1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. bihar news parents were getting minor daughter married bal vivah stopped due to brother complaint in bhagalpur skt

माता-पिता करा रहे थे नाबालिग बेटी की शादी, भाई की शिकायत पर रोकी गयी

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो
social media

महिला हेल्पलाइन के हस्तक्षेप के बाद नाबालिग लड़की की शादी को रोक दी गयी है. गोगरी एसडीओ सुभाष चन्द्र मंडल के आदेश पर नाबालिग के घर पहुंचे बीडीओ अजय कुमार व थानाघ्यक्ष शरद कुमार ने लड़की के माता-पिता को समझाते हुए शादी को रोक दी. बताया जाता है कि गोगरी थाना क्षेत्र स्थित शेरचकला गांव में 28 दिसंबर को 14 साल की एक नाबालिग लड़की की शादी हो रही थी. सूत्र बताते हैं कि उक्त नाबालिग की शादी गोगरी प्रखंड के शिशवा गांव के सुमन कुमार से होनी थी. ये शादी दोनों पक्षों की सहमती से हो रही थी. शादी की तैयारी पूरी थी. शादी सोमवार को शिशवा मंदिर में होनी थी, लेकिन शादी को स्थानीय प्रशासन के दवाब में आखिरी वक्त पर रोक दी गयी.

भाई की शिकायत पर रोकी शादी

जानकारी के मुताबिक गरीबी तथा मजबूरी के कारण भले ही नाबालिग के माता-पिता अपनी बेटी की शादी करने को राजी हो गये थे, लेकिन लड़की के भाई अपने नाबालिग बहन की शादी से खुश नहीं थे. लड़की के भाई के मना करने के बाद उनके माता-पिता मानने को तैयार नहीं हुए. बताया जाता है कि दिल्ली में नौकरी कर रहे लड़की के भाई ने शादी के कुछ घंटे पहले फोन कर पूरे मामले की जानकारी महिला हेल्पलाइन के परियोजना प्रबंधक रुबी सीमा को दी. उन्होंने परियोजना प्रबंधक को बताया कि उनकी बहन अभी नाबालिग है, लेकिन घरवाले आज उसकी शादी करा रहे हैं. इन्होंने महिला हेल्पलाइन के अधिकारी से अपने बहन की शादी रोकने की गुहार लगायी. बताया जाता है कि लड़की के भाई की शिकायत पर परियोजना प्रबंधक ने गोगरी एसडीओ को मामले की जानकारी देते हुए नाबालिग लड़की की शादी रोकने को कहा. एसडीओ के आदेश पर शेरचकला पहुंचे स्थानीय पदाधिकारी ने नाबालिग लड़की की शादी पर रोक लगा दी.

माता-पिता के नाबालिग को बुलाया गया कार्यालय

शादी रोके जाने के बाद मंगलवार को महिला हेल्पलाइन में नाबालिग के साथ-साथ उनके माता-पिता को बुलाया गया, जहां परियोजना प्रबंधक रुबी सीमा ने उन्हें समझाया. मौके पर जहां नाबालिग को पढ़ाई करने को कहा गया. वहीं उनके माता-पिता को हिदायत दी. परियोजना प्रबंधक ने उन्हें (लड़की के माता-पिता) कहा कि 18 साल से पहले बच्ची की शादी करना कानूनन अपराध है. कहा कि अगर उन्होंने यह गलती दोबारा करने का प्रयास किया तो उनके विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज करायी जायेगी.

थानाध्यक्ष ने कहा 

शेरचकला में एक नाबालिग लड़की की शादी करायी जा रही थी. सूचना मिलने पर वहां पहुंचकर शादी को रोक दिया गया. लड़की माता-पिता को नोटिस जारी किया गया है. उन्हें हिदायत दी गयी है कि अगर उन्होंने यह गलती दूसरी बार की तो उन पर प्राथमिकी दर्ज करायी जायेगी.

शरद कुमार, थानाध्यक्ष, गोगरी

माता-पिता को समझाया गया

नाबालिग लड़की के भाई ने फोन कर यह बताया था कि उनकी बहन अभी नाबालिग है. इसके बाद भी उसकी शादी करायी जा रही है. जिसके बाद इस मामले की जानकारी उन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी को दी. अनुमंडल पदाधिकारी के निर्देश पर स्थानीय प्रशासन के द्वारा नाबालिग की शादी पर रोक लगा दी है. मंगलवार को नाबालिग के साथ-साथ उसके माता-पिता को भी कार्यालय बुलाकर उन्हें समझाया गया.

रुबी सीमा, परियोजना प्रबंधक महिला हेल्पलाइन

Posted By: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें