1. home Home
  2. national
  3. corona new disease 14 patients detected in sir ganga ram hospital

कोरोना से ठीक हुए तो लीवर में हुआ पस, 14 मरीजों में एक की मौत

अस्पताल में एक के बाद एक 14 मरीजों की संख्या ने इसे लेकर चिंता बढ़ा दी है. कोरोना संक्रमण को मात दे चुके ये लोग इस तरह की गंभीर बीमारी का शिकार हुए हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
corona new disease
corona new disease
file

आपने भले ही कोरोना संक्रमण को मात दे दी हो लेकिन खतरा अबतक पूरी तरह टला नहीं है. दिल्ली के सर गंगाराम अस्पताल में कोविड को मात दे चुके कई ऐसे लोग सामने आ रहे हैं जिन्हें कई तरह की परेशानियां अब भी है इनमें से 14 लोगों ऐसे हैं जिनके लीवर में फोड़ा और पस होने की शिकायत देखी जा रही है.

शुरुआत में इस मामले को सामान्य मामले की तरह ही देखा गया लेकिन अस्पताल में एक के बाद एक 14 मरीजों की संख्या ने इसे लेकर चिंता बढ़ा दी है. कोरोना संक्रमण को मात दे चुके ये लोग इस तरह की गंभीर बीमारी का शिकार हुए हैं.

पिछले 2 महीनों में मरीजों की संख्या बढ़ी है. डॉक्टरों ने इस संबंध में जानकारी दी है कि लीवर में पस भरना या फोड़ा होना आमतौर पर 'एंड अमीबा हिस्टोलिटिका' नाम के वैक्टीरिया की वजह से होता है.

कोरोना संक्रमण को मात दे चुके लोगों में यह बीमारी देखी जा रही है इनके जांच में पाया गया है कि मरीजों के लीवर के दोनों हिस्सों में बहुत ज्यादा मवाद भरा हुआ है. डॉक्टर ने बताया कि 28 से 74 वर्ष की आयु वर्ग के 14 मरीज पाये गये .

जिसमें से 10 पुरुष और 4 महिलाएं शामिल हैं. 3 मरीजों को मल में खून मिला जिसमें उनकी आत में में अल्सर पाया गया है. इनमें से एक मरीज की ऑपरेशन के दौरान मौत की खबर है जबकि 13 मरीजों की हालत स्थिर है.

कोरोना संक्रमण को मात दे चुके इन लोगों में इस बीमारी की वजह स्टेरॉयड का उपयोग माना जाता है. लीवर में मवाद और फोड़े होना, खराब स्वच्छता के कारण भी होता है. इस बीमारी के लक्षण खार पेट के ऊपरी हिस्से में दर्द होना जैसे लक्षण है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें