1. home Home
  2. national
  3. afghanistan america air strikes 31 august deadline to leave afghanistan spokesperson statement pkj

31 अगस्त के बाद भी क्या अफगानिस्तान से बाहर निकल सकेंगे लोग ? तालिबान के प्रवक्ता ने दिया है जवाब

अफगानिस्तान के उप राष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह पर प्रोपेगेंडा फैलाने का आरोप लगा रहे हैं . तालिबान प्रवक्ता ने कहा, वे अफगानिस्तान के खिलाफ प्रोपेगेंडाचला रहे हैं. हमारेदुनिया के शक्तिशाली देशों के साथ अच्छे रिश्ते हैं. हम उन रिश्तों को और मजबूत करने की दिशा में काम कर रहे हैं.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जबीउल्लाह मुजाहिद
जबीउल्लाह मुजाहिद
फाइल फोटो

तालिबान ने अमेरिकी सेना को 31 अगस्त तक का वक्त दिया है. वो अफगानिस्तान से बाहर निकल जायें. अब भी अफगानिस्तान में हजारों लोग ऐसे हैं जो देश छोड़कर जाना चाहते हैं. ऐसे में क्या तालिबान और अमेरिकी सैनिकोें के बीच की तकरार बढ़ सकती है. अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने यह स्पष्ट कर दिया था कि वह लोगों की मदद कर रहे हैं.

एक तरफ अमेरिकी सेना को 31 अगस्त से पहल अफगानिस्तान से निकलने को कहा गया है, तो दूसरी तरफ तालिबान के प्रवक्ता जबीउल्लाह मुजाहिद ने भरोसा दिया कि लोगों को देश के बाहर जाने की इजाजत होगी. उस पर किसी ने रोक नहीं लगायी है और ना ही रोक लगाने पर कोई विचार चल रहा है. एक टीवी न्यूज चैनल के साथ बातचीत में जबीउल्लाह मुजाहिद ने कहा, हमने ये नहीं कहा है कि हम 31 अगस्त के बाद किसी को देश से बाहर नहीं जाने देंगे.

अफगानिस्तान के उप राष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह पर प्रोपेगेंडा फैलाने का आरोप लगा रहे हैं . तालिबान प्रवक्ता ने कहा, वे अफगानिस्तान के खिलाफ प्रोपेगेंडाचला रहे हैं. हमारेदुनिया के शक्तिशाली देशों के साथ अच्छे रिश्ते हैं. हम उन रिश्तों को और मजबूत करने की दिशा में काम कर रहे हैं.

अफगानिस्तान में दुनियाभर के कई देशों के नागरिक फंसे हैं. सभी देश अपने - अपने नागरिकों की सुरक्षित वापसी की कोशिश कर रहे हैं. तालिबान ने पहले स्पष्ट तौर पर कहा है कि 31 अगस्त तक अमेरिका के सैनिक देश छोड़कर चले जायें तो बेहतर है.अमेरिका पूरी रफ्तार के साथ काम कर रहा है और जल्द से जल्द अपने सभी सैनिकों को वापस बुलाने की रणनीति के तहत काम कर रहा है.

काबूल एयरपोर्ट पर हुए बम धमाके में अमेरिकी सैनिकों की भी जान चली गयी. ऐसे में अमेरिका अब अफगानिस्तान में ऐसे लोगों की तलाश में जुटा है जो इस हमले में किसी भी तरह से शामिल थे. कई जगहों पर अमेरिका ने एयरस्ट्राइक की है. दूसरी तरफ आतंकी भी बढ़े हमने की रणनीति बना रहे हैं. इसे लेकर सुरक्षा विभागों ने अलर्ट जारी कर दिया है. तालिबान चाहती है जल्द से जल्द अमेरिका यहां से निकले ताकि पूरे इलाके पर अपना कब्जा जमा सके.

व्हाइट हाउस की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक अमेरिका ने बीते 24 घंटे मेंलगभग 2 हजार लोगों को काबुल एयरपोर्ट से निकाला है. 11 अमेरिकी सैन्य उड़ानों और सहयोगी देशों की सात उड़ानों से लगभग 2000 लोगों को काबुल से सुरक्षित निकाला गया.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें