जमीयत-उलमा-ए-हिन्द की ओर से निकला मौन जुलूस

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

हवेली खड़गपुर : जमीयत-उलमा-ए-हिन्द हवेली खड़गपुर इकाई के तत्वावधान में एनआरसी व सीएबी के विरोध में नगर के शाही मस्जिद स्थित मदरसा से मंगलवार को मौन जुलूस निकाला गया. शाही मस्जिद के इमाम मौलाना अनवर रहमानी, एनआरआइ राजेश मिश्रा एवं शाहब मल्लिक की अगुवाई में निकाला गया शांतिपूर्ण जुलूस पूरे नगर का भ्रमण किया.

नगर भ्रमण के उपरांत प्रखंड कार्यालय के समीप सभा के माध्यम से केंद्र सरकार की नीतियों की कड़ी आलोचना की. बाद में एक शिष्टमंडल ने राष्ट्रपति के नाम एसडीओ संजीव कुमार को ज्ञापन सौंपा.
मौन जुलूस हयातनगर, रोशन नगर, मंसूर नगर, नबीनगर के रास्ते शेख टोला सहित नगर भ्रमण करते हुए अंबेडकर चौक पहुंचा. जो सभा में तब्दील हो गया. इस जुलूस को विपक्षी दलों का भी समर्थन मिला. राजद नेता गजनफर अली खान ने कहा कि नागरिक संशोधन बिल काला कानून है जो देश को तोड़ने वाला है. कांग्रेस नेता मो. इनामुल हक ने कहा कि हिंदुस्तान को बचाने के लिए मुसलमानों ने कुर्बानियां दी हैं और आगे भी कुर्बानियां देगी. इस बिल से देश का भला होने वाला नहीं है.
कांग्रेस नेता सह नवयुवक सेवा संघ के संस्थापक राजेश कुमार मिश्रा ने कहा कि धर्म के आधार पर भेदभाव नहीं चलेगा. एक देश एक समाज में भाईचारे के साथ रहने वालों को बांटने की साजिश रची जा रही है. जनतांत्रिक विकास पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष सुखदेव यादव ने कहा कि यह बिल समरसता और भाईचारे के बीच द्वंद पैदा करने वाला है.
एसयूसीआई के अंचल कमेटी के सचिव रमण सिंह ने बिल को वापस लेने की मांग की. मौके पर हाफिज नासिर, प्रखंड राजद अध्यक्ष विपिन खिरहरी, नगर राजद अध्यक्ष पंकज यादव, शहाब मल्लिक, मनोज रघु, हाफिज नियाज उद्दीन, मो. अनवर खान, मो. जावेद मुन्ना, वार्ड पार्षद मोजिबुर्रहमान, अब्दुल रऊफ सहित अन्य मौजूद थे.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें