उपभोक्ता के मोबाइल नंबर पर किये गये फेक कॉल के बाद सवाल उठने लगा है कि आखिर जेबीवीएनएल के दफ्तर में दिया गया आवेदन अपराधियों के पास कैसे पहुंचा. किसी उपभोक्ता द्वारा मीटर बदलने के लिए आवेदन देने के बाद जेबीवीएनएल के अधिकारी जांच कर संबंधित एजेंसी को मीटर बदलने का कार्य सौंपते हैं.

Sextortion In Dhanbad What Is Cyber Extortion
क्या है साइबर एक्सटॉर्सन? धनबाद के कई लोग हो चुके हैं इसके शिकार, गंवा चुके हैं अपनी जमा पूंजी 4

आजसू ने की बिजली विभाग के अधिकारियों से शिकायत

उपभोक्ता के मोबाइल पर साइबर अपराधियों द्वारा कॉल कर फ्रॉड करने का प्रयास करने के मामले में आजसू ने जेबीवीएनएल के अधिकारियों से शिकायत की है. साथ ही दिए गए आवेदन पर कार्रवाई करते हुए बिजली का मीटर बदलने का आग्रह किया है. आजसू के संतोष कुशवाहा ने भविष्य में इस तरह की घटना न हो, इसके लिए जांच कर उचित कार्रवाई की मांग की है.

  • मीटर बदलने के लिए आवेदन करने वालों को 8758948688 नंबर से आ रहा कॉल
  • आवेदकों को ऐप इंस्टॉल करने के लिए दिया जा रहा दबाव, जेबीवीएनएल के अधिकारियों से की गयी मामले की शिकायत
  • उठ रहे सवाल : जेबीवीएनएल के दफ्तर से कैसे लीक हो रही आवेदकों की जानकारी

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें