TSPC सुप्रीमो ब्रजेश गंझू के लिए लेवी वसूलने वाले विस्थापित नेता समेत दो गिरफ्तार, 3.74 लाख रुपये बरामद

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

चतरा : झारखंड के उग्रवाद प्रभावित जिला चतरा में उग्रवादी संगठन टीएसपीसी के लिए लेवी वसूलने आये दो लोगों को पुलिस ने 3.74 लाख रुपये के साथ गिरफ्तार कर लिया है. पिपरवार थाना क्षेत्र के पुरनाडीह परियोजना के पास से गिरफ्तार किये गये दोनों लोगों के नाम बिगन सिंह भोक्ता और धनराज भोक्ता उर्फ मिठू गंझू हैं. ये लोग TSPC सुप्रीमो ब्रजेश गंझू ,आक्रमण गंझू और भीखन गंझू के इशारे पर लोगों से वसूली करते थे. बिगन सिंह भोक्ता विस्थापित नेता भी है.

चतरा के पुलिस कप्तान अखिलेश बी वारियर के दिशा-निर्देश पर टंडवा के एसडीपीओ आशुतोष कुमार सत्यम के नेतृत्व में स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (SIT) का गठन किया गया था. एसआइटी की टीम ने शनिवार की रात 9 संदिग्ध के ठिकानों पर छापामारी की. इस दौरान उन्हें भारी मात्रा में चेक बुक एवं अलग-अलग बैंक के 22 पासबुक मिले.

पुरनाडीह परियोजना के निकट स्थित गांव बरवाटोला से धनराज भोक्ता उर्फ मिठू गंझू को उसके घर से पुलिस ने गिरफ्तार किया. उसके घर की तलाशी के दौरान 3 लाख 74 हजार रुपये नकद बरामद हुए. पुलिस ने उसका फोन भी जब्त कर लिया.

वहीं, खलारी थाना क्षेत्र के केडीएच कॉलोनी से पुरानाडीह परियोजना के विस्थापित नेता बिगन सिंह भोक्ता को पुलिस ने गिरफ्तार किया. एसआइटी में टंडवा एसडीपीओ आशुतोष कुमार सत्यम, सिमरिया एसडीओ दीपू कुमार, सिमरिया के कार्यपालक दंडाधिकारी दिलीप टुुडू, टंडवा थाना प्रभारी सह इंस्पेक्टर सुधीर चैधरी, एएसआइ सच्चिदानंद यादव व सैट के सशस्त्र बल के जवान शामिल थे.

प्रति ट्रक 300 रुपये लेवी मांग रहे थे उग्रवादी

उग्रवादी संगठन के कुछ लोग कोयला लिफ्टरों पर प्रति ट्रक 300 रुपये देने का दबाव बना रहे थे. नहीं देने पर इन्होंने दो दिन तक पुरनाडीह परियोजना में कोयला लोडिंग का काम बंद करवा दिया था. माना जा रहा है कि काम बंद होने की सूचना पर ही जिला पुलिस ने यह कार्रवाई की, ताकि उग्रवादियों के आर्थिक स्रोत को पूरी तरह से रोका जा सके.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें