27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

चुनाव ड्यूटी से नाम हटाने के लिए मिले 300 आवेदन

200 महिलाओं ने प्रेगनेंट होने के कारण चुनाव डयूटी से नाम हटाने के लिए दिया आवेदन

– 200 महिलाओं ने प्रेगनेंट होने के कारण चुनाव डयूटी से नाम हटाने के लिए दिया आवेदन भभुआ नगर. चुनाव के ड्यूटी से नाम कटाने के लिए होड़ मची हुई है. नाम कटवाने के लिए बीमार होने से लेकर गर्भवती होने का कारण बता आवेदन दिया गया है. करीब सौ से अधिक कर्मी ऐसे हैं, जिन्होंने अपने आवेदन में स्वास्थ्य खराब जैसे हर्ट के मरीज, किडनी के मरीज होने सहित अन्य कई बीमारियों से ग्रसित होने की बात लिखते हुए चुनाव ड्यूटी से मुक्त करने का हवाला दिया है. वहीं महिलाओं की भी ड्यूटी आगामी लोकसभा चुनाव में लगायी जा रही है. इसमें करीब 200 महिलाओं ने प्रेगनेंट होने के कारण चुनाव ड्यूटी से नाम हटाने का आवेदन दिया है. इसके अलावे कहीं पति-पत्नी दोनों की चुनाव ड्यूटी लग गयी है, तो कोई बीमार है, तो किसी का हादसे में हाथ टूट गया है, तो किसी के माता-पिता बीमार हैं, तो किसी ने बीपी शुगर बढ़ने का जिक्र समेत कुल 300 से ज्यादा कर्मियों ने आवेदन में किया है. कार्मिक कोषांग एवं एनआइसी कक्ष में जमा किये गये आवेदनों में सबसे अधिक शिक्षिकाओं ने चुनाव ड्यूटी से नाम हटाने का आवेदन दिया है. एक जून को होगा मतदान दरअसल, आगामी एक जून को जिले में लोकसभा चुनाव के लिए मतदान होना है. मतदान कार्य को पूर्ण करने के लिए मतदान पदाधिकारी एवं मतदान कर्मियों की ड्यूटी लगायी गयी है. इधर, लोकसभा चुनाव में ड्यूटी लगने के बाद कलेक्ट्रेट के एनआइसी कक्ष में मतदान कार्य से मुक्त करने के लिए मतदान पदाधिकारी एवं मतदान कर्मियों की ओर से प्रार्थना पत्र जमा किये जा रहे हैं. हालांकि, चुनाव में लगाये गये कर्मियों एवं अधिकारियों की ओर से दिये गये प्रार्थना पत्र की जांच चल रही है. जिन्हें भी वास्तविक समस्या होगी, उन्हें मेडिकल जांच कराने के बाद चुनाव की डयूटी से मुक्त किया जायेगा. = चार व छह मई को कर्मचारियों की मेडिकल जांच जिन लोगों की ओर से स्वास्थ्य खराब होने एवं प्रेगनेंट होने का हवाला देकर चुनाव ड्यूटी से नाम हटाने का आवेदन दिया गया है, उनकी मेडिकल जांच चार एवं छह मई को मेडिकल बोर्ड की ओर से की जायेगी. मेडिकल बोर्ड अगर उनके आवेदन में लिखी बात को सत्य पाता है और जांच में यह पाया जाता है कि वे चुनाव कराने के लिए योग्य नहीं हैं या चुनाव में जाने से इनके स्वास्थ्य पर प्रतिकूल असर पड़ सकता है, तो चिकित्सकों की रिपोर्ट पर उनका नाम चुनाव ड्यूटी से हटाया जायेगा. स्वास्थ्य की जांच चार एवं छह मई को कलेक्ट्रेट के सभागार में होगी. कर्मियों की स्वास्थ्य जांच के लिए स्थापना उपसमाहर्ता की अध्यक्षता में चार सदस्यीय मेडिकल टीम का गठन किया गया है. क्या कहते हैं अधिकारी डीआइओ विकास कुमार ने बताया कि दिये गये आवेदनों की जांच की जा रही है. उन्हें मेडिकल बोर्ड के समक्ष रखा जायेगा. मेडिकल बोर्ड की अनुशंसा के आधार पर यह निर्णय लिया जायेगा कि किन-किन लोग का नाम चुनाव ड्यूटी से हटाना है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें