Advertisement

patna

  • Feb 22 2019 3:08PM
Advertisement

भारत-पाक क्रिकेट मैच पर बोले तेजस्वी यादव, पुलवामा आतंकी हमले के कारण रोक सही नहीं

भारत-पाक क्रिकेट मैच पर बोले तेजस्वी यादव, पुलवामा आतंकी हमले के कारण रोक सही नहीं

पटना : पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान के बीच संबंधों में एक बार फिर कड़वाहट आ गयी है. इसका असर भारत और पाकिस्तान के बीच खेल संबंधों पर भी पड़ सकता है. दोनों देशों के बीच खेल संबंधों को लेकर तेजस्वी यादव ने कहा है कि क्रिकेट खिलाड़ी खेल भावना से खेलते हैं. साथ ही कहा कि हम पुलवामा हमले की कड़ी निंदा करते हैं और हम चाहते हैं कि इसका जवाब दिया जाये.  लेकिन, यह सही नहीं है कि पुलवामा हमले की वजह से दोनों देश एक साथ खेल नहीं सकते हैं.

यह भी पढ़ें : अलकतरा घोटाला में बिहार के पूर्व मंत्री व RJD विधायक को पांच साल की सजा और 20 लाख रुपये जुर्माना

यह भी पढ़ें : चार लोगों की मौत के बाद ग्रामीणों का फूटा गुस्सा, नौकरी की मांग को लेकर जाम की सड़क, आगजनी की

मालूम हो कि पुलवामा हमले के बाद भारत राजनीतिक और कूटनीतिक तौर पर पाकिस्तान पर दबाव बढ़ाने में जुटा है. इसका असर कलाकारों और खिलाड़ियों पर भी पड़ा है. एक ओर जहां ऑल इंडिया सिने वर्कर्स एसोसिएशन ने पाकिस्तानी कलाकारों को भारत में पूरी तरह बैन करते हुए कहा है कि अगर कोई भी संगठन पाकिस्तानी एक्टर्स के साथ काम करता है, तो उसके खिलाफ सख्त एक्शन लिया जायेगा. इधर, भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) और दो सदस्यीय प्रशासकों की समिति (COA) भारत और पाकिस्तान के बीच क्रिकेट खेलने को लेकर आज 22 फरवरी को बैठक कर रही है. बैठक में इसी साल इंग्लैंड में होनेवाले वनडे विश्व कप में पाकिस्तान के साथ खेलने या नहीं खेलने पर भी चर्चा किये जाने की उम्मीद है. 

यह भी पढ़ें : मुजफ्फरपुर शेल्टर होम : ब्रजेश ठाकुर की राजदार मधु समेत सात आरोपितों को भेजा गया दिल्ली

दोनों देशों के बीच मैच नहीं होने पर भारत को होगा नुकसान

इस साल होनेवाले विश्वकप मैच का प्रारूप ऐसा है कि हर टीम को हर टीम से ग्रुप स्तर में ही भिड़ना होगा. ऐसे में भारत का सामना पाकिस्तान से होगा. यदि दो ग्रुप होते, तो बदलाव करके पाकिस्तान के खिलाफ मैच को टाला जा सकता था. ऐसे में पाकिस्तान के खिलाफ मैच नहीं खेले जाने पर भारतीय टीम को नुकसान होगा. भारतीय टीम विरोध करते हुए मैच नहीं खेलती है, तो पाकिस्तान को जीता हुआ घोषित करते हुए जीत के अंक मिल जायेंगे. मालूम हो कि भारत, पाकिस्तान और श्रीलंका ने संयुक्त रूप से विश्वकप की मेजबानी की थी. उससमय कुछ टीमों ने सुरक्षा को लेकर श्रीलंका में मैच नहीं खेले थे. उसके बाद श्रीलंका को विजेता टीम को मिलनेवाले अंक दे दिये गये थे. 

यह भी पढ़ें : औरंगाबाद : पैर बांध कर अपराधियों ने अधेड़ की पीट-पीट कर की हत्या

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement