28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

मुख्य सड़क से 20 फीट अंदर करें चाहरदिवारी का निर्माण

मुख्य सड़क से 20 फीट अंदर करें चाहरदिवारी का निर्माण

रेलवे सर्कुलेटिंग एरिया की सड़क चौड़ीकरण को लेकर विधायक ने रेलवे अधिकारियों से की बात, मत्स्यगंधा झील की होगी घेराबंदी पांच करोड़ की राशि हुई स्वीकृत- डॉ आलोक रंजन सहरसा. सहरसा जक्शन के चांदनी चौक स्थित सर्कुलेटिंग एरिया के बाहर मुख्य सड़क के निकट घेराबंदी को लेकर स्थानीय विधायक डॉ आलोक रंजन ने सड़क छोड़कर घेराबंदी करने के लिए रेलवे के इंजीनियरों को सुझाव दिया. मौके पर पहुंचे सदर एसडीओ प्रदीप कुमार झा ने भी आगे आने वाले जाम की परिस्थितियों को देखते थोड़ा पीछे लगभग 20 फीट सड़क छोड़कर चारदीवारी निर्माण करने की बात कही. विधायक रंजन ने कहा कि रेलवे जक्शन का सौंदर्यीकरण का कार्य किया जा रहा है. चांदनी चौक के निकट रेलवे का मुख्य प्रवेश व निकासी द्वार का निर्माण किया जा रहा है. पूर्व में यहां बसे दूकानदारों को हटाकर सौंदर्यीकरण का कार्य किया जा रहा है. लेकिन सड़क की चौडाई का ध्यान नहीं रखा जा रहा था. जिससे बाद में यहां के लोगों को गंभीर समस्या झेलनी पड़ती. जिसे देखते हुए उन्होंने रेलवे के बडे़ अधिकारियों से बात कर सौहर्दपूर्ण वातावरण में आम लोगों के हित में बाउंड्री थोडा पीछे करने का आग्रह किया. जिसे स्वीकार किया गया है. उन्होंने कहा कि यहां जाम की समस्या पूर्व से ही गंभीर बनी थी. ऐसे में फिर से सड़क को अतिरिक्त जगह नहीं मिलती तो लोगों को भयानक कठिनाइयों से गुजरना पड़ता. जिसे वे महसूस कर रहे हैं. जनप्रतिनिधि होने के नाते उनका फर्ज था कि आम लोगों के हित में कार्य हो. जिसे स्थानीय रेल अधिकारियों ने भी सहमति दी है. अब यहां की सड़क चौड़ी दिखेगी व लोगों के आवाजाही में किसी तरह की परेशानी नहीं होगी. उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री व रेलमंत्री के सहयोग से सहरसा जक्शन अब खुबसूरत बन रहा है. लोगों को अब यहां बडे़ स्टेशनों की तरह सुविधा मिलेगी. मत्स्यगंधा झील की होगी घेराबंदी स्थानीय विधायक सह पूर्व मंत्री डॉ आलोक रंजन ने बताया कि जिले के पर्यटक स्थलों में से एक मत्स्यगंधा झील के दिन भी अब जल्द बहुरेंगे. इसके लिए उन्होंने विधानसभा में भी आवाज उठाई थी. जिसे देखते प्रथम चरण में लगभग पांच करोड़ की लागत से घेराबंदी की स्वीकृति मिल गयी है. उन्होंने कहा कि इसके सौंदर्यीकरण को लेकर भी उन्होंने विभागीय मंत्री से आग्रह किया है. जिसमें उन्होंने स्वीकृति देते की बात कही है. उन्होंने कहा कि झील के सौंदर्यीकरण के लिए लाईटिंग, फब्बारे, झील के बीच पूल सहित अन्य सौंदर्यीकरण के लिए कार्य होंगे. जल्द ही यह झील फिर से लोगों के आकर्षण का केंद्र बनेगा. फोटो – सहरसा – रेल अधिकारियों से बात करते विधायक व सदर एसडीओ.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें