नहीं पहुंची महिला चिकित्सक, पुरुष चिकित्सक ने की महिला की जांच

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
जमुई : सुरक्षित मातृत्व योजना के तहत लगाए गए शिविर में जिले के खैरा प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में पुरुष चिकित्सक डाॅ सुमन सौरभ के द्वारा 63 गर्भवती महिला का जांच किया गया. कतारबद्ध खैरा प्रखंड क्षेत्र के घनबेरिया निवासी सीता देवी, गीता कुमारी, नौडीहा निवासी कमली देवी, गुड़िया कुमारी, खैरा बाजार निवासी कुमकुम देवी, विमला देवी, कुमारी अनिता सहित दर्जनों गर्भवती महिला ने बतायी कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व योजना के तहत संपूर्ण जांच को लेकर लगाए गए शिविर में हम लोग निर्धारित ओपीडी का समय सुबह 8:00 बजे से पर्ची कटा कर कतारबद्ध हैं.
लेकिन कोई भी महिला चिकित्सक जांच करने नहीं आई. मौजूद स्वास्थ्य कर्मी से पूछा गया तो उसने बताया आज चिकित्सक डाॅ सुमन सौरभ द्वारा जांच किया जा रहा है. महिलाओं ने बताया पुरुष चिकित्सक के सामने महिला अपनी सारी व्यथा नहीं बता सकती है. अगर ऐसा ही करना था तो जांच शिविर क्यों लगाया गया. जबकि इससे पहले एक महिला चिकित्सक जांच करती थी. उन लोगों ने बताया सुरक्षित प्रसव को लेकर सरकार द्वारा विशेष रूप से प्रत्येक माह की नौ तारीख को यह शिविर लगाया जाता है. जिसमें हम जैसी महिलाओं का खून, ब्लड प्रेशर, तापमान, वजन, डायबिटीज सहित अन्य जांच करके आवश्यक सलाह दिया जाता है. लेकिन ऐसा लग रहा है कि अब हम लोगों को बिना जांच कराए ही वापस जाना पड़ेगा. महिलाओं ने बताया पुरुष चिकित्सक के द्वारा महिलाओं का जांच किया जाना समझ से परे है.
कहते हैं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी
हाई कोर्ट में किसी आवश्यक कार्य को गए क्षेत्र के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डाॅ अमित रंजन बताते हैं कि पूर्व में सदर अस्पताल की महिला चिकित्सक डाॅ शालिनी सिंह द्वारा महिलाओं का जांच किया जाता था. लेकिन इस बार अस्पताल में ड्यूटी के कारण वह नहीं आ पाई हैं. उन्होंने बताया अस्पताल के चिकित्सक डाॅ सुमन सौरभ द्वारा करीब 63 गर्भवती महिलाओं का जांच किया गया. महिला चिकित्सक की कमी को लेकर विभाग को लिखा गया है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें