28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बिहार में बनेगा अलग स्पोर्ट्स विभाग, खिलाड़ियों को दी जाएगी स्कॉलरशिप, सीएम नीतीश कुमार ने किया ऐलान

बिहार में खेल को बढ़ावा देने के लिए अलग से एक विभाग का गठन किया जाएगा साथ ही राज्य में एक खेल मंत्री भी होगा. इस बात की घोषणा सीएम नीतीश कुमार ने की है. फिलहाल राज्य में खेल विभाग का सारा कार्य कला, संस्कृति एवं युवा विभाग करता है.

बिहार में अब खेलों को बढ़ावा देने के लिए अब एक खेल मंत्री होगा साथ ही अलग से खेल से संबंधित विभाग का गठन भी किया जायेगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को मेडल लाओ नौकरी पाओ योजना के तहत सरकारी नौकरी के लिए चयनित 71 उत्कृष्ट खिलाड़ियों को नियुक्ति पत्र देने के बाद इस बात की घोषणा की. इस दौरान उन्होंने कहा कि पुलिस सहित अन्य विभागों में खेल कोटा के तहत कई पद खाली हैं. इन पदों पर प्राथमिकता के आधार पर खिलाड़ियों की नियुक्ति की जायेगी. राज्य में फिलहाल खेल संबंधित सारे कार्य और योजनाएं कला, संस्कृति एवं युवा विभाग के अंतर्गत आते हैं. अभी इस विभाग के मंत्री जितेंद्र कुमार राय हैं.

खिलाड़ियों को छात्रवृत्ति दी जायेगी

कार्यक्रम में मुख्यमंत्री ने कहा कि खेल से संबंधित विभाग द्वारा खेलकूद से संबंधित कार्य किये जायेंगे. साथ ही अच्छे खिलाड़ियों को छात्रवृत्ति (स्कॉलरशिप) दी जायेगी. इससे युवा खिलाड़ी अपना पूरा ध्यान खेल पर दे सकेंगे. स्कॉलरशिप की राशि से खिलाड़ी खेल का सामान खरीदने के साथ अपने अच्छे खाने के लिए राशि का उपयोग कर सकेंगे.

खिलाड़ियों की सीधी नियुक्ति के लिए नियमावली

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में खेलों के प्रति युवाओं की रुचि बढ़ाने के लिए राज्य सरकार के द्वारा मेडल लाओ नौकरी पाओ के तर्ज पर बिहार उत्कृष्ट खिलाड़ियों की सीधी नियुक्ति नियमावली 2023 बनायी गयी है. इसके तहत राष्ट्रीय एवं अंतर्राष्ट्रीय खेल प्रतियोगिता में मेडल पाने वाले खिलाड़ियों को सीधे नौकरी दी जायेगी. इस नये नियम के अनुसार खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करने पर एसडीओ और डीएसपी तक बनने का मौका मिलेगा.

नई नियमावली के तहत मिली 71 खिलाड़ियों को नौकरी

इस नियमावली के तहत अब तक 71 खिलाड़ियों को नौकरी दी गयी है जिसमें दो को पदाधिकारी की नौकरी दी गयी है. इसमें बाल विकास परियोजना पदाधिकारी और प्रखंड पंचायती राज पदाधिकारी शामिल हैं. 69 को पुलिस अवर निरीक्षक, समाज कल्याण विभाग में अधीक्षक और डाटा इन्ट्री ऑपरेटर सहित लिपिक की नौकरियां दी गयी हैं.

बिहार में खेलों को दिया जा रहा बढ़ावा

मुख्यमंत्री ने कहा कि बिहार में खेलों को बढ़ावा दिया जा रहा है. इसके लिए हर स्तर पर खेल सुविधायें विकसित की जा रही हैं ताकि बच्चे पढ़ें भी और खेलें भी. राज्य में प्रखंड स्तर पर स्टेडियम का निर्माण कराया जा रहा है. इसमें अब तक लगभग 250 स्टेडियमों का निर्माण पूरा हो चुका है. खिलाड़ियों को राज्य के बाहर प्रशिक्षण के लिए भेजा जा रहा है. हर वर्ष राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अच्छा प्रदर्शन करने वाले खिलाड़ियों को खेल सम्मान योजना के तहत पुरस्कार दिया जाता है.

क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण जल्द पूरा करने का निर्देश

पटना के एक अणे मार्ग स्थित नेक संवाद में आयोजित नियुक्ति पत्र वितरण समारोह के दौरान सीएम ने राजगीर स्पोर्ट्स एकेडमी-सह-क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कार्य तेजी से पूरा करने का अधिकारियों को निर्देश दिया. इससे खेल विश्वविद्यालय का संचालन जल्द शुरू हो सकेगा.

राजगीर स्पोर्ट्स एकेडमी-सह-क्रिकेट स्टेडियम कब होगा पूरा ?

बता दें कि राजगीर के पास बन रहे खेल अकादमी का निर्माण कार्य फरवरी-मार्च तक पूरा हो जाएगा. लेकिन इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम के लिए लोगों को अभी और इंतजार करना पड़ेगा. भवन निर्माण विभाग के सचिव सह पटना प्रमंडलीय आयुक्त कुमार रवि द्वारा बीते दिन किए गए निरीक्षण के बाद यह स्पष्ट हुआ. निरीक्षण बाद सचिव ने बताया उनके द्वारा खेल अकादमी और क्रिकेट स्टेडियम दोनों का निरीक्षण किया गया है. खेल अकादमी का निर्माण कार्य प्रगति पर है. लेकिन क्रिकेट स्टेडियम का निर्माण कार्य असंतोष जनक है.

मार्च तक खेल अकादमी का निर्माण होगा पूरा: कुमार रवि

कुमार रवि ने बताया था कि खेल अकादमी का बहुत काम पूरा हो गया है. बचे हुये कार्यों को फरवरी- मार्च तक हर हाल में पूरा करने का निर्देश सचिव द्वारा निर्माण एजेंसी को दिया गया है. उन्होंने बताया कि इंडोर – आउटडोर प्लेग्राउंड, हॉल निर्माण कार्य लगभग पूरा हो गया है. प्रशासनिक भवन, आवासीय भवन, गर्ल्स और बॉयज हॉस्टल्स बनकर तैयार है. शेष बचे कार्यों को शीघ्र पूरा करने का आदेश उनके द्वारा निर्माण एजेंसी को दिया गया है.

इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम के लिए अभी करना होगा इंतजार

वहीं, इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम की धीमी निर्माण गति पर सचिव कुमार रवि द्वारा निर्माण एजेंसी को कड़ी फटकार लगाई गयी. उन्हें श्रमिकों की संख्या बढ़ाने और युद्ध स्तर पर निर्माण कार्य से आगे बढ़ाने का आदेश दिया. उन्होंने बताया कि इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में काम भी बहुत बाकी है. निर्माण एजेंसी को लेबर बढ़ाने के लिए आदेश दिया गया है.

Also Read: बिहार: खिलाड़ियों के लिए पहली बार मेडल लाओ और नौकरी पाओ, सीएम नीतीश कुमार ने दिया नियुक्ति पत्र
Also Read: अगले साल बनकर तैयार हो जायेगा राजगीर का अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम, निर्माण कार्य में तेजी लाने का निर्देश

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें