1. home Hindi News
  2. entertainment
  3. singer dhavni bhanushali exclusive interview says like bollywood stars music artists should also have popularity dhvani bhanushali live concert latest song div

EXCLUSIVE: बॉलीवुड स्टार्स की तरह म्यूजिक आर्टिस्ट की भी पॉपुलैरिटी होनी चाहिए- ध्वनि भानुशाली

By उर्मिला कोरी
Updated Date
Dhavni Bhanushali Interview
Dhavni Bhanushali Interview
instagram

Dhavni Bhanushali Interview: भारत की युवा पॉप सेंसेशन ध्वनि भानुशाली (Dhavni Bhanushali) बीते दो साल में म्यूजिक इंडस्ट्री का लोकप्रिय चेहरा और नाम बन चुकी हैं. इन दिनों अपने लाइव कॉन्सर्ट को लेकर सुर्खियों में हैं. उनके इस लाइव कॉन्सर्ट, म्यूजिक और सपनों पर उर्मिला कोरी से हुई खास बातचीत...

आगामी 10 जनवरी को आपका लाइव कॉन्सर्ट है,लॉकडाउन के बाद ये पहला लाइव कॉन्सर्ट है. कितनी उत्साहित हैं?

बहुत उत्साहित हूं. ऐसा पहली बार हमारे देश में हो रहा है जब कोई म्यूजिक कॉन्सर्ट थिएटर में हो रहा है. मुम्बई के पीवीआर में मेरा बेस लोकेशन है. मैं वहां परफॉर्म करूंगी, लेकिन आप मुझे लाइव 10 दूसरे शहरों के पीवीआर थिएटर में देख सकते हैं. यह काफी कूल कांसेप्ट है. मैं चाहती हूं कि ज़्यादा से ज़्यादा लोग इस कॉन्सर्ट से जुड़े.

थिएटर में म्यूजिक कॉन्सर्ट इसके पीछे का मकसद क्या है?

ये कॉन्सर्ट के पीछे का मकसद यही है कि लोग थिएटर में जाए डरें नहीं. मैं खुद आर्टिस्ट होकर थिएटर जा रही हूं तो आप क्यों नहीं. हम मॉल जा रहे हैं तो फिल्में देखने के लिए थिएटर में जाने में क्या दिक्कत है. थिएटर वाले पूरी तरह से सुरक्षा गाइडलाइन्स का पालन कर रहे हैं.

आप लाइव कॉन्सर्ट्स के दौरान दर्शकों से जुड़तीं हैं?

मुझे अपने कॉन्सर्ट्स के दौरान दर्शकों से जुड़ना बहुत पसंद है. मैंने इतने महीनों से अपने दर्शकों के लिए लाइव परफॉर्म करना बहुत मिस किया है. अब मैं उनके लिए फिर से परफॉर्म करने जा रही हूं तो मैं उनसे जितना हो सके गाने के दौरान बात करने की कोशिश करूँगी.

लॉकडाउन के दौरान आपने खुद को किस तरह से मशरूफ रखा?

हर आम इंसान की तरह मैंने भी खूब सारे गाने सुनें,पिक्चरें देखीं, खूब खाना खाया. खाना बनाया भी. अपने मम्मी पापा और डॉग के साथ समय बिताया. मेरा डॉग मुझसे इतना अटैच हो गया है कि वह मुझे छोड़ता ही नहीं है.

नेपोटिज्म का मुद्दा बीते साल इंडस्ट्री पर बहुत हावी रहा आप भी अछूती नहीं रही?

सबका स्ट्रगल होता है. हम संघर्ष दिखाते नहीं है तो इसका मतलब ये नहीं है कि है नहीं. हमारे मम्मी पापा अगर फेमस हैं तो इसका मतलब ये नहीं कि हम मेहनत नहीं करते हैं. क्या मेरे पिता मेरे गाने गाते हैं या फीचर होते हैं या मेरे कॉन्सर्ट की प्लानिंग करते हैं. उनका इमोशनली सपोर्ट होता है लेकिन सबकुछ मैं ही करती हूं. गाने की सफलता सभी को दिखती है लेकिन उसके पीछे की मेहनत किसी को नहीं.

एक आर्टिस्ट के तौर पर मौजूदा म्यूजिक सिनेरियो को किस तरह से देखती हैं?

हम अच्छा कर रहे हैं. अलग अलग तरह का काम हो रहा है. पॉप ग्रो हो रहा है. इंडिपेंडेंट म्यूजिक और आर्टिस्ट लगातार अपनी छाप छोड़ रहे हैं. अगर ऐसा रहा तो बॉलीवुड म्यूजिक इंडस्ट्री से अलग एक इंडिपेंट म्यूजिक इंडस्ट्री होगी. मुझे लगता है कि जो पॉपुलैरिटी बॉलीवुड स्टार को मिलती है वो म्यूजिक आर्टिस्ट्स को भी मिले.

आपका सपना क्या है?

मुझे पॉप आइकॉन बनना है. अपनी ऑडियंस बनानी है. इंटरनेशनल मंच पर मैं भारत का प्रतिनिधित्व पॉप म्यूजिक में करना चाहती हूं. बस इतनी सी ख्वाइश है. इसके लिए मैं बहुत मेहनत कर रही हूं.

अक्सर कहा जाता है कि सिंगर्स अपनी आवाज़ के लिए ठंडी और खट्टी चीज़ें नहीं खाते हैं?

मैं भी नहीं खाती हूं. मैं ज़्यादातर गर्म ही खाती हूं. मेरी डाइट स्ट्रिक्ट है दाल, चावल,सब्जी,अंडे यही होता है. अचार,दही ये सब से दूर ही रहती हूं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें