25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बिहार में दो वायरस की चिंता के बीच बढ़े खांसी-जुकाम के मरीज, ठीक होने में लग रहे 15 से 20 दिन

मरीजों में विशेषकर बुखार, सर्दी, खांसी के मरीज अधिक पहुंच रहे हैं. चिकित्सकों के अनुसार अभी वायरल चल रहा है. इससे एक परिवार में एक सदस्य को वायरल की चपेट में लेने के बाद अन्य सदस्यों में भी इसके लक्षण दिखाई दे रहे हैं.

पटना. मौसम में लगातार हो रहे उतार-चढ़ाव की वजह से खांसी-जुकाम और बुखार के मरीज बढ़ रहे हैं. पीएमसीएच, आइजीआइएमएस, एनएमसीएच, गार्डिनर रोड सहित अन्य अस्पतालों व पीएचसी में मरीजों की भीड़ देखी जा सकती है. सोमवार को सामान्य दिनों की अपेक्षा डेढ़ गुना अधिक मरीज ओपीडी में पहुंचे. हालांकि डॉक्टरों का कहना है कि मौसमी बीमारी की वजह से मरीज अचानक बढ़ गये हैं. जांच में स्वाइन फ्लू या एच3एन2 निगेटिव आयी है. इधर स्वाइन फ्लू व इन्फ्लूएंजा वायरस की आंशका से भी लोग सहमे हुए हैं. वहीं, स्वास्थ्य विभाग की ओर से अब तक चार मरीज स्वाइन फ्लू व एच3एन2 के एक मरीज मिलने की पुष्टि की है.

रिकवरी में लग रहे 15 से 20 दिन

हॉस्पिटल में मरीजों की कतारें लगी हुई हैं. हालात यह है कि हर परिवार में कोई न कोई सदस्य मौसमी बीमारी से ग्रसित है. वहीं, मरीजों को रिकवर होने में भी 15 से 20 दिन का समय लग रहा है. सबसे ज्यादा छोटे बच्चे प्रभावित हो रहे हैं. विशेषकर निमोनिया, सर्दी, खांसी की समस्या अधिक हो रही है. इसके साथ ही गले में संक्रमण भी शिकायत आ रहे हैं.

25 सौ से तीन हजार से अधिक पहुंचे ओपीडी में

आइजीआइएमएस में सबसे अधिक मरीज पहुंच रहे हैं. सोमवार को भी आंकड़ा तीन हजार के पार पहुंच गया था. इसके अलावा पीएमसीएच में भी 25 सौ मरीजों की संख्या चल रही है. यही स्थिति गार्डिनर रोड अस्पताल का भी है. रोजाना यहां मरीजों की कतारें लगी देखी जा सकती हैं. यहां पर्ची काउंटर के साथ चिकित्सकों के कमरों और दवा काउंटरों पर भी काफी भीड़ है.

वायरल का फैल रहा संक्रमण

मरीजों में विशेषकर बुखार, सर्दी, खांसी के मरीज अधिक पहुंच रहे हैं. चिकित्सकों के अनुसार अभी वायरल चल रहा है. इससे एक परिवार में एक सदस्य को वायरल की चपेट में लेने के बाद अन्य सदस्यों में भी इसके लक्षण दिखाई दे रहे हैं. इसके बाद अन्य सदस्यों में भी संक्रमण फैल सकता है.

Also Read: पटना की सड़कों पर गड्ढों में जमा बारिश का पानी, लोगों का आना-जाना हुआ मुहाल

क्या कहते हैं सिविल सर्जन

सिविल सर्जन डॉ श्रवण कुमार का कहना है कि गत कुछ दिनों से मौसमी बीमारियों के मरीज बढ़ रहे हैं. बुखार, सर्दी, गले में संक्रमण के लक्षण सामने आ रहे हैं. लोगों को वायरल से ठीक होने में भी अधिक समय लग रहा है. वहीं, सभी पीएचसी व मेडिकल कॉलेज अस्पतालों में निर्देश जारी किया गया है कि सभी संदिग्ध मरीजों की सैंपलिंग की जाये. कलेक्ट सैंपल को पटना सिटी स्थित आरएमआरआइ में जांच के लिए भेजने को कहा गया है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें