25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

किशनगंज के एक दिवसीय दौरे पर प्रशांत किशोर, बोले – राजद और कांग्रेस के कारण बिहार में मुसलमानों की स्थिति बदहाल है,

प्रशांत किशोर ने बिहार में मुसलमानों की हालत पर चिंता जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार के मुसलमानों को याद करना चाहिए कि जब सच्चर समिति की रिपोर्ट आई उसमें बताया गया कि आज मुसलमानों की हालत दलितों से भी अधिक खराब है.

सच्चर समिति की रिपोर्ट के मुताबिक दलितों से भी खराब स्थिति मुसलमानों की

किशनगंज. जन सुराज अभियान के सूत्रधार प्रशांत किशोर आज एक दिन के दौरे पर किशनगंज पहुंचे. किशनगंज पहुंचने पर बहादुरगंज में हजारों लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया. प्रशांत किशोर ने बहादुरगंज और ठाकुरगंज में जन सुराज से जुड़े लोगों और स्थानीय जनता के साथ संवाद किया.

उन्होंने बिहार में मुसलमानों की हालत पर चिंता जाहिर करते हुए उन्होंने कहा कि बिहार के मुसलमानों को याद करना चाहिए कि जब सच्चर समिति की रिपोर्ट आई उसमें बताया गया कि आज मुसलमानों की हालत दलितों से भी अधिक खराब है. अब एक बार सोच कर देखिए जब सच्चर समिति की रिपोर्ट आई थी, उस समय इस देश में भाजपा और मोदी का शासन नहीं था. उससे पहले कांग्रेस का शासन था. बिहार में लालू-नीतीश का शासन था, जिसे आपने अपने वोट से रहनुमा बनाया था. अगर उन्होंने आपको पढ़ाया होता, आपके बच्चों के रोजगार की व्यवस्था की होती तो कोई भाजपा कोई मोदी आज तक आता ही नहीं. पैगंबर सहाब ने भी कहा है कि अगर आपका हुक्मरान जालिम है तो कहीं न कहीं आपसे अपने रहनुमा को चुनने में गलती हुई है. जब तक मुस्लिम समाज इस बात को नहीं मानेगी तब तक विकास नहीं हो सकता है. मैं जहां जाता हूं वहां मुस्लमान भाई कहते हैं कि उनके पास विकल्प नहीं. 18 प्रतिशत आप मुसलमानों की आबादी है. आज पूरे बिहार में जहां 40 मुस्लिम विधायक होने चाहिए थे वहां मात्र 19 हैं.

गांधी के व्यवस्था को पुनर्जीवित करना ही जन सुराज का है मकसद: प्रशांत किशोर

बिहार में पिछले 20 महीने से पदयात्रा कर रहे जन सुराज पदयात्रा के सूत्रधार प्रशांत किशोर ने किशनगंज के लोगों को भरोसा दिलाते हुए कहा कि खुद पर भरोसा रखिए. इस बार लालू-नीतीश से ऊपर उठ कर वोट कीजिए वरना आपके बच्चों का भविष्य आपके जैसे ही खराब हो जाएगा. जातिवाद से किसी भी समाज का भला नहीं हो सकता है, न ही कोई आदमी जो आपको अपना रहनुमा बताता है वो आपकी जिंदगी ठीक करेगा. आज अगर आपका भला कोई सोच सकता है तो वो खुद आप हैं. इसलिए जन सुराज इस बार आपको मौका दे रहा है जात-पात से ऊपर उठ कर एक नई व्यवस्था बनाने का, जहां शिक्षा और रोजगार सरकार के लिए सबसे अहम हो.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें