25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

चयनित 1203 किसानों को उपलब्ध होगा 75 तरह के विभिन्न कृषि यंत्र

चयनित 1203 किसानों को उपलब्ध होगा 75 तरह के विभिन्न कृषि यंत्र

दो दिवसीय कृषि यांत्रिकरण सह उपादान मेले का प्रभारी डीएम ने किया उद्घाटन अपने आवश्यकता अनुसार कृषि यंत्रों की खरीद करें किसानः ज्योति कुमार सहरसा. दो दिवसीय जिलास्तरीय कृषि यांत्रिकरण सह उपादान मेला का आयोजन सोमवार को संयुक्त कृषि भवन परिसर में किया गया मेला का उद्घाटन प्रभारी जिलाधिकारी सह अपर समाहर्ता ज्योति कुमार, अपर समाहर्त्ता आपदा संजीव कुमार चौधरी, जिला कृषि पदाधिकारी सह परियोजना निदेशक आत्मा सह संयुक्त निदेशक शष्य ज्ञानचंद शर्मा, जिला परिषद उपाध्यक्ष धीरेंद्र यादव, परामर्शी डॉ मनोज सिंह, सभी जिलास्तरीय पदाधिकारी सहित अन्य प्रतिनिधियों ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्जवलित कर किया. जिला कृषि पदाधिकारी ने कृषि यांत्रिकरण योजना के संबंध में संक्षिप्त जानकारी दी. उन्होंने बताया गया कि कृषि यांत्रिकरण योजना में इस वर्ष कुल दो करोड़ 67 लाख के 108 विभिन्न प्रकार के कृषि यंत्रों पर अनुदान देय है. जिसमें खेत की जुताई, बुआई, निकाई, सिंचाई, कटाई, दौनी, गन्ना व उद्यान से संबंधित कृषि यंत्र शामिल हैं. उन्होंने बताया कि यांत्रिकरण योजना से किसानों को काफी लाभ हुआ है व इससे खेती करना आसान व लाभप्रद हुआ है. कृषि विभाग द्वारा किसानों के लाभ के लिए काफी योजनाऐं चलायी जा रही है. उन्होंने किसान बंधु से आग्रह किया कि वे योजनाओं का अधिकाधिक लाभ उठायें. सहायक निदेशक कृषि अभियंत्रण द्वारा बताया गया इस वर्ष कृषि यांत्रिकरण योजना में अनुदानित दर पर कृषि यंत्र क्रय करने के लिए इच्छुक किसानों से ऑनलाईन आवेदन कृषि विभाग के वेबसाइट पर कुल 3897 प्राप्त हुए. विभागीय निदेश के आलोक में लॉटरी प्रक्रिया से जांच के बाद 75 विभिन्न प्रकार के कृषि यंत्रों पर कुल 1203 स्वीकृति पत्र निर्गत किये गये. जिसे प्रखंड कृषि पदाधिकारी के माध्यम से संबंधित कृषकों को हस्तगत करा दिया गया. प्रभारी जिलाधिकारी ज्योति कुमार ने कृषि यांत्रिकरण मेला में मौजूद सभी कृषकों से आह्वान किया कि मेला में विभिन्न प्रकार के यंत्र उपलब्ध हैं. जिसे अपने आवश्यकता के अनुरूप क्रय कर उपयोग किया जा सकता है. जिससे कृषि कार्य सुगम होगा व इससे श्रम संसाधन की बचत के साथ लागत में कमी आयेगी. उन्होंने कहा कि यांत्रिकरण योजना में लॉटरी प्रक्रिया के माध्यम से परमिट निर्गत किया गया है. इससे पारदर्शिता अधिक बढ़ी है व यह सराहनीय है. अपर समाहर्त्ता आपदा संजीव कुमार चौधरी ने यांत्रिकरण मेला में मौजूद किसानों को संबोधित किया. उन्होंने उद्यान, यांत्रिकरण, योजना व अन्य संचालित योजनाओं के संबंध में प्रकाश डाला. उन्होंने किसानों को बताया कि खेती में अत्यधुनिक यंत्रों का प्रयोग कर किसान समय व श्रम का बचत कर दुगुना मुनाफा प्राप्त कर सकते हैं. कृषि विभाग अधीन संचालित सभी योजनाओं की ससमय जानकारी के लिए अपने प्रखंड, पंचायत स्तर पर प्रखंड कृषि पदाधिकारी, प्रखंड उद्यान पदाधिकारी, कृषि समन्वयक, प्रखंड तकनीकी प्रबंधक, सहायक तकनीकी प्रबंधक एवं किसान सलाहकार से संपर्क कर प्राप्त करें. मेला में प्रभारी जिलाधिकारी, अपर समाहर्त्ता आपदा व जिला कृषि पदाधिकारी ने संयुक्त रूप से महिषी प्रखंड के किसान लक्ष्मी नारायण यादव को लेजर लैंड लेवलर यंत्र हस्तगत किया. जिसका अनुदान एक लाख 50 हजार उपलब्ध कराया. साथ ही दो किसान उमेश मेहता एवं यदुनंदन गुप्ता सौरबाजार को मैन्यूअल कृषि यंत्र कीट 80 प्रतिशत अनुदान पर उपलब्ध कराया. यांत्रिकरण मेला में सहायक निदेशककृषि अभियंत्रण नवीन कुमार नवनीत, सहायक निदेशक उद्यान शैलेंद्र कुमार, सहायक निदेशक बीज मिथिलेश कुमार, सहायक निदेशक प्रक्षेत्र ऋषि रंजन, अनुमंडल कृषि पदाधिकारी सिमरी बख्तियारपुर आनंद चौधरी, उप परियोजना निदेशक आत्मा राजेश कुमार, प्रखंड कृषि पदाधिकारी सत्तरकटैया केदार राय, प्रखंड कृषि पदाधिकारी नवहट्टा रमानंद राय, सभी कृषि समन्वयक, सभी सहायक तकनीकी प्रबंधक, प्रखंड तकनीकी प्रबंधक, आयुष झा, सभी किसान सलाहकार एवं किसानों ने भाग लिया.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें