36.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Advertisement

बिहार के छपरा में मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों के बीच झड़प, पथराव के बाद पुलिस छावनी में बदला इलाका

बिहार के छपरा में दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों के बीच जमकर झड़प हुआ है. शुक्रवार की सुबह करीब 5 बजे भगवानबाजार थाना क्षेत्र के नयी बाजार मोहल्ले में मूर्ति विसर्जन के दौरान विवाद छिड़ा और रोड़ेबाजी शुरू हो गयी.

(छपरा से हरि प्रकाश मिश्रा की रिपोर्ट)

बिहार के छपरा में दुर्गा मूर्ति विसर्जन के दौरान दो समुदायों के बीच झड़प हो गयी. घटना भगवान बाजार थाना क्षेत्र के नयी बाजार मोहल्ले का है. जहां शुक्रवार की सुबह करीब 5 बजे दुर्गा प्रतिमा को लेकर विसर्जन के लिए श्रद्धालु जा रहे थे. इसी दौरान दो समुदायों के बीच किसी बात को लेकर विवाद छिड़ गया. मामला धीरे-धीरे तूल पकड़ने लगा और तनाव बढ़ गया. इसी दौरान पत्थरबाजी शुरू कर दी गयी. रोड़ेबाजी में कुल 5 लोगों के जख्मी होने की सूचना है जिनका इलाज सदर अस्पताल में कराया गया. वहीं घटना की सूचना मिलने के बाद पुलिस अधिक्षक गौरव मंगला व डीएसपी संतोष कुमार, भगवान बाजार थानाध्यक्ष रंजीत कुमार दलबल के साथ मौके पर पहुंचे. मामले को शांत कराया गया. घटना क्षेत्र में भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किए गए हैं.

क्यों बिगड़ा माहौल?

जानकारी के अनुसार, भगवान नगर थाना क्षेत्र के नयी बाजार इलाके से मूर्ति विसर्जन शोभा यात्रा गुजर रही थी. अचानक किसी बात को लेकर दो समुदायों के लोग आमने-सामने हो गए. मामला गंभीर होता गया और फिर पत्थरबाजी शुरू हो गयी. इस दौरान प्रतिमा भी क्षतिग्रस्त हुआ जिससे दूसरा पक्ष भी उग्र हो गया. यह विवाद बड़े हिंसा का रूप ले सकता था. समय रहते पुलिस प्रशासन ने स्थिति को काबू में किया. खुद पुलिस कप्तान गौरव मंगला मौके पर पहुंचे और अपनी निगरानी में एक-एक प्रतिमा का विसर्जन कराया. फिलहाल स्थिति काबू में है और इलाके में बड़ी संख्या में पुलिसबल की तैनाती कर दी गयी है. पुलिस मामले की जांच कर रही है.

बेगूसराय व औरंगाबाद में भी हुई झड़प

गौरतलब है कि बेगूसराय और औरंगाबाद में भी मूर्ति विसर्जन के दौरान बवाल हुआ था. प्रतिमा विसर्जन के दौरान बुधवार की शाम बेगूसराय के बलिया में हुए उपद्रव के बाद गुरुवार को बलिया की दुकानें बंद रहीं. इधर, डीएम व एसपी ने दोनों पक्षों के साथ बैठक कर शांति बनाये रखने की अपील की. पुलिस की निगरानी में प्रतिमाओं का विसर्जन कराया गया. इस दौरान कुछ लोगों ने प्रदर्शन करने का प्रयास किया, जिसे पुलिस ने शांत कराया. इधर, तोड़फोड़ एवं आगजनी की हुई क्षति का मुआवजा देने की मांग को लेकर मिरसीकार टोला के दर्जनों ग्रामीण सड़क पर उतर गये और जाम लगाने का प्रयास किया, जो स्थानीय प्रशासन और गण्यमान्य की पहल पर शांत हुआ. वहीं, डीएसपी विनय कुमार राय ने बताया कि स्थिति नियंत्रण में है. इधर, गुरुवार को डीएम रौशन कुशवाहा एवं एसपी कप्तान योगेंद्र कुमार ने बलिया में अनुमंडल स्तरीय शांति समिति की बैठक की. इसमें दोनों अधिकारियों ने शांति व सद्भाव बनाये रखने की अपील की. उन्होंने बताया कि वीडियो फुटेज के आधार पर उपद्रवियों की पहचान कर कानूनी कार्रवाई की जायेगी. वहीं औरंगाबाद के ओबरा थाने के कारा बाजार में बुधवार की रात प्रतिमा विसर्जन के दौरान हुए हंगामे के बाद गुरुवार की सुबह आक्रोशित लोगों ने बाजार को बंद रखा. इसके बाद एसडीपीओ कुमार ऋषि राज, एसडीओ मनोज कुमार आदि पहुंचे. एसडीओ व एसडीपीओ ने दुकानदारों से वार्ता कर दुकान खोलने का आह्वान किया. एसडीओ व एसडीपीओ ने शांति बनाये रखने की अपील की . विधि-व्यवस्था बनाये रखने के उद्देश्य से बाजार में पुलिस बलों की तैनाती की गयी है.

खगड़िया में प्रतिमा विसर्जन के दौरान मारपीट,एक दर्जन से अधिक गिरफ्तार

खगड़िया के अलौली थाना क्षेत्र के हरिपुर गांव में प्रतिमा विसर्जन के दौरान मारपीट हुई है. मारपीट में शामिल 14 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. बताया जाता है कि इस मामले में 14 लोगों को अलौली पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें