1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. from the pages of history for the first time on this day odi cricket had the biggest individual score

इतिहास के पन्नों से : आज ही के दिन पहली बार वनडे क्रिकेट में बना था सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर

By Sameer Oraon
Updated Date
आज का दिन क्रिकेट इतिहास में बहुत ही खास दिन है क्योंकि आज ही के दिन एकदिवसीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर बना था.
आज का दिन क्रिकेट इतिहास में बहुत ही खास दिन है क्योंकि आज ही के दिन एकदिवसीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर बना था.
Twitter

आज का दिन क्रिकेट इतिहास में बहुत ही खास दिन है क्योंकि आज ही के दिन एकदिवसीय क्रिकेट के इतिहास में सबसे बड़ा व्यक्तिगत स्कोर बना था. ये पारी खेली थी पाकिस्तान के सईद अनवर ने. ये पारी इसलिए भी यादगार रहेगा क्योंकि सईद अनवर ने ये 194 रन भारत के खिलाफ चेन्नई में खेली थी. जिसे बाद में भारत के मास्टर ब्लास्टर कहे जाने वाले सचिन तेंदुलकर ने तोड़ दिया था. अनवर से पहले ये रिकॉर्ड दिग्गज क्रिकेटर विवियन रिचर्ड्स के नाम था.

उन्होंने 189 रनों की पारी खेली थी. अनवर उस मैच में बिल्कुल अलग ही रंग में दिखाई पड़ रहे थे और हर गेंदबाज उसके सामने बेअसर दिखाई पड़ रहा था, लेकिन दिलचस्प बात इस मैच की ये रही कि पाकिस्तान का कोई भी बल्लेबाज उस मैच में 39 रनों से आगे नहीं बढ़ पाया. पाकिस्तान की टीम 5 विकेट के नुकसान पर 327 रनों का स्कोर खड़ा की. यानी कि 4 बल्लेबाजों ने मिलकर सिर्फ 133 रन ही बना पाए थे. एक समय तो ऐसा लग रहा था कि आज क्रिकेट के इतिहास में वनडे क्रिकेट का पहला दोहरा शतक बन जाएगा. लेकिन तभी सचिन ने उस वक्त अनवर को सौरव गांगुली के हाथों कैच करा कर इस मुकाम को नहीं छूने दिया.

उन्होंने अपनी उस पारी में 22 चौके और 5 छक्के लगाए थे. जब भारत की बल्लेबाजी की बारी आई तो राहुल द्रविड़ के 107 रन और विनोद कांबली के 65 रनों के योगदान के बावजूद 292 रनों पर सिमट गयी. इस तरह भारत को इस मैच में 35 रनों से हार का सामना करना पड़ा था. लेकिन इसके बाद सचिन ने उनका ये रिकॉर्ड 2010 में ग्वालियर के मैदान पर तोड़ दिया था. यह वनडे इतिहास का उस समय पहला दोहरा शतक था. उसके बाद सचिन का ये रिकॉर्ड सलामी बल्लेबाज वीरेंद्र सहवाग ने तोड़ दिया था. सचिन का ये रिकॉर्ड ज्यादा दिनों तक बरकरार नहीं रह सका और सहवाग ने ये रिकॉर्ड वेस्टइंडीज के खिलाफ 219 रन बनाकर तोड़ दिया था. खास बात ये थी कि उस पारी को उन्होंने बतौर कप्तान खेला था. बाद में ये रिकॉर्ड रोहित शर्मा ने तोड़ दिया था.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें