25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

अखिलेश और महेश्वर हजारी के बेटे को कांग्रेस से मिली टिकट

अखिलेश और महेश्वर हजारी के बेटे को कांग्रेस से मिली टिकट

कांग्रेस ने जारी किये बिहार की पांच सीटों पर उम्मीदवार, पटना साहेब पर ब्रेक,पार्टी ने जारी की सूची संवाददाता,पटना

कांग्रेस पार्टी ने पटना साहेब की सीट छोड़ बांकी की पांच सीटों के लिए अपने उम्मीदवार की घोषणा कर दी है.सोमवार की देर शाम पार्टी की ओर से जारी अधिसूचना के मुताबिक पश्चिम चंपारण की सीट से मदन मोहन तिवारी को उम्मीदवार बनाया गया है. वहीं मुजफ्फरपुर की सीट पर भाजपा छोड़ हाल ही में कांग्रेस में शामिल मौजूदा सांसद अजय निषाद को उम्मीदवार बनाया गया है. अजय निषाद का मुकाबला भाजपा के राजभूषण चौधरी निषाद से होगा. 2019 के आम चुनाव में अजय निषाद भाजपा की टिकट पर मुजफ्फरपुर सीट से विजयी हुए थे. इस बार भाजपा ने उनकी जगह दूसरे नंबर पर रहने वाले राजभूषण चौधरी निषाद को उम्मीदवार बनाया. नाराज अजय निषाद ने पार्टी छोड़ कांग्रेस में शामिल हो गये. अब कांग्रेस ने उन्हें उम्मीदवार घोषित किया है.यहां कांग्रेस के स्थानीय विधायक बिजेंद्र चौधरी भी टिकट के दावेदार थे. महाराजगंज लोकसभा की सीट पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डा अखिलेश प्रसाद सिंह के बेटे आकाश प्रसाद सिंह को उम्मीदवार बनाया गया है. महाराजगंज की सीट इस बार महागठबंधन में कांग्रेस को मिली है. आकाश प्रसाद सिंह इसके पूर्व 2019 के लोकसभा चुनाव में पूर्वी चंपारण से रालोसपा के उम्मीदवार थे और दूसरे नंबर पर रहे थे. वे प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष डा अखिलेश प्रसाद सिंह के बेटे हैं. इस सीट से कांग्रेस के विधायक विजय शंकर दूबे की भी दावेदारी थी. वहीं समस्तीपुर सुरक्षित सीट से राज्य सरकार के मंत्री महेश्वर हजारी के बेटे सन्नी हजारी को उम्मीदवार बनाया है.सन्नी हजारी हाल ही में कांग्रेस में शामिल हुए हैं. यहां इनका मुकाबला राज्य सरकार के दूसरे मंत्री डा अशोक चौधरी की बेटी एनडीए में लोजपा रामविलास की उम्मीदवार शांभवी चौधरी से होगा. यहां डा अशोक कुमार और पूर्व डीजीपी बीके रवि भी टिकट के दावेदार थे. वहीं सासाराम सुरक्षित लोकसभा सीट से मनोज कुमार कांग्रेस के प्रत्याशी तय किये गये हैं.मनोज कुमार 2019 के लोकसभा चुनाव में बसपा से सासाराम सुरक्षित से उम्मीदवार थे और दूसरे नंबर पर रहे थे. इस बार पूर्व लोकसभाध्यक्ष मीरा कुमार के चुनाव लड़ने से मनाकरने के बाद पार्टी ने उन्हें सासाराम सुरक्षित सीट से उम्मीदवार बनाया है.

पटना साहेब पर लगी ब्रेक

पटना साहेब लोकसभा सीट के लिए उम्मीदवार के नाम की घोषणा नहीं की गयी है. पटना साहेब की सीट के लिए कांग्रेस में औरंगाबाद के पूर्व सांसद निखिल कुमार, कांग्रेस के पूर्व प्रवक्ता राजेश कुमार सिन्हा, महानगर कांग्रेस के अध्यक्ष शशिरंजन,मीरा कुमार के बेटे अंशुल अभिजित एवं मंजीत आनंद साहू दावेदार हैं.स्क्रीनिंग कमेटी से इन्हीं नाम पर विमर्श कर केंद्रीय चुनाव कमेटी को किसी एक नाम पर फैसला लेने की सिफारिश की गयी है. राजेश कुमार सिन्हा ने बिहार प्रभारी से मुलाकात कर अपने पक्ष में दावेदारी पेश की थी. वहीं टिकट की उम्मीद में कई नेता दिल्ली कैंप कर रहे हैं. दूसरी ओर पार्टी का एक तबका पूर्व लोकसभा अध्यक्ष मीरा कुमार के बेटे अंशुल अभिजित को उम्मीदवार बनाने की वकालत कर रहा है, जिसका स्थानीय कांग्रेसी दबी जुबां से विरोध कर रहे हैं. बिहार में कांग्रेस को महागठबंधन में नौ सीटें मिली है. इसके पहले किशनगंज में मो जावेद, कटिहार से तारिक अनवर और भागलपुर की सीट से अजित शर्मा को कांग्रेस का उम्मीदवार बनाया गया है.पटना साहेब सीट पर अंतिम चरण में एक जून को मतदान होना है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें