1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar corona news irctc indian railways shramik special trains from mumbai pune to patna caused of coronavirus in bihar covid problem skt

Bihar Corona News: बाहरी राज्यों से आने वाली ट्रेनों से बढ़ा बिहार में कोरोना का संकट, सौ में तीन यात्री मिल रहे पॉजिटिव, बन रहा संक्रमण चेन

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पटना जंक्शन की हालत
पटना जंक्शन की हालत
प्रभात खबर

बिहार में कोरोना का संकट तेजी से बढ़ता जा रहा है. बिहार की हालत रोजाना बद से बदतर होती जा रही है. प्रदेश में मंगलवार को पहली बार आंकडा 4100 के पार गया है. वहीं संक्रमितों के मौत का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ता जा रहा है.सूबे में अभी तक कुल 43 लोगों की कोरोना के कारण मौत हो गई है. राजधानी पटना में भी अब रोजाना हजार से उपर कोरोना के मामले मिल रहे हैं. वहीं बाहरी राज्यों से आने वाली ट्रेनें अब मुसिबत का कारण बन चुकी है. ट्रेनों में कोरोना के मरीज रोजाना मिल रहे हैं जो संक्रमण चेन बनने का खतरा पैदा कर रहे हैं.

महाराष्ट्र के कई शहरों में कोरोना ने अपनी दशहत फैला रखी है. मुम्बई और पुणे जैसे शहरों में कोरोना के बढ़ते मामले अब लोगों के बीच बड़ी समस्या की वजह बन गइ है. वहीं दोनों शहरों से चलाई जा रही स्पेशल ट्रेनें अब बिहार के लिए भी मुसीबत का कारण बनती जा रही है. राजधानी पटना सहित आगे के स्टेशनों पर जाने वाली ट्रेनों में यात्रियों की कोरोना जांच की जा रही है. जिसमें हुए खुलासे के अनुसार अब 100 में हर तीन यात्री कोरोना पॉजिटिव पाया जा रहा है.

महाराष्ट्र से आयी विभिन्न ट्रेनों से मंगलवार को 38 कोरोना पॉजिटिव मरीज मिले हैं. मंगलवार को पुणे-दानापुर ट्रेन 01401 से 514 यात्री आये जिनमें 11 पॉजिटिव पाये गये हैं. पुणे-दानापुर ट्रेन नंबर 02149 से 697 यात्री आये, इसमें 10 पॉजिटिव पाये गये. लोकमान्य तिलक टर्मिनल-पाटलिपुत्र ट्रेन के 255 यात्री में से 12 पॉजिटिव पाये गये. इसी ट्रेन से दानापुर में 474 यात्री उतरे, जिसमें चार पॉजिटिव पाये गये. लोकमान्य तिलक टर्मिनल-पाटलिपुत्र ट्रेन से 36 यात्री उतरे. इसमें एक यात्री पॉजिटिव पाये गये.

ट्रेन जब बिहार के गंतव्य स्टेशन पर पहुंचती है तो यात्रियों का कोविड टेस्ट किया जाता है. इसके बाद ही उन्हें भी पता चलता है कि वो कोरोना पॉजिटिव हैं. इस हाल में संक्रमण चेन बनने की संभावना काफी अधिक हो जाती है. वहीं सभी यात्रियों की जांच भी नहीं हो पाती है. कई ऐसे यात्री भी देखने को मिल रहे हैं जो टेस्ट के भय से भाग रहे हैं. वो अलग-अलग तरकीब निकालकर कोविड टेस्ट कराने से बचते हैं. कोई गंतव्य स्टेशन के पहले ही उतर जा रहा है तो कोई पहुंचने के बाद भी जुगाड़ रास्ते से भाग रहा है. इससे आम लोगों के बीच कोरोना संक्रमण फैलने की संभावना बढ़ती जा रही है. बिहार में बाहरी राज्यों से आने वाली लोगों कोरोना संक्रमण मिलने तथा News in Hindi से अपडेट के लिए बने रहें।

रेलवे स्टेशन ही नहीं बल्कि एयरपोर्ट भी अब संक्रमण का भय देने लगा है.मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, पटना एयरपोर्ट पर 20 मार्च से अबतक छह हजार से अधिक लोगों के कोरोना जांच किये गये जिसमें 63 यात्रियों को कोरोना पॉजिटिव पाया गया. रेलवे स्टेशन पर दो सौ से अधिक पॉजिटिव मामले मिल चुके हैं. वहीं मुंबई, पुणे सहित महाराष्ट्र से आने वाली ट्रेनों पर विशेष निगरानी रखी जा रही है.

महाराष्ट्र से आने वाली ट्रेनों में संक्रमण दर छह फीसदी तक है. जांच में पॉजिटिव मिल रहे यात्रियों को होटल पाटलिपुत्र में बने आइसोलेशन सेंटर में रखा जा रहा है. कुर्ला, लोकमान्य तिलक, पुणे जैसे जगहों से आने वाली ट्रेनें अब बड़ा चैलेंज खड़ा कर रही है. वहीं पटना से आगे चलकर भागलपुर जाने वाली ट्रेनों में भी यही हाल देखने को मिल रहा है. भागलपुर जंक्शन पर भी कई यात्री पॉजिटिव पाए जा रहे हैं.

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें