25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

MS DHONI की इंडियन रेलवे में नियुक्ति की चिट्ठी सोशल मीडिया पर वायरल, जानें पूरा मामला

MS DHONI: भारत बनाम इंग्लैंड रांची टेस्ट के दौरान बीसीसीआई ने भारतीय रेलवे के लिए धोनी का ऑफर लेटर सभी को दिखाया. फैंस ने बिना समय बर्बाद किए इसे इतना शेयर किया और इसके बारे में बात की कि यह सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल होने लगा.

भारत में शायद ही कोई क्रिकेट फैन होगा जो भारतीय क्रिकेट टीम के महान कप्तान एमएस धोनी की कहानी नहीं जानता होगा. चाहे वह उनकी निजी जीवन हो या उनके संघर्ष के दिन, प्रशंसक क्रिकेट के सफल कप्तान एमएस धोनी से भली भांति परिचित हैं. प्रशंसकों और युवा खिलाड़ियों के बीच एमएस धोनी की क्रेज इस प्रकार की है कि सभी उनसे मिलने का कोई मौका नहीं छोड़ते. उनके प्रति प्रशंसकों के प्यार की एक झलक रविवार को देखने को मिली जब भारत बनाम इंग्लैंड रांची टेस्ट के दौरान बीसीसीआई (BCCI)ने भारतीय रेलवे के लिए धोनी का ऑफर लेटर सभी को दिखाया. फैंस ने बिना समय बर्बाद किए इसे इतना शेयर किया और इसके बारे में बात की कि यह सोशल मीडिया पर काफी तेजी से वायरल होने लगा.

इसलिए ऑटोग्राफ के लिए MS DHONI के पीछे भागे थे गावस्कर

आईपीएल 2023 फाइनल मुकाबले के बाद भारत के पूर्व दिग्गज खिलाड़ी सुनील गावस्कर चेन्नई सुपर किंग्स के कप्तान एमएस धोनी के पीछे ऑटोग्राफ के लिए ठीक उसी तरह भागे थे, जिस तरह से एक फैन खिलाड़ी के पीछे भागता है. उस किस्से के बारे में गावस्कर ने बताया, जब मुझे पता चला कि चेन्नई सुपर किंग्स और एमएस धोनी चेपॉक में लैप ऑफ ऑनर करने जा रहे हैं, तो मैंने उस क्षण को यादगार बनाने का फैसला किया. और इसलिए मैं एमएस धोनी के पीछे ऑटोग्राफ के लिए भागा. उस वक्त धोनी ने गावस्कर की जर्सी पर अपना साइन किया था. गावस्कर ने कैप्टन कुल की तारीफ करते हुए कहा, धोनी शानदार खिलाड़ी, व्यक्ति और कप्तान हैं. उन्होंने अपनी कप्तानी में चेन्नई को पांच बार चैंपियन बनाया और उम्मीद करते हैं कि छठी बार भी चैंपियन बनाएंगे.

ALSO READ: MS Dhoni के फॉर्म हाउस में नजर आए Ravindra Jadeja, इंस्टाग्राम में पोस्ट की तस्वीरे

ICC के तीन ट्रॉफी जीतने वाले इकलौते कप्तान

एमएस धोनी भारत के लिए तीनों आईसीसी लिमिटेड ओवर ट्रॉफी (वर्ल्ड कप, चैंपियंस ट्रॉफी और वर्ल्ड ट्वेंटी 20) जीतने वाले पहले और इकलौते कप्तान हैं. धोनी की कप्तानी में भारत ने सबसे पहले साल 2007 में टी20 वर्ल्ड कप पर कब्जा जमाया था. इसके बाद धोनी की कप्तानी में भारत वर्ल्ड कप 2011 में चैंपियन बना था. इसके बाद भारत ने साल 2013 में चैंपियंस ट्रॉफी के खिताब को अपने नाम किया था.

MS DHONI सबसे ज्यादा इंटरनेशनल मैच में कप्तान

कैप्टन कूल के नाम सबसे अधिक इंटरनेशनल मैचों में कप्तानी करने का वर्ल्ड रिकॉर्ड है. 15 अगस्त, 2020 को संन्यास से पहले धोनी ने 200 वनडे, 60 टेस्ट और 72 टी20 इंटरनेशनल में भारतीय टीम की कप्तानी की यानि कि कुल 332 इंटरनेशनल मैच. ऑस्ट्रेलिया के रिकी पोंटिंग 324 इंटरनेशनल मैच के साथ इस लिस्ट में दूसरे नंबर पर हैं. ऐसे में अब जहां टेस्ट और लिमिटेड ओवर क्रिकेट टीम के लिए अलग-अलग कप्तान बनाने का सिलसिला चल पड़ा है, उसे देखते हुए किसी के लिए भी इस रिकॉर्ड को तोड़ पाना बड़ा मुश्किल होगा.

ALSO READ: लंदन के रेस्टोरेंट में वामिका के साथ बैठे नजर आए Virat Kohli, तो अनुष्का कहां है?

इंटरनेशनल क्रिकेट में सर्वाधिक स्टंपिंग

विकेट के पीछे अपने तेजतर्रार एक्शन के लिए मशहूर धोनी बल्लेबाज को स्टंप आउट करने के माहिर हैं. उनके नाम 538 मैच में 195 स्टंपिंग (टेस्ट 38 + वनडे 123 + टी20I 34) के साथ इंटरनेशनल क्रिकेट में सर्वाधिक स्टंपिंग का वर्ल्ड रिकॉर्ड है. धोनी वनडे क्रिकेट में 100 स्टंपिंग के रिकॉर्ड तक पहुंचने वाले पहले विकेटकीपर थे. इंटरनेशनल क्रिकेट में सिर्फ तीन विकेटकीपर ऐसे हैं, जिनके नाम 100 से ज्यादा स्टंपिंग हैं पर 150 स्टंपिंग तक पहुंचने वाले वे अब तक के अकेले विकेटकीपर हैं. इसके अलावा उन्होंने वनडे में 321 कैच भी लपके हैं.

बतौर विकेटकीपर बल्लेबाज सबसे बड़ा स्कोर

धोनी एक कप्तान और विकेटकीपर के तौर पर जीतने सफल रहे हैं, उतने ही वह एक बल्लेबाज के तौर पर भी रहे हैं. वनडे क्रिकेट में विकेटकीपर बल्लेबाज के तौर पर सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड एमएस धोनी के नाम है. उन्होंने साल 2005 में श्रीलंका के खिलाफ 183 रनों जबरदस्त पारी खेली थी. इस दौरान उनके बल्ले से 15 चौके और 10 छक्के निकले थे.

ALSO READ: Mohammad Shami की हेल्थ को लेकर PM MODI चिंतित, ट्वीट कर कही ये बात

छक्का लगाकर सबसे ज्यादा वनडे मैच जिताने का रिकॉर्ड

क्रिकेट के इतिहास के अब तक के एकदिवसीय मैचों के सबसे बेहतरीन फिनिशर महेंद्र सिंह धोनी के नाम ही सबसे ज्यादा बार छक्के मारकर अपनी टीम को जिताने का रिकॉर्ड है. धोनी यह कारनामा अपने करियर में 9 बार कर चुके हैं और इन नौ छक्कों में सबसे अविस्मरणीय 2011 के विश्व कप के फाइनल में धोनी द्वारा लगाया गया छक्का है, जिससे भारत विश्व विजेता बना. धोनी के बाद दूसरे स्थान पर फ्लिंटॉफ, ब्रायन लारा और माइक हसी हैं जिन्होंने चार बार छह रन मार कर अपनी टीम को जिताया है.

नंबर 6 या उससे नीचे के नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए 10 हजार से ज्यादा इंटरनेशनल रन

एमएस धोनी ने अपने इंटरनेशनल करियर को कुल 17266 रन पर खत्म किया, इस गिनती में सबसे ख़ास बात ये है कि 10628 रन तब बनाए जब नंबर 6 या उससे नीचे के नंबर पर बल्लेबाजी की. इस लिस्ट में दूसरा नाम मार्क बाउचर का है, जिन्होंने 9,365 रन बनाए हैं. मिडिल आर्डर में एमएस धोनी की बल्लेबाजी की बराबरी कर पाना किसी भी क्रिकेटर के लिए बड़ा मुश्किल है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें