1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. ind vs eng w test 2nd day highlights shefali verma created history in debut test against england women smriti mandhana cricket news rkt

IND Vs ENG W: भाइयों के साथ छक्के मारने का कम्पटीशन करने वाली 17 साल की शेफाली ने अंग्रेजों की उड़ाईं धज्जियां, डेब्यू टेस्ट में रच दिया इतिहास

शेफाली वर्मा टेस्ट डेब्यू पर अर्धशतक लगाने वाली दूसरी सबसे कम उम्र की महिला खिलाड़ी भी बनीं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
शेफाली वर्मा ने डेब्यू टेस्ट में रच दिया इतिहास
शेफाली वर्मा ने डेब्यू टेस्ट में रच दिया इतिहास
फोटो - BCCI

IND Vs ENG W: सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना और शेफाली वर्मा ने गुरुवार को इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट मैचों में भारत के लिए सबसे बड़ी पहली विकेट की साझेदारी की. दोनों ने इंग्लैंड के खिलाफ चल रहे एकमात्र टेस्ट में 167 रन की साझेदारी कर यह उपलब्धि हासिल की. मंधाना और शेफाली ने पूर्व भारतीय क्रिकेटर अंजू जैन और चंद्रकांता कौल का 22 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा. पिछला सर्वश्रेष्ठ 1999 में अंजू और चंद्रकांता द्वारा बनाए गए पहले विकेट के लिए 132 रन था.

इस बीच, शेफाली टेस्ट डेब्यू पर अर्धशतक लगाने वाली दूसरी सबसे कम उम्र की महिला खिलाड़ी भी बनीं. दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज जोहमरी लोगटेनबर्ग अभी भी टेस्ट डेब्यू पर अर्धशतक लगाने वाले सबसे कम उम्र के क्रिकेटर हैं. इंग्लैंड के 396/9 पर घोषित होने के बाद भारत ने पहली पारी में बिना विकेट खोए 150 से अधिक रन बना लिए थें. यह भारतीय महिलाओं के खिलाफ इंग्लैंड का सर्वोच्च स्कोर था और सभी महिला टेस्ट में उनका छठा उच्चतम स्कोर था.

शेफाली भाइयों के साथ छक्के मारने का करती थीं कम्पटीशन

मंधाना और शैफाली ने मैच में अपना शानदार फॉर्म जारी रखा और भारत को ड्राइवर की सीट पर बिठा दिया. 17 साल की शैफाली वर्मा ने युवा बल्लेबाज ने 152 गेंद में 13 चौकों और दो छक्कों से 96 रन की पारी खेली. वह केट क्रॉस की गेंद पर बड़ा शॉट लगाने की कोशिश में आउट हो गईं. वहीं इस पारी के बाद शैफाली ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में अपने बचपन का एक बड़ा ही अनोखा किस्सा सुनाया. शैफाली ने बताया कि बचपन में वह अपने भाइयों के साथ छक्के मारने का कम्पटीशन करती थी, और सबसे ज्यादा छक्के मारने वाले को उनके पिता इनाम के रूप में 10-20 रूपए देते थें.

बता दें कि हरियाणा की शेफाली डेब्यू टेस्ट में अर्धशतक लगाते ही भारत की ओर से पहले ही टेस्ट में अर्धशतक लगाने वाली सबसे कम उम्र की ओपनिंग बल्लेबाज बन गई. वहीं इस शानदार पारी के बाद शैफाली ने ट्वीट कर कहा कि मैं आप सभी को समर्थन और शुभकामनाओं के लिए धन्यवाद देना चाहता हूं. मुझे इस टीम का हिस्सा होने पर गर्व है. मैं जानती हूं कि मेरे पिता, मेरा परिवार, मेरा संघ, मेरी टीम और अकादमी मुझसे अधिक 4+ रन की कमी महसूस करेंगे, लेकिन मैं अन्य मौकों पर मैं सबके चेहरे पर मुस्कान लाऊंगी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें