जलजमाव से आजिज लोग झाड़ू लेकर पहुंचे नगर निगम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

दरभंगा : वार्ड 17 के कटरहिया, गांधीनगर व दिलाबरपुर में जलजमाव से आजिज लोगों का धैर्य सोमवार को जबाव दे दिया. हाथों में झाडू लेकर आक्रोशित सैंकड़ों महिला, पुरुष व बच्चे नगर निगम कार्यालय पहुंच गये. निगम परिसर में जमकर लोगों ने नारेबाजी की. जब पता चला कि उनका पार्षद अभियंता कार्यालय में मौजूद है, तो उन्हें वहां से खींच कर अपने साथ खड़ा कर लिया. इस दौरान लोगों के गुस्से का नगर अभियंता रतन किशोर वर्मा शिकार बन गये. चेंबर में लोगों ने उन्हें जमकर भला-बुरा कहा. लोग नगर आयुक्त को वार्ता के लिए बाहर बुला रहे थे.

जबकि नगर आयुक्त घनश्याम मीणा शिष्टमंडल को वार्ता के लिए अपने चेंबर में आने को कहा. लोगों ने श्री मीणा की बात नहीं मानी तथा कहा कि उन्हें सभी के सामने आकर अपनी बात कहनी होगी. थक-हार कर श्री मीणा अपनी कुर्सी से उठे तथा लोगों के बीच जाकर जलनिकासी की व्यवस्था करने की बात कही. लोगों ने तत्काल कार्रवाई को कहा. इस पर श्री मीणा ने नगर अभियंता को शीघ्र व्यवस्था कर जल निकासी का आदेश दिया. इसके बाद लोग वापस लौट गये.
पार्षद को सुननी पड़ी खरी-खोटी : विरोध कर रहे लोगों ने निगम कार्यालय को बंद कराने का प्रयास किया. दर्जन भर लोग अभियंत्रण प्रशाखा में पहुंच गये. इंजीनियरों से निकलने को कहा. प्रशाखा में बैठे अपने पार्षद अमोला महतो को खींचते हुए प्रदर्शन स्थल तक ले गये. पार्षद को भीड़ की खरी-खोटी सुननी पड़ी.
शाम में दो जेसीबी लगाकर की गयी पानी की निकासी : नगर अभियंता रतन किशोर वर्मा, एइ सउद आलम, जेइ अनिल कुमार चौधरी, उदयनाथ झा, जोन प्रभारी कुतुब आलम, पार्षद अजय जालान, सोहन यादव, पूर्व पार्षद प्रदीप गुप्ता आदि की मौजूदगी में सदर थाना की ओर निकलने वाली सड़क किनारे दो जेसीबी लगाकर नाला बनाने का काम शाम में प्रारंभ हुआ.
बता दें कि 10 सालों से मुहल्लावासी जलजमाव की समस्या से परेशान हैं. जलनिकासी मार्ग में मकान बन जाने से यह समस्या उत्पन्न हुई है. एक वर्ष पूर्व डीएम के निर्देश पर एक निजी स्थल से होकर जलनिकासी करायी गयी थी. संबंधित व्यक्ति ने उक्त स्थल को भर दिया. इसके कारण दो माह से लोग जलजमाव से परेशान हैं.
मंथर गति से चल रहा दोनार- टिनही पुल नाला निर्माण कार्य : दोनार से टिनही पुल तक नाला निर्माण कार्य मंथर गति से चल रहा है. इस नाला का निर्माण हो जाने से जल जमाव की समस्या समाप्त हो जाने की संभावना है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें