Advertisement

other state

  • Mar 9 2019 4:18PM
Advertisement

कर्नाटक में बोले राहुल, भाजपा सरकार ने मसूद अजहर को किया था रिहा

कर्नाटक में बोले राहुल, भाजपा सरकार ने मसूद अजहर को किया था रिहा

हावेरी (कर्नाटक) : कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देश को बताएं कि वो भाजपा की सरकार थी, जिसने एक भारतीय जेल से जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मसूद अजहर को रिहा किया था.

इसे भी पढ़ें : Jharkhand : बच्चे का मुंडन कराकर बिहार से रांची लौट रहे एक ही परिवार के 10 लोगों की सड़क दुर्घटना में मौत, देखें VIDEO

उत्तरी कर्नाटक में एक रैली को संबोधित करते हुए गांधी ने कहा, ‘मोदी मुझे समझाएं कि किसने मसूद अजहर को भारतीय जेल से पाकिस्तान भेजा.’ जैश-ए-मोहम्मद ने पुलवामा में 14 फरवरी को सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले की जिम्मेदारी ली थी.

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘मोदी के लिए मेरा एक छोटा-सा सवाल है. सीआरपीएफ जवानों को किसने मारा? जैश-ए-मोहम्मद के प्रमुख का नाम क्या है? उसका नाम मसूद अजहर है.’

इसे भी पढ़ें : Ranchi : राजद संसदीय दल की बैठक से पहले लालू से मिले शरद यादव

उन्होंने कहा कि 1999 में भाजपा की सरकार थी, जिसने उसे भारतीय जेल से अफगानिस्तान के कांधार के रास्ते पाकिस्तान भेजा था. उन्होंने कहा, ‘आप इसके बारे में क्यों नहीं बोल रहे. आप क्यों नहीं कह रहे कि जिस व्यक्ति ने सीआरपीएफ जवानों को मारा, उसे भाजपा ने पाकिस्तान भेजा था. मोदीजी हम आपकी तरह नहीं हैं. हम आतंक के सामने नहीं झुकते हैं. भारत के लोगों के सामने स्पष्ट कीजिए कि किसने मसूद अजहर को भेजा.’

वाजपेयी सरकार के दौरान 1999 में इंडियन एयरलाइंस के अपहृत विमान आईसी-814 के बंधक यात्रियों के बदले अजहर को रिहा किया गया था. गांधी ने यह भी आरोप लगाया कि जब मोदी भ्रष्टाचार की बात करते हैं, तो पूरा देश जानता है कि वह भ्रष्ट हैं.

इसे भी पढ़ें : लोकसभा चुनाव से पहले कोलकाता में 1000 किलो विस्फोटक के साथ ओड़िशा के दो लोग गिरफ्तार

उन्होंने कहा कि कर्नाटक में कांग्रेस और जद(एस) का सत्ताधारी गठबंधन मिलकर लोकसभा चुनाव लड़ेगा और इसे जीतेगा. गांधी ने मोदी पर देश के लोगों को पिछले पांच सालों से ‘मेक इन इंडिया, स्टैंड अप इंडिया और सिट डाउन इंडिया’ जैसे कार्यक्रमों के नाम पर ‘बेवकूफ’ बनाने का भी आरोप लगाया.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement