1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar news nitish kumar govt big initiative amid corona crisis in bihar mukhyamantri udyami yojana start for womes and youths get loan in just one percent interest upl

कोरोना काल में नीतीश सरकार की बड़ी पहल, महिला और युवाओं के लिए उद्यमी योजना शुरू, मात्र 1% ब्याज पर मिलेगा पांच लाख रु लोन

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार
File

Bihar News: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) की अध्यक्षता में सोमवार को राज्य कैबिनेट (Cabinet Meeting) की महत्वपूर्ण बैठक हुई. इसमें महिलाओं एवं युवाओं को स्वरोजगार के लिए मुख्यमंत्री महिला एवं युवा उद्यमी योजना को स्वीकृति दी गयी है. साथ ही इन दोनों योजनाओं के लिए वर्ष 2021-22 में 200-200 करोड़ रुपये जारी किये गये, ताकि इस कोरोना काल में अधिक-से-अधिक संख्या में महिला और युवा इसका लाभ उठा सकें.

इन योजनाओं के तहत महिलाओं और युवाओं को 10-10 लाख रुपये का लोन सरकार देगी. इसमें पांच लाख रुपये अनुदान होगा, जबकि युवाओं को शेष पांच लाख रुपये महज एक प्रतिशत ब्याज के साथ लौटाने होंगे. महिलाओं को बिना ब्याज के पांच लाख रुपये लौटाने की सुविधा होगी.

वहीं, मुख्यमंत्री एससी-एसटी और अति पिछड़ा वर्ग उद्यमी योजना में बदलाव किये गये हैं. इसके तहत अब अति पिछड़ा वर्ग के लोगों को भी एससी-एसटी वर्ग के लोगों की तरह ही उद्योग लगाने के लिए सुविधाएं मिलेंगी. बैठक में कुल नौ एजेंडों को मंजूरी दी गयी. इसमें सीएम समेत तमाम मंत्री और सचिव ऑनलाइन ही जुड़े थे.

Sarkari Naukri In Bihar: 151 रसोइयाें की होगी नियुक्ति

कैबिनेट ने सभी जिलों में सरकारी अतिथि गृहों या परिसदनों या सर्किट हॉउस में रसोइयों के 151 पद सृजित किये हैं. इन पदों पर नियुक्ति होने से सभी अतिथि गृहों में उचित सुविधा यहां ठहरने वालों मिल सकेगी. इसके लिए सामान्य प्रशासन विभाग के तहत बिहार कार्यालय परिचारी (विशिष्ट) (भर्ती एवं शर्ते) नियमावली, 2010 को मंजूरी दी गयी है.

परिवहन विभाग ने गाड़ियों के मनपसंद (च्वाइस) नंबर अधिक-से-अधिक लोगों को दिलाने के लिए विशेष तौर पर पहल करने का प्रावधान किया है. इसके तहत वाहन डीलर अब लोगों को उनके च्वाइस का नंबर लेने के लिए प्रेरित करेंगे. इसके बदले में संबंधित डीलरों को भी प्रोत्साहन राशि या निश्चित मात्रा में इंसेंटिव दी जायेगी.

इसके लिए बिहार मोटरगाड़ी (यथासंशोधित) नियमावली, 1992 में एक विशेष नियम का प्रावधान किया गया है. बिहार आकस्मिकता निधि की राशि को 350 करोड़ से बढ़ाकर 8732 करोड़ कर दी गयी है. यह अस्थायी बढ़ोतरी 30 मार्च, 2022 तक के लिए की गयी है. कोरोना काल में जरूरी कार्यों को ध्यान में रखते हुए यह प्रावधान किया गया है.

Rajgir Nature Safari: राजगीर में नेचर सफारी में बनेगा ओपी

वहीं, नालंदा जिले के राजगीर में मौजूद नेचर सफारी में ओपी के सृजन को मंजूरी दी गयी है. इसके संचालन के लिए 96 पदों की स्वीकृति दी गयी है. कैबिनेट की बैठक में सीतामढ़ी के वरीय उपसमाहर्ता नरेंद्र नाथ को सेवा से बर्खास्तगी का दंड देने पर सहमति बनी है. वह बिप्रसे के पदाधिकारी हैं.

Posted By: Utpal Kant

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें