25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Patna : नौ आइआइटी ने 355 सीटें बढ़ायीं, पटना में बढ़ीं 84 सीटें

ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी ने आइआइटी, एनआइटी, ट्रिपल आइटी और अन्य 40 गवर्नमेंट फंडेड इंस्टीट्यूट की 59,917 सीटों पर एडमिशन के लिए काउंसेलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. इस वर्ष 17740 सीटों पर काउंसलिंग होगी, जाे पिछले वर्ष से 355 अधिक है.

– इस वर्ष 23 आइआइटी की 17,740 सीटों पर होगी काउंसेलिंग

संवाददाता, पटना: ज्वाइंट सीट एलोकेशन अथॉरिटी (जोसा) ने देश भर के 23 आइआइटी, 32 एनआइटी, 26 ट्रिपल आइटी सहित अन्य 40 गवर्नमेंट फंडेड इंस्टीट्यूट (जीएफटीआइ) की 59,917 सीटों पर एडमिशन के लिए काउंसेलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया शुरू हो गयी है. इसके साथ ही जोसा ने सीट मैट्रिक्स भी जारी कर दिया है. इसमें ओवरऑल इस वर्ष 17740 सीटों पर काउंसलिंग होगी, जाे पिछले वर्ष से 355 अधिक है. पिछले वर्ष 23 आइआइटी की 17385 सीटों के लिए जोसा काउंसलिंग हुई थी. इस साल आइआइटी पटना में 84, आइआइटी भुवनेश्वर में 20, आइआइटी बॉम्बे में 12, खड़गपुर में 30, जोधपुर में 50, गांधीनगर में 30, गुवाहाटी में 10, भिलाई में 40, तिरुपति में 10 और धारवाड़ में 75 सीट बढ़ी है. इसके अलावा आइआइटी मद्रास में छह सीटों की कमी आयी है, जबकि आइआइटी मद्रास में डाटा साइंस और आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की 50 सीटें बढ़ायी गयी हैं. एलन कैरियर इंस्टीट्यूट के कैरियर काउंसेलिंग एक्सपर्ट अमित आहूजा ने बताया कि इस वर्ष 23 आइआइटी की 295 च्वाइसेज, 32 एनआइटी, 26 ट्रिपलआइटी और 40 जीएफटीआइ की 570 च्वाइसेज भरने के लिए दी जा रही है. इस तरह से इस वर्ष कुल 865 च्वाइसेज फीलिंग की जा सकेगी.

आइआइटी पटना में इस बार से इकोनॉमिक्स से साथ मैनेजमेंट की भी होगी पढ़ाई:

आइआइटी पटना में इकोनॉमिक्स की 24, बीटेक केमिकल साइंस एंड टेक्नोलॉजी, एमबीए हॉस्पिटल एंड हेल्थ केयर मैनेजमेंट, बैचलर ऑफ टैक्नोलॉजी एंड एमबीए में पांच, बीटेक सिविल इंजीनियरिंग में छह, बीटेक कंप्यूटर साइंस एंड इंजीनियरिंग में पांच, बीटेक इलेक्ट्रॉनिक्स एंड कम्युनिकेशन इंजीनियरिंग में पांच, इंजीनियरिंग फिजिक्स में छह, मैथेमेटिक्स एंड कंम्यूटिंग में पांच, मेटेलर्जिकल एंड मटिरियल इंजीनियरिंग में छह, इलेक्ट्रिकल एंड इलेक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में छह, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड डाटा साइंस में पांच, केमिकल इंजीनियरिंग में पांच, मेकैनिकल इंजीनियरिंग में 15, इकोनॉमिक्स एंड एमबीए में छह सीटें बढ़ी हैं. इनमें ज्यादातर कोर्सेज एमबीए के साथ वाले हैं.

कौन सी आइआइटी में क्या नया

आइआइटी मुंबई में इंडस्ट्रियल इंजीनियरिंग एंड ऑपरेशन्स रिसर्च में 40 सीटें, आइआइटी मद्रास में डाटा साइंस एंड आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस में 50 सीटें, आइआइटी खडगपुर में आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस की 30 सीटें, आइआइटी गांधीनगर में इंटीग्रेटेड सर्किट डिजाइन एंड टेक्नोलॉजी में 30 सीटें, आइआइटी भुवनेश्वर में इंजीनियरिंग फिजिक्स की 20 सीटें बढ़ी हैं. आइआइटी तिरुपति में इंजीनियरिंग फिजिक्स की 10, आइआइटी भिलाई की 40, आइआइटी धनबाद की 45 सीटों का इजाफा हुआ है. इसके साथ आइआइटी पटना में विभिन्न कोर्स में सीटों का इजाफा हुआ है.

23 आइआइटी में सीटें की संख्या, पटना आइआइटी में इस बार 817 सीटों पर होगा एडमिशन:

आइआइटी भुवनेश्वर – 496, आइआइटी बॉम्बे – 1368, आइआइटी मंडी – 520, आइआइटी दिल्ली – 1209, आइआइटी इंदौर – 480, आइआइटी खड़गपुर – 1899, आइआइटी हैदराबाद – 595, आइआइटी जोधपुर – 600, आइआइटी कानपुर – 1210, आइआइटी मद्रास – 1128, आइआइटी गांधीनगर – 400, आइआइटी पटना – 817, आइआइटी रूड़की -1353, आइआइटी धनबाद – 1125, आइआइटी रोपड़ – 430, आइआइटी वाराणसी – 1589, आइआइटी गुवाहाटी – 962, आइआइटी भिलाई – 283, आइआइटी गोवा – 157, आइआइटी पल्लकड़ – 200, आइआइटी तिरुपति – 254, आइआइटी जम्मू – 280, आइआइटी धारवाड़ – 385

ऐसे करें च्वाइस फिलिंग:

आहूजा ने बताया कि विद्यार्थियों को च्वाइस फिलिंग का अवसर एक बार ही दिया गया है, इसलिए विद्यार्थी ज्यादा-से- ज्यादा कॉलेजों के विकल्प को अपनी प्राथमिकता के घटते क्रम में भरें. विद्यार्थी गत वर्षों के कॉलेजों के ओपनिंग और क्लोजिंग रैंक को देखते हुए कॉलेजों को चुनने के ट्रेंड का अनुमान लगा सकते हैं. विद्यार्थी अपनी रैंक के अनुसार गत वर्षों के क्लोजिंग रैंक से नीचे के रैंक वाले कॉलेज की ब्रांचों को भी अपनी रुचि अनुसार कॉलेज प्राथमिकता सूची के क्रम में शामिल करें. जोसा काउंसेलिंग में कॉलेजों को भरने से पूर्व अपनी प्राथमिकता के कॉलेजों की सूची कागज पर बनाकर उसका आंकलन कर ही ऑनलाइन भरें, ताकि गलती होने की आशंका न रहे. विद्यार्थियों को कॉलेज च्वाइस लॉक करने से पूर्व अवश्य पूर्ण चेक करें, क्योंकि लॉक करने के बाद उसमें बदलाव संभव नहीं होंगे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें