New Traffic Rules: 15000 की स्कूटी, चालान कटा 23000 रुपये का

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन करना कितना भारी पड़ सकता है, इसका एक ताजा उदाहरण राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली से सामने आया है. दरअसल, गुरुग्राम में सोमवार को स्कूटी सवार दिनेश मदान को बिना हेलमेट पहने हुए पाये जाने पर ट्रैफिक पुलिस कर्मियों ने पकड़ लिया.

दस्तावेज मांगे जाने पर उनके पास स्कूटी का रजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट, बीमा, प्रदूषण के कागजात और ड्राइविंग लाइसेंस में से कुछ नहीं मिला. इस पर यातायात पुलिस ने नये नियमों के तहत 23 हजार रुपये का चालान काट दिया.

नये नियमों के अनुसार, बिना लाइसेंस और आरसी नहीं होने के पांच-पांच हजार रुपये, वाहन बीमा नहीं होने का दो हजार और प्रदूषण प्रमाणपत्र नहीं होने का 10 हजार रुपये का चालान किया गया है. बिना हेलमेट का चालान एक हजार रुपये का है और इस तरह कुल 23 हजार रुपये का चालान हुआ है.

New Traffic Rules: 15000 की स्कूटी, चालान कटा 23000 रुपये का

चालान दो सितंबर को दोपहर बाद 12 बजकर 55 मिनट पर हुआ है. चालान कटने का स्थान गुरुग्राम की जिला अदालत की विपरीत दिशा में है. दिनेश का अदालत के लिए चालान हुआ है और उन्होंने इसे जमा नहीं किया है.

मीडिया रिपोर्ट्स की मानें, तो पूर्वी दिल्ली के गीता कॉलोनी में रहने वाले दिनेश दिल्ली से सटे गुरुग्राम गये थे. वहां उनका चालान कट गया. दिनेश का कहना है कि उनकी स्कूटी की मौजूदा कीमत ही कुल 15 हजार है. ऐसे में वह चालान नहीं भरेंगे.

अपनी सफाई में उन्होंने कहा कि वह घर से कागजात मंगा ही रहे थे, लेकिन पुलिसवालों ने चालान काट दिया. यही नहीं, चालान की राशि न देने पर पुलिस ने स्कूटी जब्त कर ली.

अब 23 हजार के जुर्माने के बोझ से दबे दिनेश मदान चाहते हैं कि उन्हें जुर्माने में छूट दी जाए. वे यह भी कहते हैं कि अब वे हमेशा अपने दस्तावेज साथ लेकर चलेंगे.

यहां यह जानना जरूरी है कि मोटर व्हीकल एक्ट 2019 (Motor Vehicles (Amendment) Bill, 2019) 1 सितम्बर से लागू हुआ है. इसमें चालान की रकम को इतना बढ़ा दिया गया है कि अगर आप गलती से एक बार यातायात के नियमों का उल्लंघन करते पकड़े गए, तो उस पर कटे चालान की याद आपको अगली बार गलती करने से पहले हजार बार रोकेगी. हम आपको बता रहे हैं किस नियम के उल्लंघन पर चालान की रकम कितनी बढ़ायी गई है.

हेलमेट न पहनने पर 500 से 1500 रुपये तक का चालान
बिना हेलमेट पहने दोपहिया वाहन चलाने पर जुर्माना पहले 100 से 300 रुपये था, जिसे अब बढ़ाकर 500 से 1500 रुपये कर दिया गया है. ट्रिपल राइडिंग पर जुर्माना 100 से बढ़ाकर 500 रुपये करदिया गया है. पॉल्यूशन सर्टिफिकेट को लेकर पहले 100 रुपये जुर्माना था, जिसे अब 500 रुपये कर दिया गया है.

ओवर स्पीडिंग पर 1000 से 5000 रुपये तक का चालान
ओवर स्पीडिंग पर पहले 400 रुपये का चालान काटा जाता था, जो अब 1000 से 2000 रुपये कर दिया गया है. वहीं, डेंजरस ड्राइविंग पर पहले 1000 रुपये का जुर्माना था, जो अब 1000 से 5000 तक कर दिया गया है. गाड़ी चलाते समय मोबाइल फोन का इस्तेमाल करने पर पहले जुर्माना 1000 रुपये था, जिसे अब 1000 रुपये से 5000 रुपये तक कर दिया गया है.

रॉन्ग साइड में वाहन चलाने पर 5000 तक जुर्माना
गलत दिशा में गाड़ी चलाने पर पहले 1100 रुपये का फंड था, जो अब बढ़ाकर 5000 तक कर दिया गया है. शराब पीकर गाड़ी चलाने पर पहले जुर्माना 2000 रुपये था, जो अब 10 हजार रुपये कर दिया गया है. रेड लाइट जम्प करने पर पहले जुर्माना पहले 100 रुपये था, जो अब पहली बार पकड़े जाने पर 1000 से 5000 रुपये, दूसरी बार पकड़े जाने पर 2000 से 10 हजार रुपये कर दिया गया है.

इमरजेंसी वाहनों को रास्ता न देनापड़ेगा भारी
मोटर व्हीकल एक्ट में एक नया चालान शामिल किया गया है, जिसमें इमरजेंसी वाहनों को रास्ता न देने पर 10 हजार जुर्माना है. इमरजेंसी वाहनों में एम्बुलेंस, फायर ब्रिगेड और दूसरे इमरजेंसी वाहन शामिल है. सीट बेल्ट न लगाने पर पहले जुर्माना 100 रुपये था, जो अब एक हजार रुपये कर दिया गया है.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें