मां भद्रकाली मंदिर के विकास के लिए मास्‍टर प्‍लान की समीक्षा करने पहुंचे केंद्रीय सचिव अमित खरे

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

इटखोरी : केंद्रीय सूचना व प्रसारण विभाग के सचिव अमित खरे रविवार को मां भद्रकाली मंदिर पहुंचे. उन्होंने डीसी जितेंद्र सिंह के साथ मंदिर के प्रचार प्रसार व विकास को लेकर बैठक की. मौके पर झारखंड के पर्यटन विभाग के कंसल्टेंट बेंगलुरु के आईडेक कंपनी के अधिकारी वेंकटेश भी थे. उन्होंने मंदिर के मास्टर प्लान से अधिकारियों को अवगत कराया.

मौके पर अमित खरे ने कहा कि प्रधानमंत्री के एक भारत श्रेष्ठ भारत कार्यक्रम को लेकर योजना तैयार की गयी है. उन्होंने कहा कि झारखंड में प्राकृतिक सौंदर्य, सांस्कृतिक गुण व धार्मिक महत्ता भरी पड़ी है. जिसमें झारखंड के सांस्कृतिक, धार्मिक व प्राकृतिक सौन्दर्यों का प्रचार प्रसार करना है.

उन्होंने कहा कि पर्यटन स्थल को विकसित करने देश के विभिन्न प्रांतों के लोगों को यहां की जानकारी हो इसके लिए प्रयास किया जा रहा है. इटखोरी के मां भद्रकाली, रजरप्पा, बौद्ध गया, पारसनाथ, देवघर, मलूटी के लिए ट्रेवलोन की सुविधा उपलब्ध कराना जरूरी है. जिससे रांची एयरपोर्ट से पर्यटक आसानी से इन स्थानों में घूम सकें.

उन्होंने कहा कि इटखोरी तीन धर्मों का स्थल पर है, इसलिए इसका विशेष महत्व है. इसे राष्ट्रीय पटल पर लाना है. इससे आने वाले पर्यटक झारखंड की संस्कृति को भी जानेंगे. प्रचार प्रसार के माध्यम से पर्यटकों को आकर्षित करना मुख्य उद्देश्य है. बैठक में डीडीसी मुरली मनोहर प्रसाद, डीएफओ कालिकिंकर सिंह, एसडीएम राजीव कुमार आदि मौजूद थे.

केंद्रीय सचिव ने मां भद्रकाली मंदिर के लिए तैयार मास्टर प्लान को देखा, बेंगलुरु के आईडेक कंपनी के अधिकारी वेंकटेश ने मास्टर प्लान से अवगत कराया. मालूम हो कि मां भद्रकाली मंदिर को विश्व स्तरीय टूरिज्म प्लेस बनाने की योजना है, इसके लिए राज्य सरकार ने 600 करोड़ रुपये का प्लान तैयार किया है. बैठक के बाद केंद्रीस सचिव और बाकी अधिकारियों ने मंदिर में पूजा अर्चना की.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें