34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Ruchak Yoga 2024: अगर कुंडली में है मंगल का रूचक योग, तो जीवन में मिलेगी सफलता और प्रतिष्ठा

Ruchak Yoga 2024: ज्योतिष में मंगल के द्वारा एक ऐसे राजयोग का निर्माण किया जाता है जो कि व्यक्ति को राजा के समान प्रसिद्धि देने वाला होता है और उस राजयोग का नाम है रुचक राजयोग.

Ruchak Yoga 2024: ज्योतिष शास्त्र में, मंगल ग्रह को साहस, पराक्रम, ऊर्जा और महत्वाकांक्षा का ग्रह माना जाता है. जब मंगल ग्रह किसी व्यक्ति की कुंडली में विशेष स्थिति में होता है, तो यह विभिन्न प्रकार के योगों का निर्माण कर सकता है. इनमें से एक महत्वपूर्ण योग “रूचक योग” है ज्योतिषशास्त्र के अनुसार मंगल ग्रह को उग्र स्वभाव का ग्रह मना जाता है मंगल मेष तथा वृश्चिक राशि के स्वामी है इनका दृष्टि जिस भाव में बैठते है, वहां से 1,4,7,8, भाव को देखते है किसके कारण कुंडली में मंगल का प्रभाव विषेश रूप से माना जाता है.

मंगल भूमि भवन के स्वामी माना जाता है .इनका प्रभाव अलग अलग राशियों पर अलग अलग पड़ता है.मंगल प्रबल हो सेना, पुलिस तथा सेना आधिकारी बनाता है.मंगल के प्रभाव के कारण इंजीनियरिंग तथा डॉक्टर भी बनते है.इनके अशुभता से स्वास्थ ठीक नही रहता है रक्तचाप सम्बन्धित समस्या होता है.

Trigrahi Yog 2024: बुध के गोचर से मिथुन राशि में बन रहा है त्रिग्रही योग, मिथुन कन्या सहित कई राशि होंगे मालामाल

रूचक योग क्या है?

रूचक योग तब बनता है जब मंगल ग्रह किसी व्यक्ति की कुंडली में लग्न (पहला भाव) या चंद्रमा (चौथा भाव) से केंद्र में स्थित होता है. इसका मतलब है कि मंगल ग्रह 1, 4, 7 या 10 वें भाव में मेष, वृश्चिक या मकर राशि में स्थित होना चाहिए. अगर आपके कुंडली में इन सभी भाव में किसी एक पर विराजमान हो तब रूचक योग बनता है ऐसे धन, धान्य से पूर्ण रहते है, उत्तम मकान का सुख प्राप्त होता है . स्वास्थ ठीक राहत है.

रूचक योग का प्रभाव

रूचक योग वाले व्यक्तियों में निम्नलिखित विशेषताएं होती हैं:

(1)साहसी और पराक्रमी: वे जीवन में चुनौतियों का सामना करने से नहीं डरते और अपनी इच्छाओं को पूरा करने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं.

(2)शारीरिक रूप से मजबूत: उनमें अच्छी शारीरिक ऊर्जा और स्टेमिना होता है.

(3)बुद्धिमान और निर्णायक: वे तीव्र बुद्धि रखते हैं और समय पर महत्वपूर्ण निर्णय लेने में सक्षम होते हैं.

(4)नेतृत्व गुण: उनमें नेतृत्व के गुण होते हैं और वे दूसरों को प्रेरित करने में सक्षम होते हैं.

(5)सफलता: वे जीवन में विभिन्न क्षेत्रों में सफलता प्राप्त करते हैं, विशेष रूप से व्यवसाय, राजनीति और प्रशासन में.

रूचक योग के प्रभाव को कैसे बढ़ाएं

यदि आपकी कुंडली में रूचक योग है, तो आप निम्नलिखित तरीकों से इसके प्रभाव को बढ़ा सकते हैं:

(1)मंगल ग्रह को मजबूत करें:
मंगल ग्रह को मजबूत करने के लिए आप मंगलवार का व्रत रख सकते हैं, हनुमान जी की पूजा कर सकते हैं और लाल रंग के कपड़े पहन सकते हैं.

(2)सकारात्मक सोच
हमेशा सकारात्मक सोचें और आत्मविश्वास बनाए रखें.
कर्मठता: अपने लक्ष्यों को प्राप्त करने के लिए कड़ी मेहनत और लगन से काम करें.

(3)दूसरों की मदद करें:
दूसरों की मदद करने और परोपकारी कार्यों में भाग लेने से मंगल ग्रह मजबूत होता है.

उपाय:
यदि आपकी कुंडली में मंगल कमजोर है, तो आप मंगल ग्रह को मजबूत करने के लिए उपाय कर सकते हैं. इनमें मंगलवार का व्रत रखना, हनुमान जी की पूजा करना, लाल रंग का वस्त्र धारण करना आदि शामिल हैं.

जन्मकुंडली से सम्बंधित किसी भी तरह से जानकारी प्राप्त करने हेतु दिए गए नंबर पर फोन करके जानकारी प्राप्त कर सकते है .

ज्योतिषाचार्य संजीत कुमार मिश्रा
ज्योतिष वास्तु एवं रत्न विशेषज्ञ
8080426594/9545290847

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें