33.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

UPSC 2023 Result: बिहार के शहंशाह ने मारी बाजी, इंजीनियरिंग की पढ़ाई के बाद पत्रकारिता का भी ले चुके हैं अनुभव

बिहार के नरकटियागंज निवासी शहंशाह सिद्दिकी ने यूपीएससी 2023 परीक्षा में बाजी मारी है.

UPSC 2023 Result: यूपीएससी की सिविल सेवा परीक्षा 2023 का फाइनल रिजल्ट मंगलवार को जारी कर दिया गया. इस परीक्षा में शामिल 1016 परीक्षार्थी सफल हुए हैं. आदित्य श्रीवास्तव ने टॉप किया है जबकि बिहार से इस बार भी कई अभ्यर्थियों को सफलता हासिल हुई है. इनमें ही एक सफल अभ्यर्थी पश्चिम चंपारण के नरकटियागंज के शहंशाह सिद्दिकी हैं. जिन्हें UPSC CSE 2023 में 762 वां रैक हासिल हुआ है. शहंशाह को मिली सफलता से पूरे शहर में हर्ष का माहौल है.

नरकटियागंज के शहंशाह को मिला 762वां रैंक

बिहार के नरकटियागंज का बेटा भी अब सिविल सेवक बनेगा. नगर के सुमन विहार मुहल्ले के सेवानिवृत शिक्षक मो रिजवनुल्लाह के पुत्र शहंशाह सिद्दिकी ने UPSC 2023 की परीक्षा पास की है. शहंशाह ने अपने छठे प्रयास में देश के सबसे कठिन माने जाने वाले इस परीक्षा को पास किया है. यूपीएससी ने जब मंगलवार को फाइनल रिजल्ट जारी किया तो शहंशाह के घर में खुशी की लहर दौड़ पड़ी. अव्वल परीक्षार्थियों की सूची में शहंशाह भी शामिल था. उन्हें 762वां रैंक हासिल हुआ है.

रिटायर शिक्षक के पुत्र हैं शहंशाह

शहंशाह के पिता रिटायर शिक्षक हैं और उनकी मां शबरून नेशा गृहिणी हैं. अपनी इस कामयाबी का श्रेय शहंशाह ने अपने माता-पिता को दिया है. शहंशाह ने अपनी प्रारंभिक पढ़ाई नगर के ही प्लस टू उच्च विद्यालय से की. इंटर तक की पढ़ाई उन्होंने टी पी वर्मा कालेज से की.

ALSO READ: UPSC CSE Result 2023 के टॉप टेन में इतनी लड़कियां, प्रथम दो स्थान पर लड़कों का कब्जा

इंजीनियरिंग की पढ़ाई करने के बाद पत्रकारिता जगत से जुड़े

शहशांह ने बताया कि उन्होंने चेन्नई के विनायक मिशन यूनिवर्सिटी से सिविल इंजीनियरिंग की पढ़ाई की. इसके बाद वो पत्रकारिता जगत से जुड़ गए. उन्होंने एक न्यूज नेटवर्क में टी वी पत्रकारिता के क्षेत्र में चार सालों तक काम किया. शहंशाह तीन भाई हैं. उनके बड़े भाई शहनवाज रिजवान समाजिक कार्यकर्ता हैं .जबकि छोटा भाई आजाद पढ़ाई कर रहा है. वहीं सबसे छोटी बहन खालिदा यास्मीन भी पढ़ाई कर रही हैं. इधर शहंशाह ने यूपीएससी में बाजी मारी तो उनके घर पर बधाई देने वालों का तांता लगने लगा. कालेज के प्राचार्य डा. लक्ष्मीकांत राय, प्लस टू उच्च विद्यालय के डा. अरविंद तिवारी, शिक्षक संध के भोट चतुर्वेदी, अवधेश तिवारी समेत नगर के शिक्षा के क्षेत्र से जुड़े लोगों ने उन्हें बधाई दी है.

पिता बोले- बेटे ने शहर का नाम किया रौशन, अब देश की बारी

शहंशाह के पिता मों रिजवानुल्लाह ने बेटे की कामयाबी को शहर की कामयाबी बताया है. उन्होंने कहा कि उन्हें अपने बेटे से उम्मीद है कि वो अधिकारी बन कर दीन हीनोंं की सेवा और समाज के अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्तियों की मदद करते हुए देश की सेवा करेगा.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें