27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

डीपीओ के निर्देश के सवा माह बाद भी नहीं हो सका शिक्षकों की सेवा पुस्तिका का संधारण

डीपीओ के निर्देश के एक माह से अधिक बीत जाने के बाद भी दो वर्ष या उससे अधिक सेवा पूर्ण कर कर चुके जिला के हजारों शिक्षक शिक्षिकाओं के सेवा पुस्त का संधारण नहीं हो सका है.

बेतिया. डीपीओ के निर्देश के एक माह से अधिक बीत जाने के बाद भी दो वर्ष या उससे अधिक सेवा पूर्ण कर कर चुके जिला के हजारों शिक्षक शिक्षिकाओं के सेवा पुस्त का संधारण नहीं हो सका है. छठे चरण में नियोजित संबंधित शिक्षक शिक्षिकाओं के सेवा पुस्तिका का संधारण कर ग्रेड पे का लाभ देते हुए वेतन निर्धारण का आदेश पत्र स्थापना संभाग के डीपीओ योगेश कुमार के द्वारा बीते 19 मार्च को जारी आदेश में सात दिन में ही अनुपालन सुनिश्चित करने का आदेश सभी बीइओ और अन्य संबंधित को दिया गया था. जिसके एक माह से ज्यादा होने के बाद भी जिले के कई प्रखंडों में सेवा पुस्तिका संधारण एवं वेतन निर्धारण का कार्य शुरू नही हो पाया है. जिससे जिले के शिक्षकों में आक्रोश व्याप्त है.अनेक पीड़ित शिक्षक शिक्षिकाओं ने नाम नहीं छापने की शर्त पर बताया कि जिला आधे दर्जन से भी अधिक अंचल के बीईओ का प्रभार डीपीओ के जिम्मे है. इनके द्वारा ही काम पूरा नहीं करने को लेकर अन्य प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी भी वरीय अधिकारी के आदेश की अनदेखी कर रहे हैं. यहां उल्लेखनीय है कि सभी प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी को निर्देश दिया गया था कि जिन शिक्षकों की सेवा अवधि बिना किसी टूट के दो वर्ष या अधिक की सेवा पूर्ण हो चुके शिक्षक शिक्षिकाओं का सेवा पुस्तिका और वेतन निर्धारण एक सप्ताह के अंदर करना सुनिश्चित करेंगे. परंतु एक माह से भी ज्यादा समय होने के बाद भी जिले के कई प्रखंडों यथा नौतन, बैरिया, चनपटिया में वेतन निर्धारण का कार्य नहीं हो पाया है. वहीं टीइटी शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष राहुल राज ने बताया कि छठे चरण अंतर्गत नियुक्त नियोजित शिक्षकों को दो वर्ष की सेवा पूर्ण करने के बाद ग्रेड पे देने हेतु पत्र निर्गत करने के एक माह होने के बाद भी पूरे जिले में सेवा पुस्तिका और वेतन निर्धारण का कार्य पूर्ण नही होना विभागीय उदासीनता को प्रदर्शित करता है. शिक्षकों का सेवा अवधि फरवरी में ही दो साल पूर्ण हो चुका है परंतु विभागीय उदासीनता के कारण शिक्षकों को अभी भी वेतन बिना ग्रेड पे ही मिल रहा है. सक्षमता परीक्षा में सफल होने के बाद शिक्षकों का नियोजन ईकाई बदल जाएगा साथ ही कुछ ऐसे भी शिक्षक है जिनका जिला भी बदल चुका है वैसे शिक्षकों को एरियर के रूप में अपना वेतन निकालने में काफी समस्या का सामना करना पड़ सकता है. इधर प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष नर्वोदय ठाकुर और प्रधान महासचिव विपिन कुमार यादव ने जिला शिक्षा अधिकारी रजनीकांत प्रवीण और स्थापना संभाग के डीपीओ योगेश कुमार से विभागीय निर्देश पर जारी उक्त आदेश का तत्काल प्रभाव से अनुपालन सुनिश्चित करने की अपील की है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें