36.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

छाई लदे हाइवा ने चाचा-भतीजे को कुचला, दोनों की मौत के बाद उग्र लोगों ने किया बवाल

बेगूसराय में रफ्तार का कहर एक बार फिर देखने को मिला है, जब सोमवार की रात छाई ढोने में लगी एक तेज रफ़्तार हाइवा ने बाइक सवार दो युवकों को कुचल दिया.

बीहट. बेगूसराय में रफ्तार का कहर एक बार फिर देखने को मिला है, जब सोमवार की रात छाई ढोने में लगी एक तेज रफ़्तार हाइवा ने बाइक सवार दो युवकों को कुचल दिया. घटना रिफाइनरी थाना क्षेत्र के गुप्ता बांध स्थित एनटीपीसी बोरोपीट के समीप की है. हादसे में दोनों बाइक सवार युवकों की मौत हो गयी. दोनों मृतक दूर के रिश्ते में चाचा-भतीजे थे. घटना के बाद हाइवा घटनास्थल से निकल भागने में सफल रहा. मृतक की पहचान मटिहानी थाना क्षेत्र के चकबल्ली दियारा वार्ड-5 निवासी पवन राय का 25 वर्षीय पुत्र विवेक राय और रामबली राय का 21 पुत्र कारी राय के रूप में की गयी है. घटना से नाराज लोगों ने दोनों शव को रात में ही सड़क पर रखकर जाम कर दिया और जमकर पुलिस प्रशासन के खिलाफ हंगामा किया. घटना की सूचना मिलते ही बरौनी रिफाइनरी थाना पुलिस लोगों को समझाने बुझाने में जुटी रही, लेकिन लोग मानने को तैयार नहीं थे. घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार विवेक कुमार और कारी राय बाइक से बीहट बाजार सब्जी खरीदने घर से निकले थे. सब्जी खरीदकर गुप्ता बांध के रास्ते घर लौट रहे थे. इसी क्रम में तेज रफ्तार हाइवा ने बाइक में ठोकर मार दी, जिसके कारण कारी राय की घटनास्थल पर ही मौत हो गयी और विवेक कुमार गंभीर रूप से घायल हो गया. उसकी अस्पताल जाने के दौरान रास्ते में ही मौत हो गयी.आक्रोशित परिजनों व ग्रामीणों ने दोनों शव को गुप्ता बांध पर रखकर सड़क जाम कर दिया. स्थानीय लोगों ने कहा कि एनटीपीसी प्रबंधन की लापरवाही के कारण इस जगह लगातार घटना घट रही है. सिंगल सड़क होने के बावजूद गाड़ियों की तेज रफ्तार के कारण लोगों को परेशानी होती है. खास करके रात में चालक इस रास्ते से गाड़ी तेज चला कर आते-जाते हैं. गाड़ियों की तेज रोशनी और उड़ते छाय के कारण सामने वालों को कुछ दिखाई नहीं देता है. घटना में एनटीपीसी बोरोपीट से छाई लेकर रात-दिन चलनेवाला हाइवा गुप्ता बांध पर स्थानीय लोगों की सुरक्षा की अनदेखी व लापरवाही किये जाने से नाराज ग्रामीणों ने उचित मुआवजा व मृतकों की पत्नी को कंपनी में नौकरी देने की मांग करते हुए रात नौ बजे से शव को चकबल्ली स्थित गुप्ता बांध के पास रखकर सड़क जाम कर दिया. जामस्थल पर परिजनों के करु 0ण क्रंदन से उपस्थित लोगों की आंखें भींग गयी. मां और पत्नी के अलावे छोटे-छोटे बच्चों का रोते-रोते बुरा हाल था, गांव की महिलायें उन्हें संभालने में लगी हुई थी. आक्रोशित ग्रामीणों द्वारा एनटीपीसी के न्यू एक्सटेंशन प्रोजेक्ट के मुख्य द्वार के समीप दोनों युवको के शव को सड़क पर रखकर उचित मुआवजे की मांग को लेकर धरना-प्रदर्शन करते हुए एनटीपीसी प्रबंधन के खिलाफ नारेबाजी की.इसके पूर्व सभी आक्रोशित ग्रामीण एनटीपीसी उपनगरी परिसर स्थित नेताजी भवन पर भी पहुंचे थे और मुआवजे की मांग को लेकर हंगामा किया. कड़ी धूप और उमस भरी गर्मी के बावजूद बड़ी संख्या में महिलाएं भी डटी रही.धरना-प्रदर्शन की सूचना पाते ही सदर एसडीओ राजीव कुमार,सदर एसडीपीओ-1 सुबोध कुमार,सदर एसडीपीओ-2 भाष्कर रंजन, तेघड़ा एसडीपीओ डा रवीन्द्र मोहन प्रसाद,बरौनी बीडीओ अनुरंजन कुमार, सीओ सूरजकांत, मटिहानी बीडीओ सुधीर कुमार, सीओ प्रथा अखौरी के अलावे बरौनी थानाध्यक्ष रजनीश कुमार, रिफाइनरी थाना की प्रभारी नूतन कुमारी, चकिया थानाध्यक्ष नीरज कुमार चौधरी, एफसीआइ थानाध्यक्ष अंजलि कुमारी, मुफ्फसिल के फैसल अहमद अंसारी, सिघौंल थानाध्यक्ष नवीन कुमार, गढहरा ओपीध्यक्ष सुमित चौधरी, फुलवड़िया ओपीध्यक्ष दिवाकर प्रसाद सिंह और बड़ी संख्या में पुलिस के जवान व्रजवाहन के साथ मौजूद थे. वहीं एनटीपीसी के अपर महाप्रबंधक एचआर सरोज कुमार, वरिष्ठ प्रबंधक अर्णव मुखर्जी एचआर के एन मिश्रा आदि मौजूद थे. घटना की जानकारी मिलते ही इंडी गठबंधन प्रत्याशी अवधेश राय, तेघड़ा विधायक रामरतन सिंह,मटिहानी पूर्व विधायक नरेन्द्र कुमार सिंह,एटक नेता प्रह्लादसिंह, पूर्व भाजपा जिलाध्यक्ष राजकिशोर सिंह जामस्थल पहुंचकर मामले की जानकारी लेते हुए जिला प्रशासन को मांगों से अवगत कराया और जल्द से जल्द हस्तक्षेप करने को कहा. सभी जनप्रतिनिधि वार्ता खत्म होने तक कड़ी धूप में ग्रामीणों के साथ बैठे रहे. ग्रामीणों ने उनके समक्ष दोनों मृतकों के परिजन को दस-दस लाख रुपये और एक-एक आश्रित को नौकरी देने की मांग रखी. एनटीपीसी के अधिकारियों, जिला प्रशासन व मौजूद जनप्रतिनिधियों से वार्ता में मिले आश्वासन के करीब साढ़े तीन घंटे बाद एनटीपीसी मुख्य द्वार के समीप से धरना-प्रदर्शन को समाप्त कराया जा सका. इसके बाद कुल मिलाकर 17 घंटे बाद शव को पोस्टमार्टम हेतु भेजा गया. एटक नेता प्रह्लाद सिंह ने बताया कि वार्ता में एनटीपीसी द्वारा पांच-पांच लाख रुपये, परिवहन विभाग द्वारा पांच-पांच लाख तथा मुख्यमंत्री पारिवारिक लाभ योजना के तहत 20-20 हजार तथा सांसद प्रत्याशी अवधेश राय, तेघड़ा विधायक, पूर्व विधायक नरेन्द्र कुमार सिंह तथा तेघड़ा एसडीपीओ डा रवीन्द्र मोहन प्रसाद द्वारा संयुक्त रूप से दोनों परिवार के आश्रितों को एक-एक लाख रुपये अलग से दिये जायेंगे. इसके अलावा दोनों परिवारों के एक-एक आश्रित को एनटीपीसी में नौकरी देने की बात पर सहमति बनने के बाद धरना-प्रदर्शन समाप्त किया गया. मौके पर पैक्स अध्यक्ष नवीन सिंह,राजद नेता राजीव कुमार,अविनाश कौशिक,अशोक सिंह, रामप्रकाश राय, शंभू कुमार, बबलू कुमार सहित अन्य ग्रामीण व जनप्रतिनिधि मौजूद थे.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें