प्रदेश के सभी विवि में हो मैथिली की पढ़ाई: सरावगी

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

दरभंगा : िद्यापति सेवा संस्थान के तत्वावधान में एमएलएसएम कॉलेज में रविवार की देर शाम त्रि-दिवसीय मिथिला विभूति पर्व समारोह के पहले दिन के कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए नगर विधायक संजय सरावगी ने प्रदेश के सभी विवि में मैथिली की पढ़ाई शुरू करने की जरूरत जतायी. बिहार की एकमात्र अष्टम अनुसूची में शामिल मैथिली भाषा की संपन्नता का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस भाषा के विकास के लिए सूबे के सभी विश्वविद्यालयों में इसकी पढ़ाई शुरू होनी चाहिए.

उन्होंने अपनी मातृभाषा के प्रति जागरूक होने की अपील करते हुए मैथिली को और समृद्ध बनाने के लिए आगे आने का आह्वान किया. मौके पर संस्कृत विवि के पूर्व कुलपति डॉ देवनारायण झा ने मिथिला-मैथिली के संबंध में दृष्टांतों का उल्लेख करते हुए इसे सबसे पुरानी समृद्ध भाषा और मिथिला को पुरातन क्षेत्र करार दिया.
उन्होंने कहा कि झारखंड में मैथिली दूसरी राजभाषा के रूप में कायम हो चुकी है, लेकिन बिहार में अभी तक इसके लिए पहल नहीं किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है. डॉ उपेंद्र झा ने राजनीति से ऊपर उठकर मैथिली को बिहार की पहली राजभाषा बनाने के लिए कमर कस कर आगे आने की अपील जनप्रतिनिधियों से की.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें