1. home Hindi News
  2. national
  3. cyclone yaas tracker weather forecast 25 and 26 may bihar jharkhand delhi bengal up odisha mp other state weather rain thunder and lightning imd alert barish tufan aaya amh

Cyclone Yaas Tracker : अम्फान से ज्यादा तबाही मचाएगा चक्रवाती तूफान यास, बंगाल के ये 20 जिले होंगे प्रभावित, झारखंड-यूपी-बिहार में बारिश, ओडिशा अलर्ट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Cyclone Yaas Tracker
Cyclone Yaas Tracker
pti
  • 26 मई को ओडिशा के बालासोर के पास दस्‍तक देगा यास

  • बंगाल ने चक्रवात यास से निपटने के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किए

  • यास तेज चक्रवाती हवा के साथ 27 मई को बिहार में दस्तक दे सकता है़

Cyclone Yaas : यास गंभीर चक्रवाती तूफान (Yaas Tufan) में बदल चुका है. यह 26 मई को ओडिशा के बालासोर के पास दस्‍तक देगा. इस तूफान का असर झारखंड-बिहार-यूपी सहित कई राज्यों में देखने को मिलेगा. बंगाल में ये ज्यादा तांडव मचा सकता है. मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि राज्य सरकार ने चक्रवात यास से निपटने के लिए सभी आवश्यक प्रबंध किए हैं, जो राज्य के 20 जिलों को प्रभावित कर सकता है.

बिहार में यास का प्रभाव : यास चक्रवाती तूफान अब स्टोर्म में तब्दील हो चुका है़ सुपर सायक्लोन यास तेज चक्रवाती हवा के साथ 27 मई को बिहार में दस्तक दे सकता है़ 30 मई तक पूरे बिहार में मध्यम से भारी बारिश, मेघ गर्जन, ठनका गिरने के आसार हैं. आपदा विभाग और आइएमडी पटना ने राज्य के लोगों और सरकारी मशीनरी को सतर्क कर दिया है़.

यूपी के 27 जिलों में बारिश का अलर्ट : मौसम विभाग की ओर से उत्‍तर प्रदेश के भी करीब 27 जिलों में बारिश का अलर्ट जारी करने का काम किया गया है. आईएमडी के अनुसार इन 27 जिलों में 28 मई तक तूफान के कारण बारिश की चेतावनी दी गई है. इन जिलों के नाम क्रमश: आजमगढ़, मऊ, गाजीपुर, बलिया, देवरिया, संत कबीर नगर, महराजगंज ,मुरादाबाद, बिजनौर, अमरोहा, संभल, बदायूं, कासगंज, बहराइच, बाराबंकी, गोंडा, श्रावस्ती, बलरामपुर, सिद्धार्थनगर, बस्ती, अयोध्या, अमेठी, सुल्तानपुर, जौनपुर, आंबेडकरनगर, और कुशीनगर हैं.

बंगाल में यास का प्रभाव : बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि राज्य किसी भी नुकसान से बचने के लिए कम से कम 10 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर स्थानांतरित करने का लक्ष्य बना रहा है. अभी तक हमें जो जानकारी मिली है उसके अनुसार चक्रवात यास का प्रभाव अम्फान से कहीं अधिक होने वाला है. यह पश्चिम बंगाल के कम से कम 20 जिलों को प्रभावित करने वाला है. कोलकाता, उत्तर और दक्षिण 24 परगना तथा पूर्व मेदिनीपुर जिले गंभीर रूप से प्रभावित होंगे. हावड़ा, हुगली, बांकुरा, बीरभूम, नदिया, पश्चिम और पूर्व बर्धमान, पश्चिम मेदिनीपुर, मुर्शिदाबाद, झारग्राम, पुरुलिया जिले भी चक्रवात से प्रभावित होंगे। बनर्जी ने कहा कि मालदा, उत्तर और दक्षिण दिनाजपुर, दार्जिलिंग और कलिम्पोंग में बारिश की आशंका है.

उत्‍तर प्रदेश, झारखंड, बिहार समेत कई राज्‍यों में बारिश का अलर्ट : यास तूफान (Yaas Cyclone) की भयावहता को देखते हुए राज्‍यों को अलर्ट पर रखा गया है. भारत मौसम विज्ञान विभाग (IMD) का कहना है कि यह यास गंभीर चक्रवाती तूफान में बदल चुका है जो 26 मई को ओडिशा के बालासोर के पास दस्‍तक देगा. 26 मई को इसकी तीव्रता और बढ़ने के आसार हैं. इस तूफान का असर अभी से नजर आने लगा है. इसे लेकर मौसम विभाग ने उत्‍तर प्रदेश, झारखंड, बिहार समेत कई राज्‍यों के अधिकांश जिलों के लिए बारिश का अलर्ट भी जारी किया है.

झारखंड में होगी बारिश : मौसम विभाग ने पूर्वानुमान किया है कि बंगाल की खाड़ी में बन रहे निम्न दबाव और साइक्लोन का असर 25 मई को झारखंड में दिखने लगेगा. 25 मई को आकाश में बादल छाये रहेंगे और हल्की हवा चल सकती है. 26 और 27 मई को इसके ज्यादा असरदार होने का अनुमान है. सभी जिलों में भारी बारिश हो सकती है. विभाग के अनुसार 25 मई को राज्य के दक्षिणी-पूर्वी भाग ( कोल्हान) में कहीं-कहीं भारी बारिश हो सकती है. इस दौरान हवा की गति 40 से 50 किलोमीटर प्रति घंटे हो सकती है. 26 मई को राज्य के सभी जिलों मे हल्के से मध्यम दर्जे की बारिश होगी. दक्षिणी भाग में भारी बारिश हो सकती है. 27 मई को भी पूरे राज्य में बहुत भारी बारिश होने का अनुमान है.

ओडिशा पूरी तरह तैयार है : ओडिशा के मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने केंद्र सरकार को सूचित किया कि राज्य भीषण चक्रवाती तूफान ‘यास' से निपटने के लिए तैयार है, जो 26 मई को बालासोर के निकट दस्तक दे सकता है. मुख्यमंत्री ने कहाकि हम पूरी तरह तैयार हैं और हमारे अधिकारी केंद्र सरकार के अधिकारियों के संपर्क में हैं. जरूरतों को लेकर हम केंद्र को सूचित करेंगे. ओडिशा सरकार ने निचले इलाकों और बालासोर, भद्रक, केंद्रपाड़ा तथा जगतसिंहपुर जिलों से करीब एक लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों तक पहुंचाया है. इन जिलों में चक्रवात का खतरा ज्यादा है.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें