1. home Hindi News
  2. national
  3. ukraine russia war indian student harjot singh returned home today injured after shot in kyiv smb

Ukraine Russia War: यूक्रेन के कीव में घायल भारतीय छात्र हरजोत सिंह की हुई वतन वापसी, अस्पताल में भर्ती

युद्धग्रस्त यूक्रेन की राजधानी कीव में कुछ दिन पहले गोली लगने से घायल हुए भारतीय छात्र हरजोत सिंह की वतन वापसी हो गई है. स्वदेश वापसी के साथ ही हरजोत सिंह को दिल्ली स्थित आरआर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किया गया है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
कीव में घायल भारतीय छात्र हरजोत सिंह पहुंचे दिल्ली
कीव में घायल भारतीय छात्र हरजोत सिंह पहुंचे दिल्ली
ट्वीटर

Ukraine Russia War News युद्धग्रस्त यूक्रेन की राजधानी कीव में कुछ दिन पहले गोली लगने से घायल हुए भारतीय छात्र हरजोत सिंह की वतन वापसी हो गई है. स्वदेश वापसी के साथ ही हरजोत सिंह को दिल्ली स्थित आरआर अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती किया गया है. न्यूज एजेंसी एएनआई ने इसकी जानकारी दी है. बता दें कि हरजोत सिंह को कीव में युद्ध के दौरान गोली लगी थी और उसका पासपोर्ट भी खो गया था.

वायुसेना के विमान से पहुंचे हिंडन पहुंचे 205 भारतीय छात्र

भारतीय छात्र हरजोत सिंह को लेकर भारतीय वायुसेना का एक विमान सोमवार शाम को हिंडन वायुसैनिक अड्डे पर उतरा. नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री वीके सिंह ने कहा कि 205 भारतीय छात्र उस विमान से भारत लौटे जो पोलैंड के रेजजो से सुबह 10.30 बजे रवाना हुआ और शाम सवा छह बजे यहां उतरा. भारतीय छात्रों की वापसी में मदद के लिये वी के सिंह पोलैंड में थे. नागरिक उड्डयन राज्य मंत्री वीके सिंह ने ट्वीट कर कहा कि मुझे आपको यह बताते हुए खुशी हो रही है कि हम हिंडन वायुसैनिक अड्डे पर उतरे हैं. सभी 205 भारतीय छात्र सुरक्षित और स्वस्थ वापस आ गए हैं. हरजोत को सेना अस्पताल (आरएंडआर) में स्थानांतरित किया जा रहा है. मैं हमारी देखभाल करने के लिए चालक दल को धन्यवाद देता हूं.

हरजोत सिंह की हालत स्थिर

वहीं, हवाईअड्डे पर संवाददाताओं से बात करते हुए मंत्री वीके सिंह ने कहा कि यूक्रेन में भारतीय दूतावास ने हरजोत को भेजा है और उसकी हालत स्थिर है. उन्होंने कहा कि उसे इलाज के लिये सैन्य अस्पताल भेजा गया, क्योंकि कोई भी गोलियों के घाव के उपचार में सेना से बेहतर नहीं है. बता दें कि रूस के आक्रमण के बाद से यूक्रेन का वायु क्षेत्र 24 फरवरी से ही बंद है. युद्ध ग्रस्त देश में फंसे भारतीयों को रोमानिया, हंगरी, स्लोवाकिया और पोलैंड जैसे यूक्रेन के पड़ोसी देशों के रास्ते विमान से स्वदेश लाया जा रहा है. 31 वर्षीय हरजोत सिंह कीव से निकलने की कोशिश के तहत 27 फरवरी को अपने दो दोस्तों के साथ पश्चिमी लवीव शहर के लिए एक कैब में सवार हुआ था. इस दौरान उसे सीने समेत चार गोलियां लगी थीं.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें