26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

समस्तीपुर की शाही लीची का स्वाद चखेंगे मुंबई के लोग

समस्तीपुर की शाही लीची का स्वाद अब मुंबई के लोग भी चख सकेंगे. शनिवार से इसके लोडिंग की शुरुआत कर दी गई है. पहले दिन लीची की खेप भेजी गयी. समस्तीपुर मंडल के वाणिज्य विभाग के अधिकारियों के प्रयास एवं पहल से व्यापारियों को सुविधा प्रदान करते हुए समस्तीपुर स्टेशन से पहली बार लीची लोडिंग शुरू की गई.

समस्तीपुर : समस्तीपुर की शाही लीची का स्वाद अब मुंबई के लोग भी चख सकेंगे. शनिवार से इसके लोडिंग की शुरुआत कर दी गई है. पहले दिन लीची की खेप भेजी गयी. समस्तीपुर मंडल के वाणिज्य विभाग के अधिकारियों के प्रयास एवं पहल से व्यापारियों को सुविधा प्रदान करते हुए समस्तीपुर स्टेशन से पहली बार लीची लोडिंग शुरू की गई. शनिवार से एसएलआर की सुविधा उपलब्ध कराई गई है. पूसा फार्म के दो व्यापारी आशीष कुमार ने 154 पेटी और रामभरोस ने 144 पेटी लीची की बुकिंग रेलवे से करवायी. इस बाबत व्यापारी आशीष कुमार ने कहा कि मुंबई के बाजार में भी लीची की डिमांड है. जिसे भेजे कर यहां के व्यापार को बढ़ावा दिया जा रहा है. समस्तीपुर जिले के आसपास के क्षेत्र में शाही लीची की पैदावार होती है. इन लीची का स्वाद पूरे देश में उपजाई गई सभी लीची से बहुत ही ज्यादा अच्छा होता है. हर गर्मी में इस क्षेत्र में लीची की कटाई और परिवहन की गतिविधियों से हलचल मची रहती है. ट्रेनों में लीची की लोडिंग यह सुनिश्चित करने के लिए एक महत्वपूर्ण पहल है कि ये नाजुक फल देशभर के बाजार तक तेजी से और बेहतरीन स्थिति में मिले. लेकिन, विपणन की सुविधाओं के अभाव के कारण जहां एक और व्यापारियों को उचित मूल्य नहीं मिलता था, वहीं, देश के उपभोक्ता इन लीची के मीठे स्वाद से वंचित रह जाते थे. सीनियर डीसीएम सूची सिंह के अगुवाई में मंडल के वाणिज्य विभाग ने इसी गति और कुशलता की कमी को दूर किया है. पहली बार समस्तीपुर स्टेशन से गाड़ी संख्या 11062 जयनगर-लोकमान्य तिलक टर्मिनल पवन एक्सप्रेस में 3.9 टन का एसएलआर उपलब्ध करवाया है. इस एसएलआर में 3.9 टन लीची लोडिंग की सुविधा मिल जाने से लीची उत्पादक अपनी लीची कम लागत और द्रूत गति से मुंबई की ओर भेज सकेंगे. यह तार्किक प्रयास न केवल इस क्षेत्र में कई लोगों की आजीविका को बनाये रखेगा बल्कि देशभर में लीची प्रेमियों को इस मौसमी आनंद का स्वाद भी लेने की क्षमता भी प्रदान करेगा. लीची उत्पादकों को लाभ तो मिलेगा ही वहीं मंडल को भी सात लाख रेल राजस्व की वृद्धि होगी.

व्यापारियों का किया गया स्वागत:

पार्सल में लीची लोडिंग के लिए आने वाले व्यापारियों का स्वागत किया गया. इस दौरान सहायक वाणिज्य प्रबंधक आरके सिंह, राजेश कुमार उपस्थित रहे. दोनों में व्यापारियों का स्वागत किया. बाकायदा रेड कारपेट भी बिछाया गया. ट्रेन के प्लेटफार्म संख्या एक पर आने के बाद एसएलआर की सजावट के साथ माल लोडिंग की गई. मौके पर वाणिज्य अधीक्षक बृजेश कुमार, वाणिज्य निरीक्षक दिलीप कुमार, विनोद कुमार, पंकज कुमार, सर्वजीत कुमार श्रवण आदि थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें