1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. dhanbad
  5. jharkhand news the woman fell in the fire due to the ground sinking then the people saved from the blazing fire srn

Jharkhand News : जमीन धंसने से आग में गिरी महिला, फिर लोगों ने ऐसे बचाया धधकती आग से जान

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
जमीन धंसने से आग में गिरी महिला
जमीन धंसने से आग में गिरी महिला
सांकेतिक तस्वीर

Jharkhand News, Dhanbad News लोदना : झरिया कोयलांचल में अग्नि प्रभावित बस्ताकोला क्षेत्र की घनुडीह मल्लाह पट्टी में शनिवार की रात हृदयविदारक घटना घटी. यहां रहनेवाले सूरज निषाद के आंगन में तेज आवाज के साथ जमीन धंस गयी. लगभग 10 फीट लंबा, तीन फीट चौड़ा और पांच फीट गहरा गोफ बन गया. इससे गैस रिसाव होने लगा. सूरज की पत्नी मालती देवी (38) गोफ में गिर गयी.

उसके गिरते ही आंगन की चहारदीवारी भरभराकर उसपर गिर पड़ी. हादसे में मालती आंशिक रूप से झुलस गयी और ईंट गिरने से उसका एक पैर टूट गया. उसे धनबाद शहर के एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इलाज कर रहे चिकित्सकों के अनुसार, महिला खतरे से बाहर है. हालांकि सोमवार को उसका ऑपरेशन करने की बात कही जा रही है. उधर, घटना के विरोध में रविवार की दोपहर करीब 12 बजे मुहल्ले के लोगों ने झरिया-बलियापुर मुख्य मार्ग को घनुडीह हनुमान मंदिर के समीप जाम कर दिया. लोगों ने प्रबंधन व प्रशासन के विरोध में नारेबाजी की. ग्रामीणों का कहना था कि घटना के 10 घंटे बीत जाने के बाद भी प्रबंधन व प्रशासन का कोई नुमाइंदा अभी तक सुध लेने तक नहीं पहुंचा है.

पहले से हो रहा था गैस रिसाव :

सूरज निषाद का घर अग्नि प्रभावित क्षेत्र में है. उसके घर में पहले से ही हल्का गैस रिसाव हो रहा था. शनिवार की रात करीब दो बजे तेज आवाज के साथ उसके आंगन में दरार बन गयी और इससे तेजी से गैस रिसाव होने लगा. 30 वर्गफीट में गोफ बन गया. नीचे से धधक रही आग के संपर्क में आकर आंगन के कचरे में आग लग गयी. इसे बुझाने पति-पत्नी सायरा से पानी निकालने लगे. सूरज निषाद पानी निकाल कर पत्नी मालती को दे रहा था.

मालती इसे गाेफ में छाल रही थी. इस दौरान मिट्टी दरकने से वह गोफ में गिर पड़ी. इसी दौरान जमीन धंसने से आंगन की दीवार ढह गयी. इसमें मालती दब गयी. यह घटना सूरत, उसकी पुत्री सोना कुमारी, पुत्र अन्नू कुमार जोर-जोर से चिल्लाने लगे. हल्ला सुनकर आसपास के लोग जुटे और नीचे दबी मालती को ईंट, पत्थर व मिट्टी आदि हटाकर बाहर निकाले.

बताया जाता है कि महिला को निकालने के दौरान उसके पति समेत दो लोगों की उंगलियां जल गयीं. लोगों ने मालती को निकालकर उसे झरिया के एक निजी नर्सिंग होम में भर्ती कराया. वहां प्राथमिक उपचार के बाद चिकित्सकों ने बेहतर इलाज के लिए धनबाद रेफर कर दिया.

सड़क जाम कर लोगों ने जताया विरोध

गोफ से निकल रही आग बुझाने के लिए डाल रही थी सायरा का पानी

जमीन धंसने से आग में गिरी महिला

झुलसने और पैर टूटने के बाद अस्पताल में भर्ती

बचाने में पति समेत दो की उंगलियां जलीं घटना घटी है. पीड़िता को बेहतर इलाज के लिए बीसीसीएल प्रबंधन व वरीय अधिकारी को सूचना दी गयी है. जो लोग अग्नि प्रभावित क्षेत्र में रह रहे हैं, वैसे लोगों की सूची मांगी गयी है. उन्हें अविलंब शिफ्ट कराया जायेगा. जमींदोज होने की बात गलत है. जमीन धंसने से आग में महिला गिरने तथा News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें हमारे साथ.

Posted By : Sameer Oraon

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें