26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

World Health Day : बच्चे पढ़ाई-लिखाई के साथ-साथ अपनी सेहत का भी जरूर रखें ध्यान

हर वर्ष 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है. बच्चों से जुड़ी कई बातें हैं, जिनकी अनदेखी करना भारी पड़ सकता है. जानें कैसे हेल्दी आदतें अपनाकर बच्चे सेहतमंद रह सकते हैं.

World Health Day : ‘जान है तो जहान है’, ‘तंदरुस्ती हजार नियामत’, ‘हेल्थ इज वेल्थ’ जैसे कोट्स आपने जरूर सुने होंगे. इन्हें इस्तेमाल करते हुए स्कूल में निबंध भी लिखे होंगे. आपके पैरेंट्स भी आपको अक्सर स्वच्छता का ध्यान रखने व घर का खाना खाने के लिए कहते होंगे. ऐसी ही कई आदतें हैं, जिनका ध्यान रखकर आप फिट और हेल्दी बने रह सकते हैं.

सोने-जागने का बनाओ एक रूटीन

बच्चो, आपने सुना भी होगा ‘अर्ली टू बेड एंड अर्ली टू राइज, मेक्स अ मैन हेल्दी, वेल्दी एंड वाइज’. यानी जो जल्दी सोता है व सबेरे जागता है, वह स्वस्थ, सशक्त और समझदार होते हैं. कुछ भी हो आपको रात को 10.30 बजे तक सो जाना चाहिए और सुबह 6 से 6.30 बजे तक जरूर जाग जाना चाहिए. 7-8 घंटे की गहरी नींद आपको दिन भर सक्रिय बनाये रखेगी. डेली रूटीन में अपना खाना खाने का टाइम भी जरूर तय करो. खासकर, डिनर सोने से कम-से-कम 2 घंटे पहले जरूर कर लो, ताकि पाचन आसानी से हो जाये और कोई परेशानी न हो.

फल व हरी सब्जियों से बढ़ाओ दोस्ती

खाने में दाल-सब्जी, रोटी, सलाद आदि से आप बचते होगे. मम्मी चाहे कुछ भी कह ले, सब्जी-दाल न खाने के सौ बहाने होते होंगे आपके पास. पसंदीदा फल न हो तो वह भी किनारे कर देते होगे. इनकी जगह अगर पिज्जा, बर्गर, पास्ता जैसे फास्ट फूड व चॉकलेट तुम पलक झपकते ही चट कर लेते होगे, लेकिन सेहत के लिए ये नुकसानदायक हैं. तुम्हें फल-सब्जियों व विभिन्न दालों से दोस्ती बढ़ानी चाहिए.

रात को सोने से पहले जरूर करें ब्रश

अगर आप मोतियों जैसे चमकते दांत पाना चाहते हो, तो अभी से आपको अपनी ओरल हाइजीन की आदतों पर ध्यान देना होगा. डेंटिस्ट अंकल दांतों की सफाई के लिए 2-2-2 का फॉर्मूला फॉलो करने के लिए कहते हैं. यानी दिन में 2 बार कम-से-कम 2 मिनट तक ब्रश करो और पूरे साल में 2 बार अपने दांत जरूर चेक कराओ. कुछ भी खाने के बाद अच्छी तरह कुल्ला जरूर करो. सबसे जरूरी है कि रात को सोने जाने से पहले ब्रश करने की आदत जरूर डालो.

अपनी आंखों का भी रखें ध्यान

आंखों को दुनिया देखने की खिड़की कहा जाता है, लेकिन लापरवाही से इन्हें खो भी सकते हैं. कंप्यूटर, मोबाइल या टीवी की स्क्रीन की ब्राइटनेस व कंट्रास्ट को एडजेस्ट करके रखो. पढ़ने के लिए आप स्टडी टेबल से दोस्ती कर लो. इस बात का ध्यान रखें कि कमरे में व स्टडी टेबल पर रोशनी की उचित व्यवस्था हो. लगातार पढ़ने/स्क्रीन देखने के बजाय 20 मिनट के बाद एक छोटा-सा 20 सेकेंड का ब्रेक जरूर लो.

पढ़ने और खेलने का तय हो समय

स्वस्थ रहने के लिए सबसे जरूरी है कि अपने पढ़ने व खेलने का टाइम सेट करो. भले ही आपके ऊपर पढ़ाई व परीक्षा का प्रेशर हो, हर दिन कम-से-कम एक घंटा जरूर खेलो. इसमें भी इंडोर गेम्स की जगह शाम के समय आउटडोर गेम्स को प्रेफ्रेंस देना ज्यादा अच्छा होता है. देखना इससे आपको दोस्ती का दायरा कितना बढ़ेगा, जिससे आपके व्यक्तित्व का विकास भी होगा और आपका आत्मविश्वास भी बढ़ेगा. इनसे तुम शारीरिक रूप से भी मजबूत बनोगे.

खाने से पहले हाथ धोना जरूरी

अपने हाथ नियमित रूप से धोने की आदत डालें. खासकर खाने से पहले हाथ धोने की आदत जरूर डालनी चाहिए, क्योंकि हाथ में छिपे बैक्टीरिया खाते समय मुंह से शरीर में चले जाते हैं और बीमार करते हैं. छींक-खांसी होने पर नाक-मुंह साफ करने, गार्डनिंग करने, टॉयलेट के बाद, बाहर से आने के बाद हाथों को 40 सेकेंड के लिए साबुन लगाकर रगड़-रगड़ कर साफ करो. इसके साथ ही हाथ धोने के बाद साफ तौलिये से पौंछना भी जरूरी है.

शारीरिक स्वच्छता का भी रखें ध्यान

पर्सनल हाइजीन में किसी भी तरह की ढील बरतने का असर सेहत पर पड़ता है. चाहे गर्मी हो या सर्दी, रोज नहाना और साफ-सुथरे कपड़े पहनना चाहिए. इससे ताजगी का अहसास भी होता है. गर्मियों में तो दिन में दो बार नहाना फायदेमंद है. घर, स्कूल, प्लेग्राउंड या बाहर पर्यावरण में मौजूद धूल-मिट्टी के कण और जर्म्स हमारे कपड़ों पर चिपक जाते हैं, जो शरीर की गर्मी से विकसित होकर कई बीमारियों का कारण बनते हैं.

Also Read : Spine Health : गलत पॉस्चर में गैजेट्स के लगातार इस्तेमाल से हो सकती हैं रीढ़ की हड्डी से जुड़ी ये समस्याएं

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें