ranchi

  • Aug 14 2019 3:52PM
Advertisement

भाजपा बेहद मजबूत, झारखंड में 65 से अधिक सीटें जीतेंगे, बोले नंदकिशोर यादव

भाजपा बेहद मजबूत, झारखंड में 65 से अधिक सीटें जीतेंगे, बोले नंदकिशोर यादव

रांची : झारखंड में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ताकत दोगुनी हो चुकी है. पार्टी इस वर्ष के अंत में होने वाले विधानसभा चुनाव में 65 से अधिक सीटें जीतने के अपने लक्ष्य को जरूर हासिल करेगी. पार्टी का बूथ स्तर पर बहुत ज्यादा विस्तार हुआ है. हर बूथ पर पार्टी मजबूत स्थिति में है. इसलिए भाजपा यह नहीं सोच रही कि उसके खिलाफ कौन चुनाव लड़ रहा है. केंद्र व राज्य सरकार के कामकाज और कार्यकर्ताओं के दम पर विधानसभा चुनाव जीतेंगे.

ये बातें बिहार के मंत्री और झारखंड विधानसभा चुनावों के सह प्रभारी नंद किशोर यादव ने बुधवार को भाजपा मुख्यालय में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहीं. उन्होंने कहा कि मंगलवार को उन्होंने पार्टी के नेताओं एवं मंत्रियों के साथ दो बैठकें कीं. इस दौरान पार्टी की स्थिति के बारे में जो जानकारी उन्हें मिली, इससे वह बिल्कुल निश्चिंत हैं.

उन्होंने कहा कि पार्टी को बहुत ज्यादा मेहनत करने की जरूरत है. सिर्फ केंद्र और राज्य सरकार के काम के बारे में लोगों को बता दिया जाये, तो 65+ का लक्ष्य पार्टी हासिल कर लेगी. पार्टी के नेता और कार्यकर्ता इस काम में जुट गये हैं. हर बूथ को मजबूत किया जा रहा है. पार्टी के 25 लाख सदस्य थे झारखंड में. ताजा सदस्यता अभियान में 25 लाख लोगों को जोड़ने का लक्ष्य रखा गया है. 17 लाख सदस्य बन चुके हैं. 31 अगस्त तक 25 लाख सदस्यों का लक्ष्य भी हासिल हो जायेगा.

श्री यादव ने कहा कि सदस्यता अभियान की समाप्ति के बाद पार्टी के मंत्री और सांसद बूथ अध्यक्षों से मिलेंगे और हर बूथ को मजबूत करने में जुट जायेंगे. श्री यादव ने पूरे विश्वास के साथ कहा कि प्रदेश में विपक्ष का कोई अस्तित्व नहीं है. वह सिर्फ नकारात्मक राजनीति कर रहा है. उन्होंने कहा कि झारखंड और केंद्र की वर्तमान सरकार ने जितने काम किये हैं, उतने काम कभी नहीं हुए. इसलिए जनता भाजपा के साथ है और पार्टी को जीत का पूरा विश्वास है.

विधानसभा चुनाव में किन-किन पार्टियों से गठबंधन की तैयारी है, इस सवाल के जवाब में नंदकिशोर यादव ने कहा कि प्रदेश में उन्हें किसी की जरूरत नहीं है. आजसू पार्टी पहले से भाजपा के साथ है, वह आगे भी गठबंधन का हिस्सा बनी रहेगी. श्री यादव ने साथ ही कहा कि झारखंड में भाजपा के खिलाफ कौन सी पार्टी चुनाव लड़ रही है, यह कोई मुद्दा ही नहीं है. विपक्षी दलों में या तो जेल वाले नेता हैं या बेल वाले. ऐसे लोग भाजपा का मुकाबला नहीं कर पायेंगे.

उम्रदराज नेताओं को टिकट देने या नहीं देने के सवाल पर श्री यादव ने कहा कि विधानसभा चुनाव की तैयारियों में झारखंड इकाई की मदद करने के लिए वह यहां आये हैं. वह पार्टी को चुनाव लड़ाने नहीं आये हैं. इसलिए किन लोगों को टिकट मिलेगा, किन्हें नहीं मिलेगा, यह वह तय नहीं करेंगे. झारखंड के प्रभारी ओपी माथुर अगले सप्ताह रांची आयेंगे, वही इस संबंध में कुछ निर्णय लेंगे.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement