29.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

मुंडन संस्कार के लिए उमड़े लोग, पूरा शहर हो गया जाम

बच्चों के मुडंन संस्कार के लिए शुक्रवार को शहर के रामरेखा घाट पर पूरे दिन श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा. मुंडन को लेकर जनसैलाब उमड़ पड़ा था.

बक्सर. बच्चों के मुडंन संस्कार के लिए शुक्रवार को शहर के रामरेखा घाट पर पूरे दिन श्रद्धालुओं का तांता लगा रहा. मुंडन को लेकर जनसैलाब उमड़ पड़ा था. श्रद्धालुओं की संख्या के आगे धार्मिक महता वाले रामरेखाघाट छोटा पड़ गया था. वहीं प्रशासनिक स्तर पर अपेक्षाकृत नगर को जाम से बचाने के लिए पुलिस के जवान अहिरौली मोड़ के साथ गोलंबर पर मुंडन संस्कार वाली बड़ी गाडियों को रोक दिया गया था. जिससे नगर में कम अव्यवस्था रही. शुभ मुहूर्त के कारण भीड़ इतनी बढ़ी कि गंगा घाट से लेकर वहां जाने वाले रास्ता में पैर रखने तक की जगह नहीं थी. भीषण गर्मी से बचने के लिए अहले सुबह ही ऐतिहासिक एवं धार्मिक महता वाले रामरेखा घाट पर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ पड़ी. नगर की सभी दिशाओं से वाहनों का आने का सिलसिला पूरे दिन कायम रहा. इन वाहनों पर लगे ध्यनि विस्तारक के साथ ही धार्मिक गीतों से पूरा नगर गुंजायमान हो गया था. जिधर देखिये उधर महिलाएं झुंड बनाकर मुडंन संस्कार के गीत गाती नजर आयी. इसको लेकर उतर प्रदेश के सीमावर्ती इलाके समेत सूबे के अन्य जिलों से भी लोग पहुंचे थे. यहां पहुंचने के तुरंत बाद श्रद्धालु गंगा में डुबकी लगाये तथा बच्चों का मुंडन कराकर उन्हें भी स्नान कराये. वैदिक मंत्रोचार के बीच गंगा मइया की पूजा-अर्चना किया गया. इसके बाद नाव पर सवार होकर श्रद्धालु गंगा के दूसरे किनारे पहुंचे. जहां परंपरागत तरीके से गंगा मइया की आराधना करने के बाद रामरेखा घाट पर लौटे. इसको लेकर उमड़ी भीड़ के चलते आम लोगों को भले ही परेशानी हुई, परंतु रामरेखा घाट पर रहने वाले पंडितों, नाविकों व उसके पास रहने वाले व्यवसायियों की बल्ले-बल्ले रहा. पंडितों व नाईयों के लिए लोगों को घंटों इंतजार करना पड़ रहा था. आचार्यों के मुताबिक संतान की सलामती के लिए मुंडन संस्कार कराने का रिवाज है. इस संस्कार की रस्म अदायगी से बच्चों का जीवन सुखी व दीर्घायु होता है. पूरे दिन शहर में महिलाओं की गीत गूंजती रहा. ट्रैफिक व्यवस्था रही ध्वस्त मुुंडन संस्कार के लिए पहुंचने वाले वाहनों को एनएच-922 पर अहिरौली मोड एवं गोलंबर पर रोका गया. इसके बावजूद छोटे वाहनों एवं नीजी वाहनों से लोग मुंडन को लेकर पहुंचे. जिसके कारण शहर की सड़कें जाम से कराहने लगी. जिससे यातायात व्यवस्था चरमरा गयी और अन्य जगहों की ओर जाने वाली यात्री भी फंसे रहे. सड़कों पर बेतरतीब तरीके से वाहनों को खड़ा करने से आवागमन बाधित हो गया था. नगर के मेन रोड, वीर कुंवर सिंह चौक, त्योति प्रकाश चौक, सोन बड़ी नहर के साथ ही किला मैदान वाहनों का स्टैंड बना रहा. जिससे नगर के लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. नगर के सभी दिशाओं से आने वाले सड़काें पर पुलिस की तैनाती प्रवेश द्धार पर ही किया गया था. लेकिन इन जगहों पर बड़े वाहनों को रोका गया. जबकि मुंडन संस्कार के लिए छोटे वाहन ही काफी पहुंचे. जिनपर अंकुश नली लग पाया. जिसके कारण नगर में छोटे वाहनों के कारण जाम की स्थिति कायम हो गई थी. पूरे दिन रेंगते हुए वाहन चले. नगर के प्रवेश द्धार पर वाहनों की रोक रहा बेअसर नगर के सभी प्रवेश द्धार पर पूर्व की तैयारी के तहत वाहनों के प्रवेश पर रोक लगाया गया था. इसको लेकर पुलिस के अधिकारी व जवान तैनात रहे. जिसका असर भी नगर की जाम पर बेअसर रहा. नगर में चारों तरफ जाम का नजारा कायम रहा. वहीं प्रवेश द्धार पर कुछ बड़े वाहनों को तो रोक लिया गया था, लेकिन छोटे वाहन नगर में प्रवेश कर गये. जिसके कारण नगर में जाम की स्थिति कायम रही. रोक भी बेअसर साबित हुआ. नगर के रोड से लेकर खाली जगह बन गये थे स्टैंड नगर के चरित्रवन से लेकर बाईपास रोड, मेन रोड, दरिया शहीद बाबा परिसर, किला मैदान, शहर के ज्योति चौक, वीर कुंवर सिंह चौक, मुनीम चौक, अंबेडकर चौक, सिंडिकेट चौक, गोलंबर, आंबेडकर चौक, चरित्रवन रोड, खलासी मुहल्ला रोड समेत नगर की सभी सड़कें वाहनों से भरी पड़ी थी. नगर के बाहर रोकने के लिए बनाये गये पोस्ट भी विशेष प्रभावित नहीं रहा. छोटे वाहन नगर में प्रवेश कर गये. जिसके कारण अव्यवस्था कायम हो गई.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें