2022 में भारत में होगी इंटरपोल की सबसे बड़ी कॉन्फ्रेंस, जुटेंगे 194 देश

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

नयी दिल्ली : भारत 91वीं इंटरपोल महासभा का साल 2022 में आयोजन करेगा. यह आयोजन देश की आजादी के 75वें वर्ष के साथ होगा. अधिकारियों ने बताया कि इस प्रस्ताव पर शुक्रवार को चिली में हुई इस साल महासभा की बैठक में सदस्य देशों को ‘‘जबरदस्त समर्थन'' मिला.

सीबीआई प्रवक्ता नितिन वाकणकर ने कहा कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अगस्त में इंटरपोल के महासचिव जर्गन स्टॉक के साथ अगस्त में यहां मुलाकात के दौरान इस संबंध में एक प्रस्ताव दिया था. भारत में इंटरपोल का प्रतिनिधित्व करने वाली सीबीआई के निदेशक ऋषि कुमार शुक्ला ने सैंटियागो, चिली में 88वीं महासभा में शुक्रवार को प्रस्ताव पेश किया. इसके बाद इस पर मतदान हुआ.

वाकणकर ने बताया कि भारत के प्रस्ताव के समर्थन में ‘‘शानदार बहुमत'' मिला. इंटरपोल (अंतरराष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन) एक अंतर सरकारी संगठन है जिसमें भारत समेत 194 सदस्य देश हैं. इंटरपोल का मुख्यालय फ्रांस में और इसकी स्थापना अंतरराष्ट्रीय आपराधिक पुलिस संगठन के तौर पर 1923 में हुई थी और इसने 1956 में अपने आप को इंटरपोल कहना शुरू कर दिया.

सबसे पुराने सदस्यों में शुमार भारत 1949 में इस संगठन में शामिल हुआ था. भारत ने अब तक केवल एक बार 1997 में इंटरपोल महासभा का आयोजन किया था. इस साल महासभा का आयोजन चिली में हुआ.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें